August 04, 2021

Breaking News
COVID 19 ALERT Middle 468×60

नैनीताल: नीति आयोग उपाध्यक्ष राजीव कुमार ने सेब के बागानों का निरीक्षण किया

नैनीताल: नीति आयोग उपाध्यक्ष राजीव कुमार ने  सेब के बागानों का निरीक्षण किया

नैनीताल: नीति आयोग उपाध्यक्ष राजीव कुमार द्वारा  नैनीताल जनपद के धानाचूली, कसियालेख में आधुनिक व सघन सेब के बागानों का निरीक्षण किया। साथ ही स्थानीय किसानों संवाद कर आधुनिक व जैविक सेव की खेती करने की अपील की।निरीक्षण के दौरान श्री कुमार ने बताया कि केंद्र सरकार उत्तराखंड राज्य को प्रगतिशील और संपन्न राज्य बनाने में जुटी है।

आधुनिक तरीके से जैविक खेती

जिसके लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी देश मे पारंपरिक खेती पर जोर दे रहे है। साथ ही आधुनिक तरीके से जैविक खेती करके किसानों की आय दोगुनी करने का प्रयास सरकार द्वारा लगातार किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि राज्य में केमिकल प्लांट ना लगाकर पहाड़ का किसान अगर अपने खेतों में जैविक सघन बागवानी के बारे में विचार करें तो उसकी आमदनी दोगुनी होगी।

नीति आयोग उपाध्यक्ष राजीव कुमार

इसके लिए सरकार अपने स्तर से हर संभव प्रयास कर रही है। नीति आयोग उपाध्यक्ष राजीव कुमार ने बताया कि इस विषय पर वह राज्य के मुख्यमंत्री से भी मुलाकात कर चुके है। यहां संभावित  खेती पर वह रिपोर्ट बनाकर  प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को भी अवगत कराएंगे। क्षेत्र की परिस्थितियों से भी अवगत करवाये।

Read Also  जोगेंदर पुंडीर फाउंडेशन और स्वदेशी तत्व द्वारा पुलिस जवानो को बाटे गए निःशुल्क थ्रोटेक्स स्प्रे

बिना रसायनिक खादों का प्रयोग

कार्यक्रम के अनुसार नीति आयोग उपाध्यक्ष डॉ राजीव कुमार ने पहले धानाचूली, मनाघेर उसके बाद कसियालेख में देवेंद्र सिंह बिष्ट के सेव के बागान में पहुँचे। जहाँ पर उन्होंने किसानों की समस्याओं को भी सुना। उन्होंने कहा सरकार उत्तराखंड राज्य को प्रगतिशील और संपन्न बनाने में जुटे हैं, बिना रसायनिक खादों का प्रयोग करते हुए हमे जैविक खेती पर जोर देना होगा।

उन्होंने कहा कि उत्तराखंड में एग्रो प्रोसेसिंग यूनिट पर जोर दिया जा रहा है। देशभर में जैविक खेती पर जोर दिया जा रहा है। हिमाचल प्रदेश में जैविक सेव की खेती शुरू भी कर दी है। आज उत्तराखंड के किसान को भी आधुनिक परम्परागत खेती की तरफ जाना होगा।

उन्होंने बताया कि प्रधानमंत्री द्वारा मन की बात में कहा गया कि किसानों की आय दोगुनी करने के लिए उन्हें पहाड़ में किसानों को आधुनिक व जैविक खेती पर जोर देना होगा। इसके लिए सरकार भी हर तरह से प्रयास कर रही है। निरीक्षण के दौरान सुधीर चढढा भी मौजूद थे।

Read Also  Padma Vibhushan and Padma Shri Chipko awardee Sundarlal Bahuguna died of COVID19

Related posts

Leave a Reply

Content Protector Developer Fantastic Plugins
%d bloggers like this: