October 26, 2021

Breaking News

चारधाम यात्रा में निर्धारित संख्या की बाध्यता एवं ई पास रजिस्ट्रेशन व्यवस्था समाप्त हो

चारधाम यात्रा में निर्धारित संख्या की बाध्यता एवं ई पास रजिस्ट्रेशन व्यवस्था समाप्त हो

देहरादून: संयुक्त मोर्चा पर्यटन उद्योग एवं चार धाम महासंघ के तत्वावधान में उत्तराखंड की पर्यटन से जुड़ी विभिन्न इकाइयों ने चार धाम यात्रा को लेकर यात्रियों को हो रही परेशानियों सरकारी कुप्रबंधन एव जटिल रजिस्ट्रेशन की प्रक्रिया पर अपना विरोध दर्ज किया।

संयुक्त मोर्चा पर्यटन उद्योग के संयोजक अभिषेक अहलूवालिया ने कहा कि सरकार निर्धारित संख्या की बाध्यता तुरंत हटाए एव ईपास की रजिस्ट्रेशन की व्यवस्था को तुरंत समाप्त करें। टैक्सी मैक्सी एसोसिएशन के अध्यक्ष गिरीश भाटिया ने कहा ट्रिप कार्ड की बाध्यता तुरंत समाप्त की जाए, जिससे कि व्यवसाय को चलाने में कई तरह की दिक्कतें आ रही हैं।

यमुना घाटी होटल एसोसिएशन से आए पदाधिकारी भरत सिंह चौहान जी ने कहा कि सभी चार धामों में समान संख्या में यात्रियों की आने की व्यवस्था की जाए।टूर ऑपरेटर एसोसिएशन के अध्यक्ष विक्रम राणा ने कहा कि इतनी जटिल रजिस्ट्रेशन की व्यवस्थाओं से टूर पैकेज कर पाना असंभव है, इसीलिए इस व्यवस्था को तुरंत हटाया जाए।

Read Also  नैनीताल के बोट हाउस क्लब, कभी हुआ करता था 'यॉट क्लब'


उत्तरांचल प्रेस क्लब में आयोजित प्रेस कांफ्रेंस में विभिन्न पर्यटन इकाइयों के पदाधिकारियों एवं सदस्यों ने प्रतिभाग किया जिनमें मुख्य रुप से टूर ऑपरेटर्स एसोसिएशन, उत्तराखंड टैक्सी मैक्सी एसोसिएशन, पंचपुरी टेंपो ट्रैवलर एसोसिएशन हरिद्वार, होटल एसोसिएशन यमुना घाटी, होटल एसोसिएशन उत्तरकाशी, होटल एसोसिएशन श्रीनगर, होटल एसोसिएशन केदार घाटी एवं बद्रीनाथ से आए व्यवसायियों ने प्रतिभाग किया।

चारधाम होटल एसोसिएशन से संयोजक प्रतीक कर्णवाल ने कहा इन व्यवस्थाओं से चार धाम में आने वाले तीर्थ यात्रियों का शोषण हो रहा है और उन्हें अनेक प्रकार की दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। अतः सरकार जरुरी कदम उठाए जिससे आने वाले तीर्थ यात्रियों का चार धाम यात्रा दर्शन करना सरल हो सके और अतिथि देवो भव कि हमारी रिति का सम्मान हो सके।

साथ ही सभी ने सामूहिक रूप से कहा कि हमारे चार धामों की यात्रा जो विश्व विख्यात है उसकी छवि ऐसे व्यवहार से धूमिल हो रही है। सभी ने पुरजोर आग्रह किया सरकार से जहां-तहां बीच रास्ते में यात्री को कहीं भी ना रोका जाए और जो भी दस्तावेज देखने हो वह अंतिम पड़ाव पर ही चेक किए जाएं।

Read Also  महाराज ने संस्कृति विभाग के कार्यों में तेजी लाने के अधिकारियों को दिये निर्देश

इसके साथ ही चार धाम रास्ते में पड़ने वाले विभिन्न पर्यटक स्थलों पर आने जाने की किसी भी प्रकार से यात्री को रोक-टोक ना की जाए। साथ ही सभी संस्थाओं ने एक मंच पर आकर एक स्वर में सरकार को यह चेतावनी भी दी की यात्रा सुचारू रूप से नहीं होती हैं तो हम सब  इस चार धाम यात्रा का विरोध करेंगे और चार धाम यात्रा को इस रूप में चलाने में अपने आप को असमर्थ पाएंगे।

प्रेस कॉन्फ्रेंस में शामिल होने वालों में दीपक भल्ला, चंद्रकांत शर्मा, दिनेश डोभाल, विक्रम कोठियाल, संजय शर्मा, इकबाल सिंह, विजय शुक्ला नितिन गुप्ता अरविंद खनेजा अर्जुन सैनी, अंजीत कुमार, हरीश भाटिया, महेंद्र घिल्डियाल, अनिल चौहान, मुकेश चौहान आदि पदाधिकारी और सदस्य शामिल रहे।

Related posts

Leave a Reply

Content Protector Developer Fantastic Plugins
%d bloggers like this: