July 03, 2022

Breaking News

मानक ब्यूरो की गतिविधियों के सम्बन्ध में प्रस्तुतिकरण दिया

मानक ब्यूरो की गतिविधियों के सम्बन्ध में प्रस्तुतिकरण दिया

देहरादून: जिला विकास अधिकारी सुशील मोहन डोभाल की अध्यक्षता में विकास भवन सभागार में भारतीय मानक ब्यूरो द्वारा जिला स्तरीय अधिकारियों हेतु कार्यशाला का आयोजन किया गया।

कार्यशाला में निदेशक देहरादून शाखा भारतीय मानक ब्यूरो सुधीर बिश्नोई ने भारतीय मानक ब्यूरो की गतिविधियों के सम्बन्ध में प्रस्तुतिकरण दिया। कार्यशाला में मुख्यतः माननकीकरण, वस्तुओं की खरीद में मानकों का प्रयोग, गुणवत्ता नियन्त्रण के लिए प्रमाणन अनुरूपता मूल्यांकन, हाॅलमार्किंग, रजिस्टेªशन, उपभोक्ता संरक्षण तथा प्रशिक्षण से सम्बन्धित जानकारी समस्त जिला स्तरीय अधिकारियों को दी गई।

बिश्नोई ने कहा कि भारतीय मानक ब्यूरों की गतिविधियों की जानकारी राज्य सरकारों के विभागों को होनी आवश्यक है। कार्यशाला में बताया गया कि भारतीय मानक ब्यूरों के एप्प बीआईएस केयर के माध्यम से भी लोग किसी भी उत्पाद की समस्त जानकारी प्राप्त कर सकते है। इस एप्प पर उपभोक्ता किसी उत्पाद या सेवा से सम्बन्धित शिकायत भी दर्ज करवा सकते है। यह एप्प गूगल प्ले स्टोर से डाउनलोड किया जा सकता है।

Read Also  भगवान महावीर के सिद्धांत पर गोष्ठी आयोजित


कार्यशाला में भारतीय मानक ब्यूरों की अधिकारियों ने कहा कि राज्य सरकार के विभागों द्वारा भी उत्पादों एवं सेवाओं के क्रय के दौरान गुणवत्ता का विशेष ध्यान रखा जाना चाहिए। आम लोगों में भी उत्पादों और सेवाओं के गुणवत्ता के बारे में जानकारी तथा उपभोक्ता अधिकारों के बारे में जागरूकता होनी जरूरी है।

उत्तराखण्ड में उत्पाद प्रमाणन के सम्बन्ध में जानकारी देते हुए बीआईएस ने बताया कि राज्य में कुल आइएसआई लाइसेंसों की सख्या अभी तक 612 है। एमएसएमई लाइसेंसो की संख्या 386, व्रहत स्तरीय लाइसंेसों की संख्या 226, भारतीय मानक के तहत कवर किए गए उत्पादों की संख्या 151, स्वैच्छिक प्रमाणीकरण के तहत लाइसंेसों की संख्या 362 तथा अनिवार्य प्रमाणन के तहत लाइसेंसो की संख्या 250 है।

कार्यशाला में प्रबंधन प्रणाली प्रमाणन स्कीम तथा हाॅलमार्किंग के विषय में विस्तृत चर्चा की गई। बीआईएस ने जानकारी की उत्तराखण्ड में अभी हाॅलमार्किग हेतु तीन केन्द्र देहरादून, पिथौरागढ़ तथा पौड़ी गढ़वाल में है। बीआईएस राज्य में मुख्यतः माननकीकरण के संदर्भ में राज्य सरकार के अधिकारियों के क्षमता निर्माण में रूचि ले रहा है।

Read Also  उत्तराखण्ड पुलिस ने तैयार कि चारधाम कोर एरिया हेतु विशेष यातायात कार्ययोजना

बीआईएस द्वारा अपेक्षा की गई है कि राज्य सरकारे किसी भी खरीद या परियोजना को लागू करते समय विभागों को अनिवार्य रूप से भारतीय मानकों का उल्लेख करने के लिए कहकर मानक के अनुपालन में महत्वपूर्ण भूमिका निभा सकती है।  
कार्यशाला में देहरादून के संबंधित विभागों के जनपद स्तरीय अधिकारी उपस्थित थे।  

Related posts

Leave a Reply

%d bloggers like this: