प्रदेश में 791 नए कोरोना संक्रमित सामने आए, सात की मौत, 60214 लोगों को दी गई कोरोना वैक्सीनDoonited News
Breaking News

प्रदेश में 791 नए कोरोना संक्रमित सामने आए, सात की मौत, 60214 लोगों को दी गई कोरोना वैक्सीन

प्रदेश में 791 नए कोरोना संक्रमित सामने आए, सात की मौत, 60214 लोगों को दी गई कोरोना वैक्सीन
Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

उत्तराखंड में कोरोना संक्रमण और मरीजों की मौत के मामले एक बार फिर तेजी से बढ़ने लगे हैं। मंगलवार को प्रदेश में 24 घंटे के भीतर कोरोना के 791 नए मामले सामने आए हैं। जबकि सात कोरोना संक्रमित मरीजों की मौत हुई है। वहीं, आज 60214 लोगों को कोरोना की वैक्सीन लगाई गई।


मंगलवार को प्रदेश में कोरोना के मामलों में काफी बढ़ोतरी दर्ज की गई है। कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या लगातार बढ़ रही है। वहीं, एम्स ऋषिकेश, कैलाश अस्पताल देहरादून, हिमालयन हॉस्पिटल जौलीग्रांट में पांच मरीजों की मौत हुई है। सुशीला तिवारी मेडिकल कॉलेज हल्द्वानी और सिनर्जी अस्पताल देहरादून में भी एक-एक मरीज की मौत हुई। प्रदेश में अब तक 103602 कोरोना संक्रमण के मामले सामने आ चुके हैं, जिनमें से 96647 मरीज ठीक हो चुके हैं। अब तक 1736 कोरोना संक्रमित मरीजों की उपचार के दौरान मौत हो चुकी है। 

10 दिसंबर के बाद प्रदेश में एक दिन में सबसे ज्यादा संक्रमित मिले हैं। पिछले साल 10 दिसंबर को 830 केस आए थे और 12 मरीजों की मौत हुई थी। प्रदेश में कोरोना की जांच का दायरा बढ़ गया है। 24 घंटे में अब 30 से 50 हजार तक के सैंपल की जांच रिपोर्ट जारी की जा रही है। मंगलवार को 34 हजार 968 सैंपल जांच के लिए भेजे गए जबकि 17 हजार 788 सैंपल की रिपोर्ट आनी अभी बाकी है। कोरोना के मामलों में बढ़ोतरी के साथ ही एक बार फिर कंटेनमेंट जोन की संख्या बढ़ने लगी है। अब तक प्रदेश में 24 कंटेनमेंट जोन बन चुके हैं। इनमें सबसे अधिक 12 कंटेनमेंट जोन देहरादून जिले में बनाए गए हैं। इसके अलावा नैनीताल में आठ, हरिद्वार में तीन और टिहरी में एक कंटेनमेंट जोन बनाया गया है।

Read Also  राज्य मे आज कोरोना के 427 नये मामले 7 लोगों की मौत

मंगलवार को प्रदेश में 60 हजार 214 लोगों को कोरोना से बचाव के लिए वैक्सीन दी गई।

अब तक प्रदेश में आठ लाख 47 हजार 648 लोगों को कोरोना से बचाव की पहली डोज दी जा चुकी है। एक लाख 50 हजार 186 लोगों को कोविड से बचाव की दोनों डोज दी जा चुकी हैं।


कुंभ के मद्देनजर नारसन बॉर्डर पर सख्त चेकिंग की जा रही है। कोरोना की निगेटिव रिपोर्ट नहीं लाने पर मंगलवार को करीब 400 कारों और 40 बसों को वापस भेज दिया गया। वाहनों को वापस लौटाने पर यात्रियों में भारी निराशा दिखी। 

नारसन बॉर्डर पर उत्तर प्रदेश, राजस्थान, दिल्ली, हरियाणा समेत अन्य राज्यों से उत्तराखंड में आने वाली रोडवेज बसों और कारों को कोविड की नेगेटिव रिपोर्ट नहीं दिखाने पर वापस भेजा जा रहा है। मंगलवार को बॉर्डर पर 1840 कोरोना टेस्ट किए गए और 3513 की थर्मल स्क्रीनिंग की गई।

Read Also  COVID-19: India's new cases surpass 1.5 lakh

इस दौरान कोविड टेस्ट रिपोर्ट नहीं लाने पर 400 से अधिक कारों एवं करीब 40 बसों को वापस लौटा दिया गया। इस दौरान बाहर से आए लक्सर क्षेत्र निवासी एक व्यक्ति की कोरोना टेस्ट के दौरान रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। वाहनों की चेकिंग के दौरान बॉर्डर पर अफरा तफरी का माहौल रहा। वापस लौटाए जा रहे वाहनों में सवार यात्रियों के चेहरे पर मायूसी और निराशा साफ झलक रही थी। 

बसों में जिन यात्रियों के पास कोरोना की नेगेटिव रिपोर्ट है, उन्हें प्रवेश दिया जा रहा है, लेकिन जिनके पास रिपोर्ट नहीं है, ऐसे यात्री बसों से उतरकर पैदल ही बॉर्डर पार कर रहे हैं और राज्य की सीमा में प्रवेश कर विभिन्न सवारी वाहनों में लिफ्ट लेकर आगे जा रहे हैं। वहीं कई किराये के वाहन ऐसे यात्रियों से तीन गुना तक किराया वसूल रहे हैं। 

Read Also  Bhumi Pednekar, who is working with Vicky Kaushal in their upcoming film Mr Lele tests COVID positive

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.

Related posts

doonited mast
%d bloggers like this: