January 18, 2022

Breaking News

राहत की खबर: नगर निगम व फरीदाबाद स्मार्ट सिटी लिमिटेड शहर में अलग -अलग स्थानों पर लगाएंगे नाै माइक्रो एसटीपी, जमीन का किया जा रहा सर्वे

राहत की खबर: नगर निगम व फरीदाबाद स्मार्ट सिटी लिमिटेड शहर में अलग -अलग स्थानों पर लगाएंगे नाै माइक्रो एसटीपी, जमीन का किया जा रहा सर्वे


फरीदाबादएक घंटा पहले

  • कॉपी लिंक
एसटीपी के लगने से सीवरेज व ड्रेनेज की समस्या होगी खत्म, पानी को ट्रीट कर एसटीपी के आसपास ही किया जाएगा प्रयोग - Dainik Bhaskar

एसटीपी के लगने से सीवरेज व ड्रेनेज की समस्या होगी खत्म, पानी को ट्रीट कर एसटीपी के आसपास ही किया जाएगा प्रयोग

  • दो से तीन एमएलडी तक पानी को ट्रीट करने की होगी क्षमता, लगाएगा स्मार्ट सिटी, निगम करेगा रखरखाव

​​​शहर के लिए अच्छी खबर है। नगर निगम और फरीदाबाद स्मार्ट सिटी लिमिटेड मिलकर शहर के उन स्थानों पर नौ माइक्रो एसटीपी लगाएंगे, जहां सीवर ओवरफ्लो अौर जलभराव की अधिक समस्या है। इसके लिए दोनों एजेंसियों ने काम करना शुरू कर दिया है। माइक्रो एसटीपी लगाने के लिए जगह का सर्वे किया जा रहा है। जमीन चिन्हित करने के बाद इस पर तेजी से काम शुरू कर दिया जाएगा।

माइक्रो एसटीपी से ट्रीट हाेने वाले पानी को आसपास लगे पार्क, सड़कों पर पानी के छिड़काव आदि के लिए प्रयोग किया जाएगा। नगर निगम प्रशासन की मानें तो ये एसटीपी दो से तीन एमएलडी क्षमता के होंगे। एसटीपी फरीदाबाद स्मार्ट सिटी लगाकर नगर निगम को देगा। नगर निगम की जिम्मेदारी उसके मेंटिनेंस की होगी।

तीन बड़े एसटीपी नहीं संभाल पा रहे व्यवस्था

बता दें कि शहर के बाहर तीन बड़े सीवरेज ट्रीटमेंट प्लांट लगे हुए हैं। लेकिन उन तीनों की ट्रीट करने की क्षमता कम होने से व्यवस्था नहीं संभल पा रही है। यही कारण है कि पूरे शहर में सीवर ओवरफ्लो कीसमस्या अक्सर बनी रहती है। निगम अधिकारियों की मानें तो इन तीनों एसटीपी में हर दिन पूरे शहर का 150 एमएलडी से ज्यादा सीवर का पानी भेजा जाता है। जबकि शहर में रोजाना करीब 200 एमएलडी सीवर का पानी जनरेट हो रहा है। क्षमता से अधिक और एसटीपी पुराना होने के कारण पानी भी प्रॉपर ट्रीट नहीं हो पा रहा है।

नगर निगम फरीदाबाद की फाइल फोटो

नगर निगम फरीदाबाद की फाइल फोटो

जेई और एसडीओ जगह तलाश कर दो दिन में देंगे रिपोर्ट

नगर निगम चीफ इंजीनियर रामजी लाल का कहना है कि शहर में 9 जगहों पर छोटे एसटीपी लगाने के लिए जगह की तलाश की जा रही है। जेई और एसडीओ को जमीन की तलाश कर दो दिन में रिपोर्ट देने को कहा गया है। रिपोर्ट आने के बाद सभी नौ माइक्रो एसटीपी को फरीदाबाद स्मार्ट सिटी लिमिटेड अपने बजट से बनाएगा और फिर उसे नगर निगम को सौंप देगा। चीफ इंजीनियर का कहना है कि एसटीपी लगने के बााद शहर में सीवर ओवरफ्लो और जलभराव की समस्या काफी हद तक खत्म हो जाएगी। इस पानी का प्रयोग पार्को के रखरखाव, कंस्ट्रक्शन साइटों व सड़कों पर िछड़काव के लिए किया जाएगा। इससे पीने वाले पानी की बचत होगी।

इन नौ स्थानों पर माइक्रो एसटीपी लगाने की है योजना

-नर्सरी बाग में लगाया जाएगा, जिसमें एनआईटी पांच नंबर, रेलवे रोड का पानी ट्रीट होगा

-झाडसेतली में बनने वाले एसटीपी में झाडसेतली व राजीव कॉलोनी इलाके का पानी ट्रीट होगा।

-गोल्फ कोर्स में लगाया जाएगा जिसमें एनआईटी तीन नंबर व ईएसआई कॉलेज का पानी ट्रीट होगा

-टाउन पार्क सेक्टर 12 में लगने वाले एसटीपी में सेक्टर 12, 13, 14, 15 का पानी ट्रीट किया जाएगा

-प्याली चौक के पास लगाया जाएगा जिसमें जनता कॉलोनी, नेहरू कॉलोनी, डबुआ कॉलोनी का पानी ट्रीट होगा

-सीही गांव में लगेगा जहां सेक्टर 8 इलाके का पानी ट्रीट किया जाएगा -बराही तालाब में बैंड मार्केट, सेक्टर 19 इलाके का पानी ट्रीट किया जाएगा।

-सेक्टर 45 में लगाया जाएगा जिसमें मेवला महाराजपुर का पानी ट्रीट होगा

-सेक्टर 33 में लगाने वाले एसटीपी में सेक्टर 28, 29, 30, 31, एत्मादपुर का पानी ट्रीट होगा

खबरें और भी हैं…

Doonited Affiliated: Syndicate News Hunt

Source link

Read Also  चार लड़कियों की मौत: तावडू के कांगरका में मिट्टी के टीले में दबने से चार लड़कियों की मौत

Related posts

Leave a Reply

Content Protector Developer Fantastic Plugins
%d bloggers like this: