जिलाधिकारी अल्मोड़ा: जागेश्वर धाम यात्रियों को मिलेगीं सुविधाएं | Doonited News
Breaking News

जिलाधिकारी अल्मोड़ा: जागेश्वर धाम यात्रियों को मिलेगीं सुविधाएं

जिलाधिकारी अल्मोड़ा: जागेश्वर धाम यात्रियों को मिलेगीं सुविधाएं
Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

अल्मोड़ा: जिलाधिकारी नितिन सिंह भदौरिया के अध्यक्षता में सोमवार को कैम्प कार्यालय में जागेश्वर मंदिर प्रबन्धन समिति की बैठक सम्पन्न हुई। बैठक में जागेश्वर मंदिर में बाहर से आने वाले पर्यटको व श्रद्धालुओं की सुविधाओं के लिये विभिन्न प्रकरणों पर विचार विर्मश हुआ।

उन्होंने बताया कि जल्द ही जागेश्वर में श्रद्धालुओं की सुविधा के लिये एक धर्मशाला का निर्माण कराया जायेगा जिसका आगणन ग्रामीण निर्माण विभाग द्वारा कर लिया गया है। उन्होंने जल्द इसी माह धर्मशाला के निर्माण कार्य प्रारम्भ करने के निर्देश दिये।

बैठक में जटागंगा में स्वच्छता बनाये रखने के लिये हरित शवदाह व्यवस्था का आगणन तैयार करते हुये उसे शासन को प्रेषित करने के निर्देश दिये। उन्होंने केएमवीएन द्वारा निर्मित आॅडिटोरियम को मंदिर समिति के कार्यालय व अन्य प्रयोजन के लिये प्रयोग करने के निर्देश दिये। बैठक में मंदिर समूह के पीछे देवदार वन के संरक्षण हेतु वन विभाग से समन्वय स्थापति कर उसमें तारबाड़ की व्यवस्था करने के निर्देश दिये। मंदिर समूह के अन्तर्गत लगे सीसीटीवी कैमरों व सोलर लाईट की तारों को भूमिगत करने के निर्देश दिये जिससे पर्यटको को दर्शन के समय किसी प्रकार की असुविधा न हो।

Read Also  उत्तराखंड : चारधाम परियोजना से घट जाएगी यमुनोत्री, गंगोत्री, केदारनाथ और बद्रीनाथ की दूरी



बैठक में जागेश्वर महोत्सव के द्वितीय संस्करण के आयोजन पर चर्चा की गयी। जिस पर  जिलाधिकारी ने कहा कि कोविड-19 को देखते हुये इस वर्ष जागेश्वर महोत्सव को सूक्ष्म रूप में 30 दिसम्बर को आयोजित किया जायेगा जिसमें योगा, मैराथन, साईकिल रेस के आलाव जटागंगा आरती, हैरिटेज वाॅक सहित अन्य कार्यक्रम आयोजित होेंगे। इस दौरान जिलाधिकारी ने चितई गोलू मंदिर प्रबन्धन समिति की बैठक भी ली। बैठक में मंदिर में श्रद्धालुओं की आवश्यक सुविधाओ पर चर्चा की गये।

जिलाधिकारी ने उपजिलाधिकारी सदर को मंदिर में पेयजल हेतु अतिरिक्त टैंक बनाने का आगणन प्रस्तुत करने के निर्देश दिये जिससे पेयजल की दिक्कत न हो। जिलाधिकारी ने चितई में नवनिर्मित शौचालय में स्वच्छक रखने की सहमति प्रदान की। इसके अलावा चितई में कूड़ा निस्तारण हेतु दिये गये वाहन के संचालन पर भी चर्चा की गयी। जिलाधिकारी ने उपजिलाधिकारी को मंदिर का निरीक्षण व स्थानीय लोगों के साथ विचार-विमर्श कर अन्य सुविधायें उपलब्ध कराने के निर्देश दिये।

Read Also  देवस्थानम बोर्ड में भारत सरकार के दो अधिकारी नामित होंगे

बैठक में मुख्य विकास अधिकारी नवनीत पाण्डे, उपजिलाधिकारी सदर सीमा विश्वकर्मा, मोनिका, पर्यटन विकास अधिकारी राहुल चैबे, अधिशासी अभियन्ता ग्रामीण निर्माण विभाग नितिन पाण्डे, अधिशासी अभियन्ता जल निगम के0डी0 भट्ट, आपदा प्रबन्धन अधिकारी राकेश जोशी, प्रबन्धक जागेश्वर मंदिर समिति भगवान भट्ट, पुजारी प्रतिनिधि भगवान चन्द्र भट्ट के अलावा अन्य अधिकारी उपस्थित थे।




Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.

Related posts

doonited mast
%d bloggers like this: