July 03, 2022

Breaking News

शिक्षण संस्थानों के 100 गज की परिधि में तंबाकू, धूम्रपान की बिक्री न हो

शिक्षण संस्थानों के 100 गज की परिधि में तंबाकू, धूम्रपान की बिक्री न हो

-कोटपा अधिनियम का प्रभावी रूप से अनुपालन करवाने के दिए निर्देश, -डीएम ने ली स्टीयरिंग समिति की बैठक

देहरादून: जिलाधिकारी डॉ0 आर राजेश कुमार की अध्यक्षता में जिला स्तरीय स्टीयरिंग समिति की बैठक जिलाधिकारी शिविर कार्यालय में आहुत हुई। बैठक में जिलाधिकारी ने संबन्धित विभागों को जनपद में कोटपा अधिनियम का प्रभावी रूप से अनुपालन करवाने के निर्देश दिए।

साथ ही स्कूल, कॉलेज परिसरों के 100 गज की परिधि में तंबाकू धूम्रपान आदि समग्री की बिक्री न हो इसका नियमित निरीक्षण करें। सभी स्कूल, ऑफिस में तंबाकू प्रतिबंधित के बोर्ड चस्पा किए जाएं इसके लिए शिक्षा विभाग एवं अन्य विभागों के अधिकारियों को आवश्यक निर्देश दिए। जिला पर्यटन अधिकारी को पर्यटन स्थलों पर तंबाकू, धूम्रपान वर्जित के बोर्ड चस्पा करने के साथ ही कोटपा अधिनियम के प्राविधानों का परिपालन करवाने के निर्देश दिए। जिलाधिकारी ने ग्राम पंचायतों को तंबाकू मुक्त करने की दिशा में कार्य करने की दिशा में जिला पंचायतीराज अधिकारी को ग्राम पंचायत स्तर पर जागरुकता कार्यक्रम चलाने के निर्देश दिए।

Read Also  ‘डिजिटल युग में पत्रकारिता की चुनौतियां’ विषय पर हुआ गोष्ठी का आयोजन

साथ ही जिन दुकानों पर तंबाकू सामग्री बिक्री हो रही है उन पर तंबाकू के दुष्परिणामों सम्बंधी चेतावनी बोर्ड चस्पा हो। यह सुनिश्चित करें की कोई भी दुकानदार 18 वर्ष से कम उम्र के बच्चों को तंबाकू उत्पाद की बिक्री न करें, यदि कोई  ऐसा करता पाया जाता है तो उसके विरूद्ध कोटपा अधिनियम के तहत सख्त कार्रवाई की जाय जिलाधिकारी ने समिति के सदस्यों को समय समय पर स्कूल, कॉलेज परिसरों, सार्वजनिक स्थलों, होटल, रेस्टोरेंट, पर्यटन स्थलों पर संयुक्त निरीक्षण करते हुए कोटपा अधिनियम के परिपालन स्थिति से अवगत होने के भी निर्देश दिए।

पुलिस विभाग को सार्वजनिक स्थलों एवं तंबाकू प्रतिबंध जोन में निरन्तर छापेमारी एवं चालान की गतिविधि संचालित करने के निर्देश दिए। समस्त पुलिस थानों, राज्य के समस्त राजकीय संस्थानों, कार्यालयों को तंबाकू मुक्त घोषित किया जाए। अभियान के अंतर्गत 50 प्रतिशत शैक्षणिक संस्थानों तम्बाकू मुक्त घोषित करने, स्कूलों में धूम्रपान निषेध शपथ सम्मिलित करने, प्रत्येक ब्लॉक की 2 ग्राम पंचायतों  एवं 2 पर्यटन स्थलों को तंबाकू मुक्त करने की कार्रवाई के साथ ही सरकारी एवं  गैर सरकारी वाहनों के माध्यम से जनमानस तक तम्बाकू विरोधी सन्देश प्रसारित- प्रचारित करने के निर्देश दिए।

Read Also  दो सौ साल बाद कोटी गांव पहुंचे बाशिक महासू

माननीय स्वास्थ्य मंत्री उत्तरखण्ड सरकार द्वारा आओ गावं चलें उत्तराखण्ड को तम्बाकू मुक्त करें की थीम पर गावों को तम्बाकू मुक्त करने हेतु शुरूआती चरण में प्रत्येक ब्लॉक में 02 गावं को तम्बाकू मुक्त करने हेतु कार्ययोजना बनाये जाने के निर्देश दिए। बैठक में अपर मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ0 सी.एस रावत, पर्यटन अधिकारी जे0 एस0 चौहान, जिला आबकारी अधिकारी, डॉ0 अर्चना उनियाल, डॉ0 अनुराधा, एसएचओ जीआरपी देहरादून टीएस राणा, अनूप चौहान, सहायक नगर आयुक्त एस.पी जोशी  सहित सम्बन्धित विभागों के अधिकारी उपस्थित रहे।

Related posts

Leave a Reply

%d bloggers like this: