‘एक भी घुसपैठिए को रहने नहीं देंगे, चुन चुनकर निकालेंगे’ : अमित शाह | Doonited.India

October 22, 2019

Breaking News

‘एक भी घुसपैठिए को रहने नहीं देंगे, चुन चुनकर निकालेंगे’ : अमित शाह

‘एक भी घुसपैठिए को रहने नहीं देंगे, चुन चुनकर निकालेंगे’ : अमित शाह
Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

भारतीय जनता पार्टी के अध्यक्ष और केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने कोलकाता में एनआरसी के मुद्दे पर आयोजित जनजागरण सभा में कहा कि एक भी घुसपैठिए को देश में रहने नहीं देंगे, चुन चुनकर निकालेंगे. हालांकि एनआरसी के मुद्दे पर बीजेपी पहले भी ऐसा कहती आई है और असम में उसने इसे लागू करते हुए इसका अंतिम लिस्ट भी जारी कर दिया, जिसके चलते करीब 19 लाख लोगों की नागरिकता छिनने का ख़तरा मंडरा रहा है.

इसमें दशकों से रह रहे हिंदू परिवार के लोग भी शामिल हैं, जिसको लेकर काफी बीजेपी को काफ़ी आलोचनाओं का सामना करना पड़ रहा है.

उन्होंने अपने संबोधन में जिन मुद्दों पर बात की, उनके अहम बातें इस तरह से हैं-

1. बंगाल में एनआरसी को लेकर ग़लत ग़लत जानकारी फैलाई जा रही है. इससे बड़ा झूठ नहीं हो सकता.

2. एक भी घुसपैठिए को इस देश में रहने नहीं दिया जाएगा, उन्हें चुन चुनकर बाहर किया जाएगा.

3. भाजपा सरकार एनआरसी के पहले सिटिजन अमेंडमेंट बिल लाने वाली है, इस बिल के तहत भारत में जितने भी हिंदू, सिख, बौद्ध, जैन, ईसाई शरणार्थी आए हैं, उन्हें हमेशा के लिए भारत की नागरिकता दी जाएगी.

4. ममता दी जब विपक्ष में थीं, तब वह इन घुसपैठियों को हटाने की बात करती थीं, उन्होंने इस मुद्दे पर राज्य विधानसभा अध्यक्ष के चेहरे पर अपनी शॉल तक फेंक दी थी. अब जब ये लोग उनके वोट बैंक बन गए हैं तो वह नहीं चाहती कि उन्हें हटाया जाए.

5. आपने कम्यूनिस्ट, कांग्रेस और तृणमूल कांग्रेस को मौक़ा दिया. अब समय आ गया है कि आप बीजेपी को सरकार बनाने का मौक़ा दें. हम बंगाल को सोनार बंगाल बनाकर वापस करेंगे. एक बार सरकार बना दो, बंगाल का पुराना गौरव वापस होगा.

6. बंटवारे के वक़्त बंगाल में 70 प्रतिशत दवाईयों का उत्पादन होता था, अब यह छह प्रतिशत रह गया है. उस वक़्त भारत के ओद्यौगिक उत्पादन का 27 प्रतिशत हिस्सा बंगाल का था, आज यह घटकर 3.3 प्रतिशत रह गया है.

7. प्रधानमंत्री मोदी जी ने भारत के हर ग़रीब को पांच लाख सालाना के मेडिकल इंश्यूरेंस की सुविधा दे रहे हैं, लेकिन ममता दी आयुष्मान भारत योजना को पश्चिम बंगाल के लोगों तक पहुंचने नहीं दे रही है.

8. मैं ममता दी और तृणमूल की सरकार को कहना चाह रहा हूं कि आप जितना रोकना चाहो लेकिन पीएम मोदी की लीडरशिप को ना केवल भारत बल्कि दुनिया और पश्चिम बंगाल के लोगों ने स्वीकार कर लिया है.

9. इसी बंगाल के सपूत डॉ. श्यामा प्रसाद मुखर्जी ने नारा लगाया था कि एक देश में दो प्रधान, दो विधान और दो संविधान नहीं चलेंगे. भारत मां के इस महान सपूत को गिरफ्तार किया गया और रहस्यमय तरीक़े से उनकी मृत्यु हो गई.

10. श्यामा प्रसाद जी की शहादत के बाद कांग्रेस को लगा कि मामला अब समाप्त हो गया, लेकिन उन्हें पता नहीं हम भाजपा वाले हैं किसी चीज़ को पकड़ते हैं तो फिर उसे छोड़ते नहीं हैं. आपने इस बार भाजपा सरकार बनाई और हमने एक ही झटके में 370 को उखाड़कर फेंक दिया.

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.

Post source : agency

Related posts

error: Be Positive Be United
%d bloggers like this: