साइबर ठगों ने बदला ठगी का तरीकाDoonited News
Breaking News

साइबर ठगों ने बदला ठगी का तरीका

साइबर ठगों ने बदला ठगी का तरीका
Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

देश में ऑनलाइन धोखाधड़ी (Online Fraud) के मामले बढ़ते जा रहे हैं। हैकर फर्जी वेबसाइट बनाकर लोगों को अपना निशाना बना रहें हैं। लेकिन साइबर ठगों ने ठगी का अब नया तरीका अपनाया है। इतना ही नहीं एसबीआई (SBI) ने अपने ग्राहकों को साइबर ठगी से बचने के लिए चेतावनी जारी की है। आपको बता दें कि पिछले दिनों एसबीआई के कई यूजर्स को हैकरों ने एक फिशिंगस स्कैम का निशाना बनाया है। हैकरों ने कई यूजर्स को संदिग्ध टेक्स्ट मैसेज भेजकर उनसे 9,870 रुपये के SBI क्रेडिट पॉइंट (SBI Credit Point) को रिडीम का अनुरोध किया गया है।

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, साइबर ठगों ने एसबीआई यूजर्स को एक टेक्स्ट मैसेज भेजते हैं। इस मैसेज में एक लिंक भी दिया हुआ है जिस पर क्लिक करने के लिए कहा जाता है। इस लिंक को क्लिक करते ही एक फर्जी वेबसाइट खुलती है, जहां स्टेट बैंक ऑफ इंडिया फिल योर डिटेल्स (State Bank of India Fill Your Details) फॉर्म का ऑप्शन होता है। इसे भरने के लिए यूजर्स को कहा जाता है। इसमें संवेदनशील फाइनेंशियल डिटेल जैसे कार्ड नंबर, एक्पायरी डेट, CVV और Mpin शेयर करने के लिए कहा जाता है।

Read Also  Election Commission slaps Mamata Banerjee: Khela Hobe Na

वहीं दिल्ली स्थित थिंक टैंक साइबरपीस फाउंडेशन और ऑटोबोट इंफोसेक प्राइवेट लिमिटेड की रिपोर्ट के मुताबिक, इस फर्जी वेबसाइट पर पर्सनल जानकारी जैसे नाम, रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर, ईमेल, ईमेल पासवर्ड और डेट ऑफ बर्थ मांगी जाती है। फॉर्म सब्मिट होने के बाद यूजर्स को Thank you पेज पर रिडायरेक्ट किया जाता है।

क्या कहना है SBI का

इसके अलावा फाउंडेन ने कहा है कि SBI के मुताबिक, वो कभी भी अपने ग्राहकों से SMS या ईमेल के जरिए संपर्क स्थापित नहीं करते हैं। जिसमें यूजर्स के अकाउंट के संबंध में लिंक होते हैं। कोई भी रेपुडेट बैंकिंग सुरक्षा कारणों से अपनी आधिकारिक वेबसाइट पर CMS टेक्नोलॉजी जैसे वर्डप्रेस का इस्तेमाल नहीं करती है।

Read Also  6 राज्यों में बर्ड फ्लू की पुष्टि, केंद्र सरकार ने बर्ड फ्लू की स्थिति को लेकर कई राज्यों के साथ बैठक की

स्‍टेट बैंक के मुताबिक, हैकर्स के निशाने पर खासतौर से दिल्ली, मुंबई, हैदराबाद, चेन्नई और अहमदाबाद के लोग हैं। हैकर्स की ओर से भेजे गए ई-मेल को क्लिक करने पर यूजर किसी फर्जी वेबसाइट पर पहुंच जाते हैं। इसके बाद इस फर्जी वेबसाइट पर निजी या बैंक अकाउंट की जानकारी देने पर उन्हें भारी आर्थिक नुकसान झेलना पड़ सकता है। जो भी ग्राहक इनके जाल में फंस जाता है। ठग उसका पूरा अकाउंट साफ कर देते हैं।

Science & Technology

Read Also  Pakistan cannot go ahead with any trade with India under the current circumstances: Imran Khan




Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.

Related posts

doonited mast
%d bloggers like this: