Doonitedजिलाधिकारी देहरादून: डाॅ आशीष कुमार श्रीवास्तव, कोविड-19, News Updates of the Day 2/5/2020News
Breaking News

जिलाधिकारी देहरादून: डाॅ आशीष कुमार श्रीवास्तव, कोविड-19, News Updates of the Day 2/5/2020

जिलाधिकारी देहरादून: डाॅ आशीष कुमार श्रीवास्तव, कोविड-19, News Updates of the Day 2/5/2020
Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

देहरादून में ओला कैब, टैक्सियों व निजी कारों को मिल सकती है सशर्त अनुमति

 

 देहरादून जिले के ऑरेंज जोन में आने से लोगों को अब कुछ राहत मिलने की उम्मीद जताई जा रही है। केंद्र सरकार की गाइडलाइन के मुताबिक ऑरेंज जोन में ओला कैब और अन्य टैक्सियों के साथ ही निजी कारों को सशर्त अनुमति मिल सकती है।

हालांकि इसका फैसला स्थानीय प्रशासन करेगा। जिलाधिकारी डॉ. आशीष कुमार श्रीवास्तव का कहना है कि केंद्र सरकार की गाइडलाइन के मिलने के बाद ही राहत दी जाएगी। फिलहाल लॉकडाउन नियमों का पालन कराया जाएगा। डीएम ने कहा कि ऑरेंज जोन में आने के बाद चुनौतियां और ज्यादा बढ़ गई हैं। अब अगला लक्ष्य ग्रीन जोन में पहुंचना है। लॉकडाउन के बीच प्रशासन की ओर से लोगों को जरूरी राहत दी है। फैक्टरी, किताबें व पंखे की दुकानें खुल रही हैं।

आवश्यक सेवाओं की दुकानें रोज सुबह सात बजे से दोपहर एक बजे तक खुल रही हैं। उम्मीद है कि केंद्र सरकार की ओर से जारी गाइडलाइन में लोगों को और ज्यादा राहत मिले। ऑरेंज जोन में ओला कैब और टैक्सी सेवाओं को छूट मिल सकती है। इसमें ड्राइवर के अलावा दो यात्रियों को ले जाने की अनुमति होगी।




स्वास्थ्य जांच के बाद देहरादून से पौड़ी के लिए 29 बसों से भेजे गए 816 लोग

 

 मुख्यमंत्री जी उत्तराखण्ड सरकार के निर्देशों के क्रम में आज जनपद देहरादून से जनपद पौड़ी गढ़वाल के लिए विकासखण्डवार 29 बसों के माध्यम से 816 व्यक्त्यिों को स्वास्थ्य जांच (थर्मल स्क्रीनिंग) एवं कोविड-19 संक्रमण से बचाव हेतु प्रशिक्षण देने के उपरान्त भेजे गये हैं, इसी प्रकार अगले दो दिवसों में राज्य के अन्य जनपदों के ऐसे व्यक्ति जो लाॅक डाउन होने के कारण जनपद देहरादून में रह गये थे को उनके सम्बन्धित जनपदों हेतु भेजा जायेगा।

जिलाधिकारी डाॅ0 आशीष कुमार श्रीवास्तव ने बताया कि राज्य के अन्य जनपदों के जिलाधिकारियों को अनुरोध किया गया है कि यदि उनके यहां उपचार हेतु किसी रोगी को रेफर किया जाता है तो ऐसे रोगियों को दून मेडिकल कालेज एवं एम्स हेतु सन्दर्भित न करते हुए हिमालय हास्पिटल जौलीग्रान्ट हेतु सन्दर्भित किया जाय। उन्होंने बताया कि निजी ओपीडी खोलने के लिए पहले से ही अनुमति है जिसे सामाजिक दूरी का पालन करते हुए खोला जा सकता है तथा फ्लू ओपीडी भारत सरकार की गाईड के अनुसार ही संचालित करने की अनुमति है।




7452 लोगों को भोजन के पैकेट वितरित किये गये

 

विभिन्न स्वंयसेवी संस्थाओं ने जिला प्रशासन को सहयोग प्रदान करते हुए भोजन पैकेट उपलब्ध कराये, जिसमें मुख्यतः राधास्वामी सत्संग व्यास, गीता भवन, लोकायुक्त कार्यालय देहरादून,  गुरूद्वारा श्री गुरू अंगद देव जी कांवली रोड, पृथ्वीनाथ महादेव मंदिर समिति झण्डाबाजार, दून यूनिवर्सिटी, गौरव कुमार, रोशनी जन सेवा संस्थान डी.एल रोड चैक देहरादून, महिला सशक्तीकरण एवं बाल विकास परियोजना कार्यालय देहरादून, वेस्ट वाॅरियर्स संस्था सत्य सांई सेवा संस्थान, ई-नेट सोल्यूशन ट्रांस्पोर्टनगर देहरादून, शिल्पा प्रोडक्शन, ग्लोबल गाॅडमदर फाउंडेशन राजपुर रोड, अग्रवाल चैरिटेबल ट्रस्ट, महादेव एसोसिएट्स, गोयल स्वीट् शाप, कालिका मन्दिर समिति  द्वारा भोजन के पैकेट उपलब्ध कराये गये।

जनपद सदर क्षेत्रान्तर्गत कुल 7452 व्यक्तियों को  भोजन के पैकेट वितरित किये गये जिनमें, 1 वरिष्ठ नागरिक एवं 40 विद्यार्थी, दीपनगर में 1000, थाना पटेलनगर में 1200, चकशाहनगर में 1000, चन्द्रबनी में 110, चैयला में 80, गौतमकुण्ड में 60, ट्रांस्पोर्टनगर में 250, पटेलनगर चैकी में 552, कावंली बस्ती में 100, नगर निगम में 200, बाईपास चैकी में 150, कचहरी रोड में 40, अजबपुर में 84, कौलागढ में 10,बल्लीवाला में 20, पत्थरीबाग में 5, ब्रहा्रम्पुरी में 20, आईएसबीटी चैकी में 100, धारा चैकी में 720, इन्दिरानगर चैकी में 250, स्पोर्टस कालेज रायपुर में 100, थाना नेहरू कालोनी में 700, आराघर चैकी में 300, घंटाघर में 40, किशननगर में 10, मच्छीबाजार में 20, कारगी काली मन्दिर में 140, बंजारावाला में 120, नवादा में 30  व्यक्तियों को भोजन के पैकेट वितरित किये गये।

कोविड-19 के संक्रमण के दृष्टिगत जिला आपदा परिचालन केन्द्र देहरादून में जन सहायता हेतु स्थापित कन्ट्रोलरूम में कुल 104 काॅल प्राप्त हुई हैं, जिसमें, ई-पास हेतु 87, भोजन के लिए 1, राशन हेतु 13, मेडिकल की 3 काॅल प्राप्त हुई। जनपद में आज विभिन्न उद्योग गतिविधियों  हेतु 12 औद्योगिक प्रतिष्ठानों तथा विभिन्न औद्योगिक इकाईयों के कुल 241 कार्मिकों को पास निर्गत किये गये हैं। जनपद में मनरेगा कार्यों के अन्तर्गत आतिथि तक 565 निर्माण कार्य प्रारम्भ किये गये, जिनमें 5003 श्रमिकों को सैनिटाईजेशन एवं सामाजिक दूरी का अनुपालन करवाते हुए उक्त कार्य में योजित कर रोजगार उपलब्ध कराया गया।




600 लोगों को प्रशिक्षण दिया गया

 

कोविड-19 संक्रमण की रोकथाम के दृष्टिगत उप मुख्य पशु चिकित्साधिकारी डाॅ ए.के डिमरी, जिला खाद्य सुरक्षा अधिकारी जी.सी कण्डवाल द्वारा स्पोर्टस कालेज रायपुर में अन्य जनपदों को भेजे जाने वाले लगभग 600 व्यक्तियों को प्रशिक्षण दिया गया। प्रधानमंत्री जनधन खाताधारकों द्वारा जनपद में विभिन्न बैंकों से 1676 लाभार्थियों द्वारा अपने जनधन खाते से धनराशि की निकासी की गयी। आज मोबाईल एटीएम लक्खीबाग एवं आजाद कालोनी क्षेत्र में जनसुविधा हेतु उपलब्ध रही। ‘‘दून हैप्पी मील्स’’ में श्री उमेश कुमार पे्रमनगर  द्वारा 65 भोजन के पैकट उपलब्ध करवाया गया।

 

जिला प्रशासन की टीम द्वारा स्वयं सेवी संस्थाओं के सहयोग से जनपद अन्तर्गत विकासखण्ड चकराता, विकासनगर, सहसपुर, रायपुर व डोईवाला एवं तहसील सदर में कुल 2385 निराश्रित पशुओं जिसमें 1747 श्वान, 585 गौवंश एवं 53 अन्य पशुओं को चारा व पशु आहार उपलब्ध कराया गया। जिला प्रशासन की टीम द्वारा विभिन्न सामाजिक संस्थाओं एवं व्यक्तियों के सहयोग से जनपद के विभिन्न स्थानों पर 1905 अन्नपूर्णा राशन किट वितरित की गयी थाना बसंत विहार में 200, थाना कैन्ट में 100, थाना प्रेमनगर में 300, थाना रायपुर में 300, थाना नेहरू कालोनी में 400, थाना पटेलनगर में 300, थाना राजपुर में 100, तहसील मसूरी में 100, तहसील सदर में 105 अन्नपूर्णा किट वितरित किये गये।




21 मोबाइल वैन के माध्यम से सस्ते दरों पर 118.63 क्विंटल फल-सब्जियों का विक्रय किया गया

 

जनपद के विकासनगर क्षेत्र में 10 सरकारी सस्ते गल्ले की दुकानों के माध्यम से प्रति पैकेट रू0 43 की दर से 500 पैकेट विक्रय किया गया। इसी क्रम में जनपद के  विभिन्न चयनित स्थानों पर प्रशासन द्वारा अधिकृत 21 मोबाईल वैन के माध्यम से सस्ते दरों पर 118.63 क्विंटल फल-सब्जियों का विक्रय किया गया। जिला प्रशासन की टीम द्वारा जनपद के नगर निगम क्षेत्र देहरादून में अवस्थित भगत सिंह कालोनी में खाद्य एवं दैनिक उपयोग की आवश्यक सामग्री उपलब्ध करवाई गयी।

जिला पूर्ति विभाग द्वारा भगत सिहं कोलोनी में 42, मुस्लिम कालोनी, लक्खीबाग में 28, आजाद कालोनी में 13 तथा कारगीग्रान्ट में 22 गैस सिलेण्डर वितरित किये गये। प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना के अन्तर्गत भगत सिंह कालोनी में 678, लक्खीबाग क्षेत्र में 672, आजाद कालोनी में 953, कारगीग्रान्ट में 826, तथा बीस बीघा ऋषिकेश में 461 उपभोक्ताओं को खाद्यान उपलब्ध कराया गया। इसके अतिरिक्त आजाद कालोनी में 4 एवं भगत सिंह कालोनी में 2 मोबाईल वैन के माध्यम से फल-सब्जिया उपलब्ध कराई गई। दुग्ध विकास विभाग द्वारा आज भगत सिंह कालोनी 340 ली0, लक्खीबाग 305 ली0, कारगीग्रान्ट 330 ली0 , आजाद कालोनी 140 ली0,  20 बीघा कालोनी में 60 ली0 एवं शिवा एन्कलेव कालोनी ऋषिकेश में 65 ली कुल 1240 ली0 दूध विक्रय किया गया।




337990 लोगों की पुनः सामुदायिक निगरानी का कार्य किया गया

 

जिलाधिकारी डाॅ आशीष कुमार श्रीवास्तव ने अवगत कराया है कि कोरोना वायरस संक्रमण के संदिग्ध व्यक्तियों हेतु दैनिक सर्विलांस के आधार पर शिक्षकों, आशा कार्यकर्तियों  एवं आंगनबाड़ी कार्यकर्तियों द्वारा अब तक कुल 385226 व्यक्तियों की सामुदायिक निगरानी का कार्य किया गया तथा उक्त व्यक्तियों में से पुनः आतिथि तक 337990 व्यक्तियों की सामुदायिक निगरानी का कार्य किया गया। इसी क्रम में आज 43 टीमों द्वारा दूरभाष के माध्यम से 273 व्यक्तियों से सम्पर्क कर सामुदायिक निगरानी का कार्य किया गया।

आज कोरोना वायरस संक्रमण के दृष्टिगत संदिग्ध 64 व्यक्तियों के सैंपल जांच हेतु भेजे गये हैं तथा 102 सैम्पल प्राप्त हुए जिनमें 2 व्यक्तियों की रिपोर्ट पाजिटिव आने के फलस्वरूप जनपद में कोरोना पाजिटिव संक्रमितों की संख्या 33 हो गयी है, जिनमें 20 व्यक्ति स्वस्थ हो गये हैं तथा वर्तमान में 13 व्यक्ति उपचाररत् हैं।

कोरोना वायरस संक्रमण के दृष्टिगत लाॅक डाउन अवधि के दौरान जनपद में बनाये गये 08 राहत शिविरों  में ठहरे 125 व्यक्तियों का चिकित्सकों एवं परामर्शदाताओं द्वारा स्वास्थ्य परीक्षण उपरान्त कांउसिलिंग प्रदान की गयी। कोरोना वायरस संक्रमण के दृष्टिगत दिहाड़ी, मजदूरी करने आये 35 श्रमिकों जिन्हे मिलन वैडिंग प्वांइट हरबर्टपुर में बनाये गये राहत शिविर में ठहराया गया है, की साईकेट्रिक सपोर्ट टीम द्वारा रिवाइस्ड कांउसिलिंग की गयी। आज कोरोना वायरस संक्रमण की रोकथाम हेतु नियुक्त विभिन्न कार्मिकों को संक्रमण से सुरक्षा के दृष्टिगत 293 एन-95 मास्क, 8413 ट्रिपल लेयर मास्क, 406 पी.पी.ई किट, 70 वीटीएम वाईल, 100 सर्जिकल गलब्स, 3310 एग्सामिनेशन गलब्स तथा 35 सेनिटाइजर उपलब्ध कराये गये। कोरोना वायरस संक्रमण कोविड-19 की रोकथाम एवं नियंत्रण हेतु समस्त मेडिकल स्टोर पर बिना चिकित्सक के परामर्श की पर्ची के सर्दी, खांसी व जुकाम की दवाईयों का विक्रय प्रतिबन्धित किये जाने के उपरान्त समस्त मेडिकल स्टोर स्वामियों द्वारा जनपद में कुल 65 व्यक्तियों को चिकित्सकीय पर्ची के आधार पर सर्दी, खांसी व जुकाम की दवाईयां विक्रय की गयी।




Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.

Related posts

error: Be Positive Be United
%d bloggers like this: