August 04, 2021

Breaking News
COVID 19 ALERT Middle 468×60

महंगाई भत्ता बहाल : करोड़ों केंद्रीय कर्मचारी और पेंशनर्स खुश

महंगाई भत्ता बहाल : करोड़ों केंद्रीय कर्मचारी और पेंशनर्स खुश

केंद्रीय कर्मियों और पेंशनर्स के लिए बुधवार का दिन खुशखबरी लाने वाला रहा. इस दिन का उन्हें बड़ी ही बेसब्री से इंतजार था. आज सातवें वेतन आयोग को लेकर केंद्र सरकार ने बड़ा फैसला लिया. प्रधानमंत्री आवास पर हुई केंद्रीय कैबिनेट की बैठक में उनके महंगाई भत्ते को 17 फीसदी से बढ़ाकर 28 फीसदी कर दिया गया है.

केंद्रीय कैबिनेट की यह बैठक कई मायनों में खास रही. कोरोना काल के चलते करीब एक साल बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने वर्चुअल के बजाए फिजिकल तौर पर बैठक ली. मंत्रिमंडल विस्तार के बाद ये कैबिनेट की दूसरी बैठक है. बैठक के बाद केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर बड़े फैसलों के बारे में बताया. उन्होंने केंद्रीय कर्मियों के डीए और पेंशनर्स के डीआर के बारे में विस्तार से जानकारी दी. आइए, जानतें हैं इससे जुड़े जरूरी सवालों के जवाब.

कितने केंद्रीय कर्मचारी लाभान्वित होंगे, उन्हें कितना फायदा होगा?

केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में बताया कि सरकार के इस निर्णय से 48.34 लाख कर्मचारियों और 65.26 लाख पेंशनर्स को मिलेगा. वर्तमान में केंद्रीय कर्मियों को 17 फीसदी महंगाई भत्ता मिलता है. अब इसे बढ़ाकर 28 फीसदी कर दिया गया है. यानी केंद्रीय कर्मियों को उनके वेतन में 11 फीसदी ज्यादा लाभ मिलेगा.

Read Also  पीएम आज छात्रों और शिक्षकों से शिक्षा नीति पर चर्चा करेंगे

कितने पेंशनर्स को कितना फायदा होगा?

केंद्रीय कर्मियों को जिस तरह DA यानी Dearness Allowance मिलता है, उसी तरह पेंशनर्स को DR यानी Dearness Relief की रकम ​मिलती है. डीए की तरह पेंशनर्स को भी अब 28 फीसदी डीआर मिलेगा. सरकार के इस फैसले का लाभ 65.26 लाख पेंशनर्स को मिलने वाला है.

इस 11 फीसदी डीए बढ़ोतरी का आधार क्या है?

केंद्र सरकार, केंद्रीय कर्मियों के DA को हर 6 महीने में रिवाइज करती है. इसका कैलकुलेशन कर्मी के बेसिक पे (Basic Pay) को आधार मानकर प्रतिशत में किया जाता है. सरकार ने जनवरी, 2020 में डीए में 4 फीसदी की बढ़ोत्तरी की थी. इसके बाद जून, 2020 में महंगाई भत्ते में 3 फीसदी की बढ़ोत्तरी की गई थी. जनवरी, 2021 में भी महंगाई भत्ते में 4 फीसदी की बढ़ोत्तरी की गई थी. ऐसे में महंगाई भत्ता अब बेसिक सैलरी का 28 फीसदी हो चुका है. जैसा कि केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर ने बताया कि कोविड के कारण इसे रोके रखा गया था. तीनों किस्तों को जोड़कर एक साथ दिया जा रहा है

Read Also  Congress did not do the right thing, instead only did wrong politics: Nadda

जुलाई 2021 में डीए बढ़ोतरी का क्या हुआ?

केंद्रीय कर्मियों के लिए आज का दिन खास तो है, लेकिन एक वर्ग इस बात से निराश है​ कि जुलाई 2021 के डीए हाइक के बारे में सरकार ने कोई फैसला नहीं लिया. केंद्र सरकार ने फिलहाल जनवरी 2020, जुलाई 2020 और जनवरी 2021 के डीए को लेकर फैसला लिया है. जनवरी 2020 से ही इन तीनों किस्तों का भुगतान लंबित था.

कोरोना महामारी के कारण पिछले साल केंद्र सरकार ने 1 जनवरी 2020 से 1 जुलाई 2021 तक के लिए महंगाई भत्ते को फ्रीज कर दिया गया था. अब तीनों किस्तों को क्लियर करते हुए इसे 28 फीसदी किया गया है.

जहां तक जुलाई 2021 के डीए बढ़ोतरी का सवाल है, इस पर अभी निर्णय ​नहीं लिया गया है. केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर की प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान भी एक पत्रकार ने यह सवाल किया था. लेकिन अभी इस पर स्थिति स्पष्ट नहीं ​है कि इसका ऐलान कब किया जाएगा

अगर ऐसा होता तो कितना हो जाता DA?

पूर्व में आई कई रिपोर्ट्स में ऐसा कहा जा रहा था कि जुलाई 2021 के महंगाई भत्ते का ऐलान भी जल्द ही हो सकता है. उम्मीद जताई जा रही थी कि जुलाई 2021 में होने वाली महंगाई भत्ते में बढ़ोतरी 4 फीसदी हो सकती है. अगर ऐसा होता तो 1 जुलाई को तीन किस्तों के भुगतान के बाद के अगले छह महीने में 4 फीसदी का और भुगतान होता और महंगाई भत्ता 28 फीसदी से बढ़कर कुल 32 फीसदी तक पहुंच जाता. हालांकि अभी इस पर फैसला नहीं लिया गया है.

Read Also  France fined Google 500 million euros

Related posts

Leave a Reply

Content Protector Developer Fantastic Plugins
%d bloggers like this: