नवनिर्मित महिला चिकित्सालय हल्द्वानी के भवन का विधिवत लोकार्पण | Doonited.India

December 11, 2018

Breaking News

नवनिर्मित महिला चिकित्सालय हल्द्वानी के भवन का विधिवत लोकार्पण

नवनिर्मित महिला चिकित्सालय हल्द्वानी के भवन का विधिवत लोकार्पण
Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

मुख्यमंत्री श्री त्रिवेन्द्र सिह रावत एव जनपद प्रभारी मंत्री मदन कौशिक ने संयुक्त रूप से लगभग 7 करोड की लागत से नवनिर्मित महिला चिकित्सालय हल्द्वानी के भवन का विधिवत लोकार्पण किया। इस भवन में बेसमैंट के अलावा चार तल बनाये गये है। भवन में लिफ्ट के साथ ही रैम्प व मिनी ट्यूवैल का भी प्राविधान किया गया है।

इस अवसर पर आयोजित समारोह में सम्बोधित करते हुये मुख्यमंत्री श्री त्रिवेन्द्र सिह रावत ने कहा कि हल्द्वानी महिला चिकित्सालय जो 30 बैड का था उसका उच्चीकरण कर 100 बैड की क्षमता का कर दिया गया है। उन्होने कहा स्वास्थ्य सेवाओं पर सरकार का विशेष फोकस है अभी तक एक हजार डाक्टरों की नियुक्ति कर दी गई है। प्रदेश के चिकित्सालयों में 75 प्रतिशत डाक्टरां की नियुक्तियां की जा चुकी है। उन्हांने कहा प्रदेश के सभी जिला अस्पतालों मे आईसीयू (एसडीयू) जल्द ही बनाने जा रही है। इसके लिए 1 करोड 23 लाख की धनराशि शासन से स्वीकृत कर दी गई है। उन्होंने कहा इससे अस्पतालां में सुविधाये बेहतर होंगी। टेली मेडिसन, टेली रेडियोलॉजी शुरूआत कर दी गई है इसके साथ ही पौढी जिले मे टेली कार्डियोलॉजी की भी शुरूआत कर दी गई है। उन्होंने कहा सुशीला तिवारी अस्पताल हेतु 12 विशेषज्ञ चिकित्सकों की तैनाती कर दी गई है इसके साथ ही हल्द्वानी कैंसर हास्पिटल निर्माण के साथ-साथ 150 पदों की स्वीकृति कर दी गई है। सरकार सुशीला तिवारी अस्पताल मे जल्द ही वर्न यूनिट स्थापित करने जा रही है। श्री त्रिवेन्द्र ने कहा महिला चिकित्सालय में नये बैड जल्द ही लगाये जायेगें।

मुख्यमंत्री ने कहा कि शिक्षा और स्वास्थ हमारे प्रदेश की दो महत्वपूर्ण चुनौतियां है। हमें शिक्षा के साथ ही स्वास्थ सेवाओं मे सुधार के लिए नवीन पहल की है। उन्होने कहा तकनीकी के जरिये आम आदमी की मुश्किलो को आसान करने हेतु राज्य के 43 अस्पतालों में ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन शुरू किया गया है। टैली रेडियोलॉजी के माध्यम से सुदूरवर्ती 35 मेडिकल सेन्टरो मे एक्सरे, सीटी स्कैन, एमआरआई व मैमोग्राफी की सुविधायें उपलब्ध करायी जा रही है। श्री त्रिवेन्द्र ने कहा कि सेवा मेरा दायित्व के अन्तर्गत निजी चिकित्सालयों के चिकित्सको से भी अनुरोध किया जा रहा है कि वे दो घन्टे की सेवायें सरकारी अस्पतालों मे भी देने का काम करें।

मुख्यमंत्री श्री त्रिवेन्द्र ने कहा कि प्रदेश मे चिकित्सकों एवं पैरामेडिकल स्टाफ की काफी कमी है। अन्य प्रदेशो से चिकित्सको को उत्तराखण्ड मे सेवाये देने के लिए कार्यवाही की जा रही है। प्रदेश के गरीब आम जन तक सस्ती दवाईयां पहुचाने के लिए बडी संख्या मे जैनरिक औषधि केन्द्र भी खोले जा रहे है। उन्होने कहा कि महानगर में आधुनिकतम महिला चिकित्सालय की सभी व्यवस्थाये प्रदेश सरकार जल्द पूरी करेगी। नये भवन में सभी प्रकार के आधुनिकतम उपकरणों की जल्द व्यवस्था की जायेगी तथा समुचित स्टाफ को भी तैनात किया जायेगा। उन्होने बताया कि महिलाओं के स्वास्थ के लिए सरकार द्वारा कई कल्याणकारी योजनायें संचालित की जा रही है।

जनपद प्रभारी एवं शहरी आवास मंत्री श्री मदन कौशिक ने कहा कि आयुष्मान भारत, आयुष्मान उत्तराखण्ड इस राज्य के लिए मील का पत्थर साबित होगा। उन्होने कहा हमारी सरकार उत्तराखण्ड की अब तक की सबसे बडी हैल्थ स्कीम शुरू करने जा रही है। आयुष्मान उत्तराखण्ड योजना के तहत प्रदेश के सभी 23 लाख परिवारों को सालाना 5 लाख रूपये तक के ईलाज का खर्च अब सरकार उठायेगी। सरकार का यह प्रयास है कि स्वास्थ की जो योजनायें सरकार द्वारा चलाई जा रही है उसका लाभ प्रदेश के अन्तिम छोर के व्यक्ति तक पहुचे।।

पूर्व कैबिनेट मंत्री एवं विधायक श्री बंशीधर भगत ने हल्द्वानी महिला अस्पताल को 30 बैड से 100 बैड की क्षमता का करने पर मुख्यमंत्री का आभार व्यक्त किया। उन्होने कहा स्वास्थ सेवाओं के प्रति सरकार सजग है और इसका लाभ सबको मिले यह हमारी सरकार का प्रयास है।

कार्यक्रम मे विधायक दीवान सिह विष्ट, मेयर डा0 जोगेन्दर सिह रौतेला, आयुक्त कुमायू राजीव रौतेला, सचिव चिकित्सा स्वास्थ नितेश कुमार झा, आईजी पूरन सिह रावत, जिलाधिकारी विनोद कुमार सुमन आदि उपस्थित थे।
Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.

Related posts

Leave a Comment

error: Be Positive Be United
%d bloggers like this: