उच्च शिक्षा मंत्री डा. धन सिंह रावत के अनुमोदन के बाद अशासकीय महाविद्यालयों के कार्मिकों को मिला दो वर्ष का एरियरDoonited News
Breaking News

उच्च शिक्षा मंत्री डा. धन सिंह रावत के अनुमोदन के बाद अशासकीय महाविद्यालयों के कार्मिकों को मिला दो वर्ष का एरियर

उच्च शिक्षा मंत्री डा. धन सिंह रावत के अनुमोदन के बाद अशासकीय महाविद्यालयों के कार्मिकों को मिला दो वर्ष का एरियर
Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

-वित्तीय वर्ष 2016 से 2018 के देय एरियर भुगतान का शासनादेश जारी
-डीएवी, डीबीएस एवं एसजीआरआर काॅलेज के कर्मियों को सर्शत दिया माह दिसम्बर का वेतन

उच्च शिक्षा मंत्री डा. धन सिंह रावत के अनुमोदन के उपरांत प्रदेश के अशासकीय महाविद्यालयों में कार्यरत शिक्षकों एवं शिक्षणेत्तर कर्मचारियों का दो वर्ष का एरियर भुगतान कर दिया गया है। डा. रावत ने बताया कि अशासकीय सहायता प्राप्त महाविद्यालयों के कर्मचारियों का एरियर रूका हुआ था। जिसकी मांग लम्बे समय से सहायता प्राप्त अशासकीय महाविद्यालयों के कर्मचारी कर रहे थे। उन्होंने बताया कि उच्च शिक्षा निदेशालय के सारे रूके बिल पास कर दिये गये है। इसके साथ ही डीएवी, डीबीएस एवं एसजीआरआर पीजी काॅलेज के कर्मचारियों का माह दिसम्बर का रूका वेतन भी सशर्त जारी कर दिया गया है।


प्रदेश के अशासकीय सहायता प्राप्त महाविद्यालयों के कर्मचारियों का वित्तीय वर्ष 2016 से वित्तीय वर्ष 2018 के देय एरियर का भुगतान कर दिया गया है। उच्च शिक्षा मंत्री डा. धन सिंह रावत के अनुमोदन के बाद इस बावत शासन द्वारा शासनादेश जारी हो गया है। उच्च शिक्षा मंत्री डा. रावत के मुताबिक अशासकीय सहायता प्राप्त महाविद्यालयों के कर्मचारियों को सातवें वेतनमान के पुनरीक्षण के उपरांत दो वर्ष का एरियर भुगतान कर लिया गया है। इसका लाभ करीब 458 शिक्षकों के अतिरिक्त सैकड़ों शिक्षणेत्तर कर्मचारियों को मिलेगा।

Read Also  PM हम सभी के अभिभावकः CM

उन्होंने कहा कि अशासकीय महाविद्यालय को सहायता अनुदान एवं कर्मचारियों के वेतन भत्ते के तौर पर रूपये 27 करोड़ 41 लाख जारी कर दिये हैं। जो कि चालू वित्तीय वर्ष के अंतर्गत दिया गया। इसके साथ ही उच्च शिक्षा मंत्री के अनुमोदन के उपरांत विभागीय जांच का सामना कर रहे 03 अशासकीय महाविद्यालयों का माह दिसम्बर का वेतन सशर्त जारी किया गया। जिसमें डी.ए.वी. पीजी काॅलेज देहरादून, डी.बी.एस. पीजी काॅलेज देहरादून एवं एस.जी.आर.आर. पीजी काॅलेज देहरादून शामिल हैं। आदेश में बताया गया कि तीनों महाविद्यालयों के खिलाफ शिकायतों के तहत जांच जारी है। यदि जांच में शिक्षकों के द्वारा कोविड-19 के अंतर्गत जारी दिशा-निर्देशों के तहत महाविद्यालयों में पढ़ाई नहीं कराई गई तो ऐसे शिक्षकों के अग्रिम वेतन से समायोजित किया जायेगा।

Read Also  पेयजल कार्यक्रम के अंतर्गत प्रस्तुत मास्टर प्लान के अवलोकन को कार्यशाला आयोजित

Haridwar Kumbh Mela 2021 News Update

Read Also  कांग्रेस ने उत्तराखण्डी शहीद स्मारक तोड़े जाने की कड़ी शब्दों में निन्दा की



Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.

Related posts

doonited mast
%d bloggers like this: