शिक्षकों के कंधों पर छात्रों को संवारने की बड़ी जिम्मेदारीः कर्नल डिमरी | Doonited.India

December 11, 2018

Breaking News

शिक्षकों के कंधों पर छात्रों को संवारने की बड़ी जिम्मेदारीः कर्नल डिमरी

शिक्षकों के कंधों पर छात्रों को संवारने की बड़ी जिम्मेदारीः कर्नल डिमरी
Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.
• राइंका स्वीली-सेम में मेधावी छात्र सम्मान समारोह का आयोजन
• बाल संरक्षण आयोग के सदस्य ने दी बाल अधिकारों की जानकारी  
रुद्रप्रयाग: विद्यार्थी गिली मिट्टी की तरह होते हैं। शिक्षक विद्यार्थियों को जैसा आकार देना चाहते हैं वह वैसा ही बनेंगे। आज के छात्र कल के भविष्य हैं, इसलिये शिक्षकों के कंधों पर भविष्य संवारने की बड़ी जिम्मेदारी है। यह बात सामाजिक स्वकर्मी कर्नल (रि) डाॅ डीपी डिमरी ने विकासखंड जखोली की भरदार पट्टी के राजकीय इंटर काॅलेज स्वीली-सेम में मेधावी छात्र सम्मान समारोह में बतौर मुख्य अतिथि कही।

डाॅ डिमरी ने कहा कि इस विद्यालय के छात्र बहुमुखी प्रतिभा के धनी हैं। पढ़ाई के साथ ही बच्चे सांस्कृतिक गतिविधियों में भी आगे हैं। उन्होंने इसका श्रेय शिक्षकों को देते हुए कहा कि शिक्षक छात्रों की छुपी हुई प्रतिभा को सामने लाने में पूरी मेहनत कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि छात्रों को छात्रवृत्ति देने का मकसद यही है कि छात्र और अधिक परिश्रम करें और जीवन में आगे बढ़ें। उन्होंने यह भी कहा कि वह कुछ समय अपने गांव में भी बितायेंगे और स्कूल के बच्चों को पढ़ायेंगे। साथ ही उन्होंने स्कूल प्रबंधन को क्रीड़ा मैदान के लिए जमीन देने का आश्वासन दिया।

विशिष्ट अतिथि बाल अधिकार संरक्षण आयोग के सदस्य एवं वरिष्ठ भाजपा नेता बाचस्पति सेमवाल ने छात्रों को बाल अधिकारों की जानकारी दी। उन्होंने कहा कि उन्होंने राजकीय इंटर काॅलेज और प्राथमिक विद्यालय का भी निरीक्षण किया और मध्यान्ह भोजन की गुणवत्ता भी देखी। उन्होंने कहा कि विद्यालय में छात्रों और शिक्षकों के बीच आत्मीय संबंध है। यही वजह है कि विद्यालय के छात्र प्रतिभाशाली हैं।

विशिष्ट अतिथि जिला पंचायत सदस्य आशा डिमरी ने कहा कि हर वर्ष बोर्ड परीक्षाओं में छात्रों का रिजल्ट उत्कृष्ट रहता है। यह इस बात का संकेत है कि विद्यालय के छात्र होनहार हैं। उन्होंने कहा कि अभिभावकों को बालिकाओं की शिक्षा पर विशेष ध्यान देना चाहिए। आज बालिकायें किसी से भी क्षेत्र में पीछे नहीं हैं। सामाजिक कार्यकर्ता कृष्णानंद डिमरी ने 20 गरीब छात्रों को स्वेटर और जूते वितरित करते हुए कहा कि छात्रों को आगे बढ़ाने के लिए उन्हें प्रोत्साहित करने की आवश्यकता है। उन्होंने कहा कि वह भी भविष्य में प्रतिभाशाली छात्रों को छात्रवृत्ति देंगे।

भरदार जन विकास मंच के अध्यक्ष एलपी डिमरी ने कहा कि शिक्षा से ही हम एक बेहतर समाज की कल्पना कर सकते हैं। इसके लिए हमें अपनी सोच बदलनी होगी। आज हमारी सोच का दायरा सीमित हो गया है। जब तक हमारी सोच संकीर्ण रहेगी, हम आगे नहीं बढ़ पायेंगे। उन्होंने कहा कि कर्नल डिमरी हर वर्ष होनहार छात्रों को छात्रवृत्ति देते हैं। यह उनके अपने गांव के स्कूल के बच्चों के प्रति प्रेम है और वह चाहते हैं कि क्षेत्र के बच्चे जिंदगी के हर मुकाम पर सफल हों। विद्यालय के प्रधानाचार्य जगदीश सिंह नेगी ने आगंतुकों का धन्यवाद ज्ञापित किया। उन्होंने कहा कि विद्यालय के लिये दो कमरे स्वीकृत हैं, लेकिन जमीन न होने के कारण कमरों का निर्माण नहीं हो पा रहा है। उन्होंने ग्रामीणों से जल्द जमीन उपलब्ध कराने की मांग की।

इस अवसर पर स्कूली छात्र-छात्राओं ने रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रमों की भी प्रस्तुति दी। कार्यक्रम की शानदार प्रस्तुति के लिए कर्नल डिमरी द्वारा छात्रों को पांच हजार रुपये की धनराशि पुरस्कार के रूप में दी गई। साथ ही क्विज प्रतियोगिता में छात्रों ने सभी सवालों के सही जवाब दिये। प्रत्येक विजेजा छात्र को पारितोषित के रूप में पचास रुपये दिये गये। इस मौके पर उपस्थित ग्रामीणों को जड़ी-बूटी शोध संस्थान गोपेश्वर के वैज्ञानिक सीपी कुनियाल ने जड़ी-बूटी उत्पादन की जानकारी दी। वहीं उद्योग विभाग के महाप्रबंधक पीएस सजवाण ने विभाग द्वारा चलाई जा रही विभिन्न योजनाओं के बारे में बताया और इसका लाभ लेने को कहा।

वहीं कर्नल डिमरी की ओर से राइंका स्वीली सेम में कक्षा 6 में सर्वाेच्च अंक लाने वाले विद्यार्थी मोहित रावत, कक्षा 7 सोनम डिमरी, कक्षा 8 शिवानी, कक्षा 9 हिमांशु सिंह, कक्षा 11वीं कुमारी सलोनी और बेस्ट स्टुडेंट आॅफ द स्कूल की छात्रवृत्ति सचिन सिंह को दी गई। इसके साथ ही हाईस्कूल और इंटरमीडिएट की बोर्ड परीक्षा में सर्वाेच्च अंक प्राप्त करने पर क्रमशः कामेश सिंह और संतोषी को छात्रवृत्ति देकर सम्मानित किया गया।

इसके अतिरिक्त राजकीय प्राथमिक विद्यालय सेमभरदार कक्षा पांचवी की छात्रा सिमरन और चिल्ड्रन एकेडमी दरमोला की कक्षा पांचवी के छात्र मयंक को भी अपनी कक्षा में सर्वाेच्च अंक लाने पर छात्रवृत्ति दी गई। इस मौके पर शिक्षक गबन सिंह गुसाई, संदीप पुरोहित, मीनाक्ष्ी मजन्वाल, उर्मिला नेगी, मनु सती, सतेन्द्र कुमार, धनंजय पंवार, जयपाल पंवार समेत छात्र-छात्रायें और अभिभावक मौजूद थे। मंच का संचालन शिक्षक कुलदीप सिंह पंवार ने किया। 

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.

Related posts

Leave a Comment

error: Be Positive Be United
%d bloggers like this: