July 02, 2022

Breaking News

चारधाम यात्रा में 15 से ज्यादा लोगों की मौत

चारधाम यात्रा में 15 से ज्यादा लोगों की मौत

 

 

 

उत्तराखंड में चारधाम यात्रा शुरू हुए अभी एक सप्ताह ही हुआ है और 15 से ज्यादा लोगों की मौत हो गई है. इस पूरे घटनाक्रम ने अब स्वास्थ्य विभाग की तैयारियों की पोल खोल दी है. हालांकि अपना पूरा लाव लश्कर स्वास्थ्य विभाग ने चारधाम यात्रा में लगा रखा है लेकिन फिर भी लोगों की मौत होना एक बड़ा सवाल खड़ा करता है. अब इसके पीछे एक बड़ा कारण हेल्थ स्क्रिनिंग की अनिवार्यता न होना भी माना जा रहा है.

 

चारधाम यात्रा के लिए स्वास्थ्य विभाग अपनी तैयारी होने का भले ही लाख दावा करे लेकिन 3 मई से शुरू हुई यात्रा में अब तक 15 लोगों की मौत हॉर्ट अटैक और अन्य स्वास्‍थ्य कारणों के चलते हो चुकी है. वहीं 1 व्यक्ति की जान पैर फिसलने से गई. हेल्थ स्क्रिनिंग की अनिवार्यता न होना भी इसकी बड़ी वजह माना जा रहा है, जो कि हेल्थ डिपॉर्टमेन्ट मानता है कि रिकॉर्ड श्रद्धालुओं को देखते हुए संभव नहीं है. कॉर्डिलॉजिस्ट की कमी के मद्देनजर डिपॉर्टमेंट ने एम्स से 15 दिन की ट्रेनिंग डॉक्टर्स को करवाई थी.

Read Also  चंपावत और एबट माउंट में बनेगा हेली-पोर्ट, पंचेश्वर में होगा एंगलिंग समिटः सचिव पर्यटन

 

कहां-कहां कितने लोग

 

फर्स्ट मेडिकल रिस्पॉन्स टीम के तहत गंगोत्री में 13 जगह, बद्रीनाथ में 20 जगह, उत्तरकाशी में 25 जगह, 8 मिनी बल्ड बैंक, 4 ब्लड स्टोरेज, 108 एम्बुलेंस-102 जगह जबकि डिपॉर्मेन्टल 113 एम्बुलेंस चारधाम यात्रा में आए श्रद्धालुओं की देख रेख के लिए काम कर रही है.

 

परिवहन विभाग को भी दिक्कत

 

वहीं धामों में श्रद्धालुओं की संख्या सीमीत रखने के भी सरकार के ऑर्डर हैं. लेकिन इसको मैनेज करने में परिवहन विभाग मान रहा है कि दिक्कत आ रही है, ग्रीन कॉर्ड, ट्रिप कॉर्ड जारी हुए लेकिन निजी वाहन से लेकर हैली सेवा के जरिये लोग पहुंच रहे हैं जो मैनेज करने में दिक्कत आ रही है. अब यात्रा पर आए लोगों को दर्शन करने से रोका नहीं जा सकता है लेकिन रजिस्ट्रेशन के साथ साथ हेल्थ चेकअप को लेकर भी अगर गाइडलाइन्स जारी हो जाएं तो स्वास्थ्य कारणों से मौत का आंकड़ा कम जरूर हो सकता है.

Doonited Affiliated: Syndicate News Hunt

Source link

Related posts

Leave a Reply

%d bloggers like this: