November 28, 2022

Breaking News

संसद के नए भवन का नामकरण डा. भीमराव अंबेडकर के नाम पर हो

संसद के नए भवन का नामकरण डा. भीमराव अंबेडकर के नाम पर हो

-संसद भवन नामकरण समिति के प्रतिनिधिमंडल ने नेता प्रतिपक्ष यशपाल आर्य व नेता विधानमंडल बसपा शहजाद अली को सौंपा ज्ञापन

संसद भवन नामकरण समिति के प्रतिनिधिमंडल ने नेता प्रतिपक्ष यशपाल आर्य और नेता विधानमंडल दल बसपा शहजाद अली मिलकर मांग की कि संसद के नए भवन का नामकरण बाबा साहेब डा. भीमराव अंबेडर के नाम पर किया जाए।

ऑल इंडिया दलित एक्शन कमेटी के प्रदेश उपाध्यक्ष गीताराम जायसवाल ने बताया कि नए संसद भवन के नामकरण की तैयारियां चल रही हैं। समिति के माध्यम से मांग की गई है कि नए संसद भवन का नामकरण डॉ भीमराव अंबेडकर के नाम पर किया जाए, जोकि भारत के भाग्य विधाता संविधान के रचयिता हैं।


राष्ट्रीय अनुसूचित जाति जनजाति विकास परिषद के प्रदेश संगठन प्रभारी गीताराम जायसवाल ने कहा कि यह मुहिम पूरे देश में चल रही है। हमने उत्तराखंड में यह मुहिम शुरु की है। हमको हर वर्ग के लोगों का भरपूर समर्थन व सहयोग मिल रहा है। नेता प्रतिपक्ष यशपाल आर्य और नेता विधानमंडल दल बसपा शहजाद अली ने हमको आश्वासन दिया है कि इस बात को सदन में पटल पर रखेंगे।

Read Also  संस्कृति के संरक्षण में मील का पत्थर साबित हो रहा है दीप महोत्सव

विधानसभा सत्र के दौरान पुरजोर तरीके से इस आवाज को उठाया जाएगा। इस प्रस्ताव को मुख्यमंत्री के समक्ष प्रस्तुत कर इस प्रस्ताव को पास कराने की पूरी कोशिश करेंगे। क्योंकि बाबा साहेब अंबेडकर सर्वसमाज के हितैषी रहे। उन्होंने न केवल अनुसूचित जाति के लिए काम किया बल्कि सभी जातियों को एक साथ लेकर आए और उनके हक की लड़ाई लड़ी।

सभी वर्गों की महिलाओं को उनके हक दिलाने का काम किया, इसलिए नई संसद भवन का नाम बाबा साहब डॉ भीमराव अंबेडकर के नाम पर ही होना चाहिए। ज्ञापन देने वालों में गीताराम जायसवाल प्रदेश प्रवक्ता शैलजा सिंह आर्य, संजय कुमार प्रदेश संयोजक श्रीकांत ऋषिका अशोक कुमार आदि शामिल रहे।

Related posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *