भारत फ्रांस से खरीदेगा हैमर मिसाइलें: Highly Agile Modular Munition Extended RangeDoonited News + Positive News
Breaking News

भारत फ्रांस से खरीदेगा हैमर मिसाइलें: Highly Agile Modular Munition Extended Range

भारत फ्रांस से खरीदेगा हैमर मिसाइलें: Highly Agile Modular Munition Extended Range
Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

राफेल विमानों की मारक क्षमता बढ़ाने के लिए भारत सरकार फ्रांस से हैमर मिसाइलें खरीदने जा रही है. हैमर एक मध्यम श्रेणी का एयर-टू-ग्राउंड मिसाइल है. यह मिसाइल तीन मीटर लंबी और 330 किलो वजनी है. एक राफेल विमान में 6 हैमर मिसाइलें लगाई जा सकती हैं.

हैमर मिसाइल ऊंचे (पहाड़ी) स्थानों पर 60 किलोमीटर की दूरी और कम ऊंचाई वाली जगहों पर 15 किलोमीटर की दूरी तक मार कर सकती है. यह मिसाइल जीपीएस और इंफ्रारेड तकनीक से लैस है. दिन और रात में सभी मौसमों में काम कर सकती है. इसमें वर्टिकल स्ट्राइक क्षमता भी है. मोदी सरकार द्वारा सशस्त्र बलों को दी गईं खरीदारी की आपातकालीन शक्तियों के तहत हैमर मिसाइलों के लिए ऑर्डर दिया गया है.

 रक्षा सूत्रों ने बताया कि इन मिसाइलों का इस्तेमाल राफेल विमानों में लगाया जायेगा. बताया जा रहा है कि दुनिया की सबसे शानदार लड़ाकू विमानों में से एक राफेल की मारक क्षमता हैमर मिसाइलों के साथ और भी घातक हो जायेगी. इनकी मारक क्षमता 60 से 70 किलोमीटर के आसपास है. इतनी दूरी पर यह अपने लक्ष्य को सटीकता के साथ निशाना बना सकता है.

रक्षा सूत्रों ने बताया कि हैमर मिसाइलों के भारतीय बेड़े में शामिल होने के बाद किसी भी बंकर पर निशाना लगाने की क्षमता और ज्यादा बढ़ जायेगी. हैमर (Highly Agile Modular Munition Extended Range) मीडियम रेंज मिसाइल है, जिसे फ्रांस की वायुसेना और नेवी के लिए तैयार किया गया है. ये आसमान से जमीन पर वार करती है. हैमर लद्दाख जैसे पहाड़ी इलाकों में भी मजबूत से मजबूत शेल्टर और बंकरों को तबाह कर सकती है. हैमर से 60 से 70 किलोमीटर रेंज तक किसी भी तरह के टारगेट को तबाह किया जा सकता है.

सरकारी अधिकारियों ने कहा कि फ्रांसीसी अधिकारियों ने कम समय में राफेल लड़ाकू विमानों के लिए हैमर मिसाइलों की आपूर्ति पर सहमति दे दी है. वायु सेना द्वारा इन मिसाइलों की तत्काल जरुरत को ध्यान में रखते हुए फ्रांसीसी अधिकारी मौजूदा स्टॉक से भारत को ये मिसाइल सिस्टम मुहैया कराएंगे, जो उन्होंने अपने कुछ अन्य ग्राहकों के लिए तैयार किए थे.

पांच राफेल 29 जुलाई को आएंगे
बता दें भारत और फ्रांस के बीच 36 राफेल लड़ाकू विमानों की खरीद के समझौते के तहत 29 जुलाई को भारत को पांच राफेल विमान मिलेंगे.

भारत और फ्रांस के बीच 36 राफेल लड़ाकू विमानों की खरीद के समझौते के तहत 29 जुलाई को भारत को पांच राफेल विमान मिलेंगे. भारत ने सितंबर में फ्रांस के साथ साल 2016 में 36 राफेल विमानों की आपूर्ति के लिए 60,000 करोड़ रुपये से अधिक के समझौते पर हस्ताक्षर किए थे.




Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.

Related posts

%d bloggers like this: