Be Positive Be Unitedऑनलाइन वेबिनार किया आयोजन, शिक्षकों को सम्मानित किया गयाDoonited News is Positive News
Breaking News

ऑनलाइन वेबिनार किया आयोजन, शिक्षकों को सम्मानित किया गया

ऑनलाइन वेबिनार किया आयोजन, शिक्षकों को सम्मानित किया गया
Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

हरिद्वार: कोविड संक्रमण के चलते मानव अधिकार संरक्षण समिति, महात्मा विदुर बिजनौरी समाज, भारत विकास परिषद, वैशाली निवेदिता, गाजियाबाद एवं भारत विकास परिषद देवभूमि शाखा, हरिद्वार द्वारा संयुक्त तत्वावधान में  शिक्षक दिवस समारोह ऑनलाइन वेबिनार के माध्यम से आयोजित किया गया। प्रो पूनम बंसल द्वारा सरस्वती वंदना से वेबिनार प्रारम्भ हुया। वेबिनार के माध्यम से विभिन्न संस्थानों के शिक्षक शिक्षिकाओं को सम्मानित किया गया।

केबिनेट मंत्री उत्तराखंड सरकार नरेश बंसल ने कहा कि बच्चे के भविष्य निर्माण में माता-पिता के बाद शिक्षकों का सबसे महत्वपूर्ण योगदान होता है। शिक्षक ही बच्चों को ज्ञानवान, संस्कारवान एवं सदाचारी बनाते हैं। उन्होंने कहा कि नई शिक्षा नीति भारतीय संस्कृति एवं संस्कारों के साथ बच्चों को वैश्विक स्तर पर चुनौतियों का सामना करने के लायक बनायेगी। उन्होंने बताया कि नई शिक्षा नीति में प्रारंभिक बाल्यावस्था देखभाल और शिक्षा पर जोर दिया गया है।



नई शिक्षा नीति का लक्ष्य भारत को एक वैश्विक ज्ञान महाशक्ति बनाना है। गुरुकुल काँगड़ी विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो रूपकिशोर शास्त्री ने मोबाइल पर कार्यक्रम की सराहना की तथा कुलसचिव प्रो दिनेश भट्ट ने कार्यक्रम की सफलता के लिए बधाई दी। मानव अधिकार संरक्षण समिति के राष्ट्रीय अध्यक्ष इंजी० मधुसूदन आर्य ने शिक्षक दिवस पर सभी शिक्षकों को शुभकामनाएँ देते हुये कहा कि शिक्षक दिवस का अपना महत्व होता है इस दिवस पर टीचर का विशेष सम्मान किया जाता हैद्य सत्य, न्याय के पाठ पर चलना शिक्षक हमे बताते है, जीवन संघर्षों से लड़ना शिक्षक हमे सिखाते हैद्य उन्होंने कहा कि कोरोना संकटकाल जैसी चुनौती को भी शिक्षकों ने अवसर में बदला है। इस दौरान प्रत्येक बच्चा बिना स्कूल जाये अपने घर में रहकर नियमित रूप से अध्ययन कर रहा है। प्रत्येक बच्चा ऑनलाइन शिक्षा से जुड़ गया है। ऑनलाइन शिक्षा को अभियान के रूप में बच्चे-बच्चे तक पहुँचाने में शिक्षक की महत्वपूर्ण भूमिका रही है।



मानव अधिकार संरक्षण समिति के राष्ट्रीय संगठन मंत्री नानक चंद गोयल ने अपने उद्बोधन में कहा कि हमे प्रतिभावान शिक्षकों का मार्गदर्शन मिलता रहेगा और इस महान देश के भविष्य का निर्माण करेंगेद्य सभी शिक्षक राष्ट्रीय शिक्षा नीति के अनुरूप बेहतर कार्य करें और बच्चों में राष्ट्रभाषा एवं मातृभाषा तथा संस्कृति के लिये स्वाभिमान की भावना जाग्रत करें। नई शिक्षा नीति में पूर्व प्राथमिक एवं प्राथमिक शिक्षा को मजबूत बनाने पर विशेष जोर दिया गया है, जिससे बच्चे को सही उम्र से ही शिक्षित किया जा सके।



मानव अधिकार संरक्षण समिति की राष्ट्रिय महिला अध्यक्ष प्रो सपना बंसल ने कहा कि शिक्षक कभी साधारण नहीं होता प्रलय और निर्माण उसकी गोद में पलते हैद्य चाणक्य के उक्त वचन से शिक्षक कि असाधारण विशेषता परिलक्षित होते है। शिक्षक दिवस पर शिक्षकों को संबोधित करते हुये कहा कि ज्ञान, जानकारी और स्मृद्धि के वास्तविक धारक शिक्षक ही होते है। एस०एम०जे०एन० (पी०जी०) कालेज के प्राचार्य डॉ सुनील बत्रा ने कहा कि शिक्षक को भाग्यनिर्माता कहा जाता है।

क्योंकि डाक्टर, वैज्ञानिक, इंजीनियर, राजनेता की सफलता के पीछे शिक्षक ही होता है। राष्ट्र के निर्माण में शिक्षक की अहम भूमिका होती है। इसलिए गुरु को ईश्वर से भी श्रेष्ठ कहा गया है। चिन्मय डिग्री पी जी कॉलेज, हरिद्वार के प्रो पी के शर्मा ने संस्था द्वारा किए जा रहे कार्यों कि प्रशंसा कीद्य ब्रिटम प्लानी राजस्थान के प्रो त्रिलोक माथुर एवं प्रो शिवि अग्रवाल ने शिक्षकों के सही अर्थों में राष्ट्र निर्माता और छात्रों का मार्ग दर्शक बतायाद्य  डॉ दीन दयाल ने प्राच्य विद्या संरक्षण न्यास का जिक्र किया, जिसमें वैदिक संस्कृति को बढ़ावा देने के लिए छात्रों को प्रोत्साहित किया जाएगा।



इस वेबिनार में संरक्षक जगदीश लाल पाहवा, सीमा चैहान, अन्नपूर्णा बंधु, एस आर गुप्ता राजीब राय, प्रभात आर्य, एडवोकेट विकास जैन, एडवोकेट विश्वास जैन, बीना अग्रवाल, कमला अग्रवाल, डॉ पंकज कौशिक, हेमन्त सिंह नेगी, रेखा नेगी, नोएडा से रुचिर गुप्ता, प्रिया अग्रवाल, प्रकृति अग्रवाल, उपाध्यक्ष नीरज मित्तल, एडवोकेट शिव कुमार शर्मा, मोनिका जैन, तोष जैन एवं डॉ सुधीर गुप्ता इत्यादि उपस्थित रहे।

शिक्षक दिवस के अवसर पर वेबिनार के माध्यम से मानव अधिकार संरक्षण समिति की तरफ से प्रो रूपकिशोर शास्त्री, कुलपति को भूतपूर्व राष्ट्रपति डॉ सर्वपल्ली राधाकृष्णन सम्मान, प्रो दिनेश भट्ट कुलसचिव को उत्कृष्ट शिक्षक एवं गौरैया सम्मान, डॉ सुनील बत्रा, प्राचार्य, एस एम जे एन को उत्कृष्ट प्राचार्य सम्मान, प्रो त्रिलोक माथुर, बिट्स प्लानी, राजस्थान को उत्कृष्ट शिक्षक सम्मान, प्रो शिवि अग्रवाल को उत्कृष्ट शिक्षक सम्मान, प्रो सपना बंसल, दिल्ली विश्वविद्यालय को उत्कृष्ट शिक्षिका तथा कुशल संचालिका  सम्मान, भारत विकास परिषद देवभूमि शाखा हरिद्वार की तरफ से प्रो मनुदेव बंधु, डॉ दीन दयाल, गुरुकुल काँगड़ी विश्वविद्यालय को उत्कृष्ट शिक्षक सम्मान, डॉ भगवानदास को गुरुकुल काँगड़ी विश्वविद्यालय को उत्कृष्ट शिक्षक एवं ऋषिगर्ग सम्मान, डॉ संदीप वेदालंकार, गुरुकुल काँगड़ी विश्वविद्यालय को उत्कृष्ट शिक्षक एवं योगिराज कृष्णा सम्मान, डॉ अंजु शर्मा सेंट मेरी स्कूल को उत्कृष्ट शिक्षिका एवं शुलभा सम्मान, रत्नेश गौतम को उत्कृष्ट शिक्षिका सम्मान,  महात्मा विदुर बिजनौरी समाज की तरफ से प्रो पी के शर्मा, चिन्मय पी जी कालेज को उत्कृष्ट शिक्षक एवं महात्मा विदुर सम्मान, भारत विकास परिषद वैशाली (निवेदिता) गाजियाबाद की तरफ से प्रो शक्ति सिंह, दिल्ली विश्वविद्यालय को उत्कृष्ट शिक्षक सम्मान एवं प्रो पूनम सिंह योग शिक्षिका को उत्कृष्ट योग शिक्षिका सम्मान से सम्मानित किया गयाद्य राष्ट्रपति द्वारा सम्मानित एकलव्य मॉडल स्कूल कालसी देहारादून की वायस प्रिन्सिपल डॉ सुधा पेन्यूली भी वेबिनार में उपस्थित रही।




Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.

Related posts

%d bloggers like this: