October 28, 2021

Breaking News

Best Parenting Tips: अपने बच्चों को बचपन में ही सिखा लें ये 5 बातें, सभी लोग करेंगे आपकी तारीफ!

Best Parenting Tips: अपने बच्चों को बचपन में ही सिखा लें ये 5 बातें, सभी लोग करेंगे आपकी तारीफ!


Parenting Tips: हर कोई चाहता है कि उसका बच्चा समझदार और संस्कारी बने. इसके लिए माता-पिता बचपन से ही बच्चे को होशियार और बेहतर इंसान बनाने की कोशिश में जुट जाते हैं, ताकि उसका भविष्य बेहदर बन सके. हर माता पिता अपने बच्चे को हर दिन कुछ न कुछ नया सिखाते हैं, क्योंकि बड़े होने पर बचपन (Childhood) की बातें और चीजें उनकी परवरिश में नजर आती हैं.

इस खबर में हम आपके लिए पांच ऐसी बातों के बारे में जानकारी दे रहे हैं, जो आपके बच्चे के लिए बेहद जरूरी हैं. इन 5 बातों को सिखाने की कोशिश बचपन से ही करनी चाहिए, जिससे ये उसको बेहतर इंसान बनाने में काम आ सकें. साथ ही आपको अपनी परवरिश पर भी गर्व महसूस हो. 

बच्चों को जरूर सिखाएं ये 5 बातें (Must teach these 5 things to children)

1. थैंक यू बोलना
सबसे जरूरी बात ये है कि बच्चों को छोटी-छोटी बात के लिए थैंक यू बोलना सिखाएं. उनको बताएं कि जब भी किसी से मदद या कोई चीज लें, तो इसके लिए थैंक यू जरूर बोलें. फिर चाहें सामने वाला आपसे उम्र और हैसियत में कम ही क्यों न हो. इससे आपकी छवि बेहतर होती है. 

Read Also  काली मिर्च से दूर होंगी कई बीमारियां

2. प्लीज कहना 
बच्चों को बचपन से ही प्लीज बोलना सिखाएं. उनको बताएं कि जब भी किसी से कुछ पूछना हो या कहना हो तो प्लीज शब्द का इस्तेमाल जरूर करें. इससे उनकी छवि ही नहीं बल्कि आपकी छवि भी निखरती जाएगी.

3. परमिशन लेना 
आप अपने बच्चे को समझदार बनाना चाहते हैं तो उसे परमीशन लेना शुरू से ही सिखाएं. उनको बताएं की कहीं जाने और कोई काम करने के लिए जिस तरह माता-पिता की परमीशन जरूरी है. उसी तरह से किसी का सामान छूने या इस्तेमाल करने के लिए उसकी अनुमति लेना भी बेहद जरूरी है. इससे केवल न केवल बच्चे बल्कि आपकी अपब्रिंगिंग की सराहना भी की जाएगी. 

4. एक्सक्यूज़-मी बोलना 
बच्चों को बचपन से ही एक्सक्यूज़-मी बोलने की आदत डालें. उन्हें शुरू से ही सिखाएं कि जब भी किसी से कुछ कहना हो या किसी का ध्यान अपनी ओर खींचना हो, तो एक्सक्यूज़-मी का इस्तेमाल करें. इससे सामने वाले पर अच्छा इम्प्रेशन पड़ता है.

Read Also  Clove Benefits : यह लोग रात में सोने से पहले खा लें सिर्फ 2 लौंग, फायदे चौंका देंगे

5. सॉरी बोलना
आपने देखा होगा कि कई बच्चे ऐसे होते हैं, जो गलती करने के बावजूद सॉरी बोलना नहीं चाहते, वो सॉरी बोलने में खुद को छोटा महसूस करते हैं. ऐसे में आपकी जिम्मेदारी बनती है कि बच्चों को समझाएं कि अपनी छोटी सी गलती के लिए भी सॉरी बोलना चाहिए. इससे उनकी इमेज बिगड़ेगी नहीं, बल्कि बेहतर होगी.

ये भी पढ़ें: कमर दर्द से परेशान रहते हैं आप तो करें यह 3 आसन, महिला-पुरुष दोनों के लिए हैं बेहद फायदेमंद

यहां दी गई जानकारी किसी भी चिकित्सीय सलाह का विकल्प नहीं है. यह सिर्फ शिक्षित करने के उद्देश्य से दी जा रही है.



Doonited Affiliated: Syndicate News Feed

Source link

Related posts

Leave a Reply

Content Protector Developer Fantastic Plugins
%d bloggers like this: