पुलिस महानिदेशक की अध्यक्षता में वीडियो कान्फ्रेसिंग के माध्यम से आगामी त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव की तैयारियों के परिप्रेक्ष्य में बैठक | Doonited.India

October 22, 2019

Breaking News

पुलिस महानिदेशक की अध्यक्षता में वीडियो कान्फ्रेसिंग के माध्यम से आगामी त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव की तैयारियों के परिप्रेक्ष्य में बैठक

पुलिस महानिदेशक की अध्यक्षता में वीडियो कान्फ्रेसिंग के माध्यम से आगामी त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव की तैयारियों के परिप्रेक्ष्य में बैठक
Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

आज दिनांक 27 सितम्बर 2019 को श्री अनिल के0 रतूड़ी, पुलिस महानिदेशक, उत्तराखण्ड की अध्यक्षता में पुलिस मुख्यालय स्थित सभागार में प्रदेश के समस्त जनपद प्रभारियों व परिक्षेत्र प्रभारियों की वीडियो कान्फ्रेसिंग के माध्यम से आगामी त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव की तैयारियों के परिप्रेक्ष्य में बैठक आयोजित की गयी।

­­­­

श्री रतूड़ी ने पुलिस बल का मतदान केन्द्र पर सही ढ़ग से उपयोग कराये जाने पर बल दिया जिससे कोई अप्रत्य़क्ष घटना न घट सके। उन्होंने चुनाव निष्पक्ष और शान्तिपूर्ण रूप से कराये जाने हेतु जनपद प्रभारियों को निर्देशित किया। साथ ही जनपद प्रभारियों को राज्य चुनाव आयोग द्वारा भेजे गये दिशा-निर्देशों का स्वयं अवलोकन कर उनका अनुपालन कराने हेतु निर्देशित किया। श्री रतूड़ी ने कहा की प्रदेश में त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव के अन्तर्गत तीन चरणों में दिनांक 5,11, व 16 अक्टूबर को मतदान एवं 21 अक्टूबर को मतगणना होनी है। हरिद्वार को छोड़ कर प्रदेश के 12 जनपदों में यह चुनाव होगा। पंचायत चुनाव व्यक्तिगत स्तर पर होता है। इसमे कभी-कभी आपनी रंजिश होने की आशंका नहीं रहती है। जिससे शांति एवं कानून व्यवस्था प्रभावित होने की सम्भावना रहती है।

श्री अशोक कुमार, महानिदेशक, अपराध एवं कानून व्यवस्था, उत्तराखण्ड ने बताया कि निष्पक्ष त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव हेतु सुरक्षा, व्यवस्था में लगभग 8,000 पुलिस बल, 25 कम्पनी पीएसी, 3,500 होमगार्ड एवं 3,000 पीआरडी जवान नियुक्त किये जायेंगे। प्रदेश में कुल 8,063 मतदान केन्द्र व 9,862 मतदय स्थल बनाये गये हैं।

श्री अनिल के0 रतूड़ी एवं श्री अशोक कुमार, महानिदेशक, अपराध एवं कानून व्यवस्था, उत्तराखण्ड द्वारा वीडियो कान्फ्रेसिंग के दौरान निम्न बिन्दुओं पर आवश्यक दिशा-निदेश दिये गयें:-

1- वरिष्ठ/पुलिस अधीक्षक, पुलिस उपाधीक्षक द्वारा मतदान केन्द्रों का भ्रमण व प्रत्येक मतदान केन्द्र से सम्बन्धित महत्वपूर्ण जानकारी की अभिलेखीयकरण कर लिया जाये।

2- भौगोलिक, साम्प्रदायिकता, चुनावी रंजिश आदि कारणों से संवेदनशील मतदान केन्द्रों की Vulnerability /Criticality का आंकलन कर लिया जाये।

3- जिलाधिकारी से वार्ता कर स्ट्रोंग रुम की सुरक्षा हेतु ब्लॉक स्तर से सीसीटीवी कैमरे लगाये जाने के प्रयास किये जाएं।

4- शास्त्र लाइसेंसों के सत्यापन की संख्या काफी कम है इसे बढाया जाये।

5- शरारती तत्वों पर 107/116 एवं 151 सीआरपीसी, गुण्डा व गैंगेस्टर एक्ट के अन्तर्गत निरोधात्मक कार्यवाही बढ़ाने के निर्देश दिये गये।

6- चुनाव के दौरान साम्प्रदायिक तनाव, दुष्प्रचार फैलाने वाले व्यक्तियों को चिन्हित कर उन पर कड़ी नजर रखी जाये एवं सोशल मीडिया पर भी इस तरह के लोगों की हरकत पर नजर रखी जाये।

7- अन्तराज्यीय बैरियरों पर सी0सी0टी0वी0 कैमरे, सूचना संकलन हेतु वीडियो कैमरे तथा सूचनाओं के त्वरित अदान-प्रदान हेतु वायरलैस सैट स्थापित किये गये है।

8- वर्ष 2014 को पंचायत चुनाव के दौरान हुई घटित घटनाओं का आंकलन कर जातिगत एवं साम्प्रदायिक कारणों से संवेदनशील स्थानों को विशेष दृष्टि रखी जाये।

9- अवैध शराब की बिक्री में जो लोग अभ्यस्त हैं। उनके विरुद्ध गैंगस्टर एक्ट के अन्तर्गत कार्यवाही की जाये।

10- Dial-112 की दक्षता बढ़ायें और Response Time को कम करते हुए, घटनास्थल पर तत्काल पहुँचकर कार्यवाही करें।

11- यह सुनिश्चित करायें की प्रत्येक पुलिसकर्मी यातायात नियमों का पालन करे, ऐसा ना करने पर उनके विरुद्ध कार्यवाही की जाये। साथ ही सभी अधिकारी यह सुनिश्चित करें कि उनके ड्राईवर और गनर सीट बेल्ट जरुर लगायें।

12- हमारे जितने भी जवान को डेंगू की शिकायत महसूस होती है, यह सुनिश्चित किया जाये की उन्हे उचित उपचार मिल जाए। साथ ही पुलिस लाईन, थाना/चौकी एवं पुलिस कार्यालयों में स्वास्थय विभाग नगरनिगम/नगर पंचायत से समंवय स्थापित कर निरोधात्मक उपाये अपनाये जाएं।

उत्तराखण्ड एसटीएफ टीम द्वारा दिनांक 29 मई 2019 को उत्तरप्रदेश के 02 लाख के ईनामी अपराधी कौशल कुमार चौबे को देहरादून के नेहरूकालोनी क्षेत्र से गिरफ्तार करने में सफलता प्राप्त की थी। जिसपर उत्तरप्रदेश सरकार द्वारा एसटीएफ टीम को ईनाम की 02 लाख की राशि का डिमांड ड्राफ्ट भेजा गया। श्री अनिल के रतूड़ी उक्त डिमांड ड्राफ्ट द्वारा आज एसटीएफ टीम में सम्मिलित निरीक्षक संदीप नेगी, मुख्य आरक्षी वेद प्रकाश भट्ट, आरक्षी रुपेन्द्र सिंह व महेन्द्र सिहं को प्रदान कर सम्मानित किया गया।

बैठक में श्री वी0 विनय कुमार, अपर पुलिस महानिदेशक, प्रशासन/अभिसूचना/सुरक्षा, श्री संजय गुंज्याल, पुलिस महानिरीक्षक पी/एम, श्री ए0पी0 अंशुमान, पुलिस महानिरीक्षक, अपराध एवं कानून व्यवस्था, श्री पुष्पक ज्योति, पुलिस महानिरीक्षक, कार्मिक, श्रीमती विमला गुंज्याल, पुलिस उपमानिरीक्ष, अभिसूचना, श्रीमती रिधिम अग्रवाल, पुलिस उपमानिरीक्ष, अपराध एवं कानून व्यवस्था सहित अन्य पुलिस अधिकारी उपस्थित रहें।

 

 

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.

Post source : पुलिस मुख्यालय, उत्तराखण्ड

Related posts

error: Be Positive Be United
%d bloggers like this: