मुख्यमंत्री ने स्वामी सुन्दरानंद जी के ब्रह्मलीन होने पर श्रद्धांजलि अर्पित की है | Doonited News
Breaking News

मुख्यमंत्री ने स्वामी सुन्दरानंद जी के ब्रह्मलीन होने पर श्रद्धांजलि अर्पित की है

मुख्यमंत्री ने स्वामी सुन्दरानंद जी के ब्रह्मलीन होने पर श्रद्धांजलि अर्पित की है
Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

मुख्यमंत्री ने कहा कि परम पूज्य स्वामी सुन्दरानंद जी सच्चे मायनों में हिमालय के योगी थे। उन्होंने हिमालय की दिव्यता, पवित्रता और सुंदरता को अपने कैमरे के माध्यम से दुनिया के सामने रखा।

उनके द्वारा स्थापित गंगोत्री स्थित तपोवनम हिरण्यगर्भ आर्ट गैलेरी और  पुस्तक ‘हिमालय : थ्रू ए लेंस ऑफ ए साधु’ (एक साधु के लैंस से हिमालय दर्शन) विश्व को एक अनुपम देन है। उनका पूरा जीवन हिमालय के लिए समर्पित रहा। वे हम सभी के लिये सदैव प्रेरणास्त्रोत बने रहेंगे।

हिमालय के प्रसिद्ध फोटोग्राफर एवं गंगोत्री के प्रमुख संत स्वामी सुन्दरानंद ने 95 वर्ष की आयु में बुधवार की रात को शरीर छोड़ दिया है। आज गुरुवार को उनका शरीर गंगोत्री लाया जाएगा तथा उनकी तपोवन कुटिया के पास समाधि बनायी जाएगी। स्वामी सुन्दरानंद को बीते अक्टूबर माह में कोरोना संक्रमण भी हुआ था। जिससे स्वस्थ होकर अस्पताल से वह अपने परिचित डॉक्टर अशोक लुथरा के घर चले गए थे। रात को भोजन करने के बाद कुछ देर तक उन्होंने बातचीत की और फिर अपना शरीर छोड़ दिया। वहीं, मुख्‍यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने ट्वीट कर कहा हिमालय के विशेषज्ञ फोटोग्राफर कहे जाने वाले गंगोत्री के प्रमुख संत स्वामी सुन्दरानन्द ने अपना शरीर त्याग दिया है। स्वामी जी के जीवन से भविष्य की पीढ़ियों को प्रकृति प्रेम की प्रेरणा मिलती रहेगी। ईश्वर से प्रार्थना है कि उन्हें अपने श्रीचरणों में स्थान दे।

Read Also  प्रदेश में 44 नए कोरोना संक्रमित मिले, एक की मौत

ग़ौरतलब है कि हिमालय में अपने सफर के दौरान उन्होंने करीब ढाई लाख तस्वीरों का संग्रह किया है। जिसमें अधिकांश फ़ोटो गंगोत्री में स्थित उनकी आर्ट गैलरी में प्रदर्शित हैं। वर्ष 2002 में उन्होंने अपने अनुभवों को एक पुस्तक ‘हिमालय : थ्रू ए लेंस ऑफ ए साधु’ (एक साधु के लैंस से हिमालय दर्शन) में प्रकाशित किया। पुस्तक का विमोचन तत्कालीन प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी ने किया था। अब तक इस पुस्तक की साढ़े तीन हजार प्रतियां बिक चुकी हैं।



Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.

Related posts

doonited mast
%d bloggers like this: