Be Positive Be Unitedभाजपा कार्यकर्ताओं के लिए राष्ट्र सर्वोपरि: त्रिवेंद्र सिंह रावतDoonited News is Positive News
Breaking News

भाजपा कार्यकर्ताओं के लिए राष्ट्र सर्वोपरि: त्रिवेंद्र सिंह रावत

भाजपा कार्यकर्ताओं के लिए राष्ट्र सर्वोपरि: त्रिवेंद्र सिंह रावत
Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

भाजपा मंडल प्रशिक्षण कार्यक्रम के तहत मुख्यमंत्री ने रानीपोखरी, माजरीग्रांट और बालावाला मंडल प्रशिक्षण शिविर में प्रतिभाग किया

मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने मंगलवार को भाजपा के मंडल प्रशिक्षण कार्यक्रम् के तहत रानीपोखरी मंडल, माजरी ग्रांट मंडल औौर बालावाला मंडल प्रशिक्षण शिविर में प्रतिभाग किया। रानीपोखरी मंडल प्रशिक्षण कार्यक्रम में प्रतिभाग करते हुए मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने कहा कि प्रशिक्षण भाजपा की कार्यपद्धति का हिस्सा रहा है। पार्टी अपने राजनैतिक चरित्र को ध्यान में रखते हुए कार्य करती है। भाजपा के लिए राष्ट्र सर्वोपरि है, उसके बाद पार्टी। कार्यकर्ताओं को प्रशिक्षण में यही अनुशासन सिखाया जाता है।

इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने सुरक्षा, सामर्थ्य और आत्मनिर्भर भारत की दिशा में किए जा रहे प्रयासों की जानकारी दी। उन्होंने कहा कि कोविड पर नियंत्रण के लिए प्रधानमंत्री जी ने जो प्रयास किए, उसकी दुनिया ने सराहना की। कोविड के शुरुआती दौर में उन्होंने जान है तो जहान है के मंत्र के साथ लाकडाउन किया। उसके बाद जान भी है और जहान भी के मंत्र के साथ पूरी सतर्कता के साथ आर्थिक गतिविधियां दुबारा शुरू की। भारत को आत्मनिर्भर बनाने के लिए उन्होंने 20 लाख करोड़ रुपए का पैकेज दिया।

उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री के कुशल मार्गदर्शन में देश कोविड पर तेजी से नियंत्रण पा रहा है। प्रधानमंत्री के वोकल फॉर लोकल के आह्वान को देशवासियों ने आत्मसात किया है। आत्मनिर्भर भारत के लिए इस दिशा में हमें तेजी से आगे बढ़ना होगा। आज भारत वैश्विक स्तर पर तेजी से बढ़ रहा है। प्रधानमंत्री ने दुनिया में भारत को एक अलग पहचान दिलाई है। पीएम के नेतृत्व में देश प्रगति के पथ पर अग्रसर है। देशवासियों ने प्रधानमंत्री जी के आह्वान पर हर वो कार्य किए हैं, जो भारत की  मजबूती में सहायक सिद्ध रहे हैं। कोरोना काल में समाज के हर वर्ग ने अपना सहयोग दिया है। भाजपा के कार्यकर्ताओं ने इस दौरान लोगों की हर संभव सहायता के प्रयास किए हैं।

मुख्यमंत्री ने कहा कि उत्तराखंड में राज्य सरकार ने भ्रष्टाचार पर कड़ा प्रहार किया। भ्रष्टाचारियों पर सख्त कार्रवाई की। कार्यों में पारदर्शिता लाने के लिए ई ऑफिस की शुरुआत की। सीएम डेस्बोर्ड के माध्यम से जन शिकायतों का समाधान तेजी से किया जा रहा है। पुलिस के लिए 03 करोड़ रुपए की थाना निधि दी। राज्य में शुरुआती 17 सालों में 40 हजार करोड़ का निवेश हुआ। इन्वेस्टर सम्मिट के दौरान राज्य में 01 लाख 25 हजार करोड़ के एमओयू हुए। पिछले 3 सालों में 25 हजार करोड़ रुपए के कार्यों की ग्राउंडिंग हो चुकी है। स्थानीय स्तर पर लोगो को स्वरोजगार उपलब्ध कराने के लिए सीएम स्वरोजगार योजना शुरू की गई है। इसमें 150 तरह के कार्य किए जा सकते हैं। राज्य में सौर स्वरोजगार योजना, पिरुल नीति, ग्रोथ सेंटर लोगों की आर्थिकी में सुधार के लिए उपयोगी साबित हो रहे हैं।

मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र ने कहा कि हमें अपने स्थानीय उत्पादों के बेतर इस्तेमाल दिशा में कार्य करने  होंगे। प्रकृति ने हमें वरदान स्वरूप बहुत कुछ दिया है।  स्थानीय उत्पादों की वैल्यू एडिशन पर विशेष ध्यान देने की जरूरत। उत्तराखंड की महिलाएं स्वरोजगार की दिशा में अच्छा कार्य कर रही हैं। इनके सहयोग के लिए राज्य सरकार ने महिला स्वयं सहायता समूहों को 05 लाख रुपए तक ब्याज मुक्त ऋण दिया जा रहा है। इस अवसर पर भाजपा के जिलाध्यक्ष शमशेर सिंह पुंडीर, रानीपोखरी के मण्डल अध्यक्ष राजेंद्र मनवाल, महामंत्री प्रेम पुंडीर व भाजपा के कार्यकर्ता उपस्थित थे। मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने बुल्लावाला में माजरी ग्रांट मंडल प्रशिक्षण कार्यक्रम में प्रतिभाग किया। उन्होंने कहा कि प्रशिक्षण पार्टी का विशेष कार्यक्रम होता है। पार्टी के नीतिगत, सैद्धांतिक विषय  व पार्टी के ध्येय के बारे में कार्यकर्ताओं को जानकारी दी जाती है।

इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने राज्य सरकार द्वारा किए जा रहे कार्यों के बारे में जानकारी दी। उन्होंने कहा कि सरकार बनने के बाद हमने भ्रष्टाचार पर कड़ा प्रहार किया। एनएच 74 मामले में 02 आईएएस एवम् 05 पीसीएस ऑफिसर को सस्पेंड किया। खाद्यान्न घोटाला, समाज कल्याण  में छात्रवृति घोटाला को उजागर किया एवं दोषियों पर सख्त कार्रवाई की। हमने चुनाव में जो विजन डॉक्यूमेंट बनाया था , उसमें से 85 प्रतिशत कार्य पूर्ण कर लिए हैं। राज्य के विकास के लिए आर्थिक गतिविधियों को बढ़ावा देना जरूरी है। उसके लिए ग्रामीण एवं शहरी क्षेत्रों के लिए स्पष्ट नीति आवश्यक है। राज्य सरकार ने इस दिशा में सुनियोजित प्लानिंग की। कृषि के  कार्यों को बढ़ावा देने के लिए बिना ब्याज के ऋण देने कि शुरुआत की। इसके काफी अच्छे परिणाम भी मिल रहे हैं। जब गांव और शहर में विकास समान रूप से होगा, तभी किसी प्रदेश का समग्र विकास होगा। राज्य सरकार ने ग्रामीण क्षेत्रों में मात्र 01 रुपए में स्वच्छ पेयजल दिया जा रहा है।

ग्रामीण क्षेत्रों में 14 लाख कनेक्शन दिए जाएंगे। राज्य में स्वास्थ्य सुविधाओं के सुदर में अनेक प्रयास किए गए। अटल आयुष्मान उत्तराखंड योजना के तहत प्रदेश के सभी 23 लाख परिवारों को सुरक्षा कवच दिया गया है। इस योजना के तहत 05 लाख रुपए तक का हेल्थ कवरेज दिया जा रहा है। इस योजना के तहत 192 करोड़ रुपए  से ज्यादा खर्चा लोगों के इलाज  पर 02 सालों में हुआ है। राज्य में 208 मेगावाट की सोलर फार्मिंग की योजना शुरू की। यह योजना पर्वतीय क्षेत्रों में काफी कारगर साबित होगी। सीएम स्वरोजगार योजना, सीएम सोलर स्वरोजगार योजना, मोटर, बाइक, टैक्सी योजना,  होम स्टे योजना से लोगों को स्वरोजगार से जोड़ा जा रहा है। वीर चन्द्र सिंह गढ़वाली योजना के तहत बस लेने के लिए 50 प्रतिशत तक सबसिडी दी जा रही है। इस अवसर पर भाजपा के जिलाध्यक्ष शमशेर सिंह पुंडीर, माजरी ग्रांट के मंडल अध्यक्ष राजकुमार व भाजपा के कार्यकर्ता उपस्थित थे।



Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.

Related posts

%d bloggers like this: