Breaking News

आयुक्त गढवाल मण्डल सुशील कुमार ने चारधाम यात्रा को लेकर दिए दिशा-निर्देश

आयुक्त गढवाल मण्डल सुशील कुमार ने चारधाम यात्रा को लेकर दिए दिशा-निर्देश

देहरादून दिनांक 13 अपै्रल 2023, (जि.सू.का), आयुक्त गढवाल मण्डल सुशील कुमार ने चारधाम यात्रा तैयारियों एवं व्यवस्थाओं के सम्बन्ध में स्वर्ण जयंती सभागार नगर निगम सभागार ऋषिकेश में बैठक लेते हुए सम्बन्धित जिलाधिकारियों, वरिष्ठ पुलिस अधीक्षकों एवं सम्बन्धित विभागों के अधिकारियों को आवश्यक दिशा-निर्देश दिए।

उन्होंने गत बैठक में चारधाम यात्रा को लेकर दिए गए दिशा निर्देशों के अनुपालन में विभाग वार कार्य प्रगति की जानकारी लेते हुए संबंधित अधिकारियों को चारधाम यात्रा से पहले कार्य पूर्ण करने के निर्देश दिए । इस दौरान पर्यटन विभाग द्वारा दर्शन टोकन व्यवस्था का अवलोकन कराया गया।


आयुक्त गढवाल मण्डल ने कहा कि चारधाम यात्रा के महत्व को समझते हुए संगठित समन्वयित होकर टीम भावना से कार्य करें। कहा कि विगत वर्ष की चारधाम यात्रा का अनुभव सकारात्मक रहा है इस यात्रा वर्ष अधिक तीर्थ यात्रियों के आने की पूरी संभावना है।

उत्तराखण्ड देवभूमि में आनेवाले सभी श्रद्धालुओं को धामों के दर्शन हों इसके लिए व्यवस्था सुनिश्चित की जायेगी। उन्होंने कहा कि पिछले यात्रावर्ष में रिकार्ड 46 लाख तीर्थयात्री चारधाम पहुंचे इस यात्रा वर्ष में इससे भी अधिक तीर्थ यात्रियों के पहुंचने की संभावना है तीर्थयात्रियों की यात्रा सरल सुगम रहे इसलिए यात्रा को रेगुलेट किया जाना जरूरी है, इसके लिए यात्रियों के आनलाइन/आफलाईन पंजीकरण की व्यवस्था को लागू किया गया है।

साथ ही जिलाधिकारियों को बदरीनाथ, केदारनाथ तथा गंगोत्री, यमुनोत्री में आवास व्यवस्था,यात्रा मार्गों के सुदृढ़ीकरण, पैदल मार्ग सुरक्षात्मक उपाय, सचिव आपदा प्रबंधन के निर्देशानुसार आपदा के दृष्टिगत सुरक्षात्मक उपाय तथा तैयारियां, चारों धामों हेतु स्वास्थ्य सुविधाओं, केदारनाथ मार्ग पर साफ सफाई, घोड़े खच्चरों का पंजीकरण, स्वास्थ्य परीक्षण, शैल्टर, पेयजल उपलब्ध कराना सुनिश्चित किया जाये।


उन्होंने निर्देश दिए कि चारधाम यात्रा में कानून व्यवस्था चाक-चैबंद रखने, स्वास्थ्य विभाग के द्वारा चिकित्सकों की तैनाती,जीवन रक्षक दवाइयों, उपकरण, आक्सीजन सिलेंडर एंबुलेंस, एअर एंबुलेंस की ब्यवस्था, केदारनाथ एवं यमुनोत्री में कार्डियोलॉजिस्ट तैनाती,यात्रा बस टर्मिनल ऋषिकेश ट्रांजिट केंप में 6 बेड यात्री चिकित्सालय में जल्द स्टाफ की आवश्यक निर्देश दिए।

Must Read  मुख्यमंत्री ने चम्पावत में सिखों के प्रमुख तीर्थ स्थल गुरुद्वारा श्री रीठा साहिब में जोड़ मेले का शुभारंभ किया


आयुक्त गढवाल मण्डल ने यात्रा को सुगम एवं सुव्यवस्थित बनाने के लिए सम्बन्धित जिलाधिकारियों के साथ ही समस्त सभी विभागों आपसी समन्वय से कार्य करते हुए व्यवस्था बनाने के निर्देश दिए। साथ ही धाम में पंहुचने वाले प्रत्येक व्यक्ति को दर्शन कराया जाए। उन्होंने चारधाम यात्रा मार्गों पर साफ-सफाई, के साथ ही मूलभूत व्यवस्थाओं बनाने के साथ ही पेयजल, शौचालय, पार्किंग, स्वास्थ्य सेवा, दवाई स्टाॅक, खाद्य भण्डारण आदि व्यवस्थाएं पूर्व में ही जांच लेने के निर्देश दिए।

उन्होंने लोनिवि, एनएचआई, बीआरओ को 15 अपै्रल 2023 तक पूर्ण किये जाने हेतु दिए गए निर्देशों के क्रम में यात्रारूट पर कई स्थानों कार्य पूर्ण न होने की दशा में नाराजगी व्यक्त करते हुए यात्रा प्रारम्भ होने से पूर्व कार्य पूर्ण करने तथा बीआरओ को धरासू बैण्ड के पास यात्रा आवागमन में कठिनाई न हो इसके लिए सड़क सुव्यवस्थित बनाने, सीरोबगड़ में यात्रा का वैकल्पिक रूट को सुव्यवस्थित बनाने तथा डामटा रूट को ठीक किये जाने के निर्देश दिए।

Commissioner Garhwal Mandal Sushil Kumar gave guidelines regarding Chardham Yatra


बैठक में सम्बन्धित कार्यदायी संस्थाओं द्वारा यात्रा रूट पर पार्किंग, डेंजर जोनों पर सूचना पट लगाने, मार्ग अवरूद्ध होने मौसम की जानकारी हेतु इलेक्ट्रॉनिक डिस्प्ले लगाने, सड़को को गड्डा मुक्त करने डामरी करण, शिरोबगड़ से खांकरा पुल तक भू स्खलन की समस्या को देखते हुए वैकल्पिक मार्ग डुंगरी पंथ खेड़ाखाल मार्ग , लामबगड़, धराशू बेंड जैसे स्थानों में सड़क को दुरुस्त करने हेतु बीआरओ, लोक निर्माण विभाग,एनएचएआई, राष्ट्रीय राजमार्ग निर्माण विभाग ने प्रगति रिपोर्ट प्रस्तुत की।

Must Read  दर्शन और सुरक्षित चारधाम यात्रा के लिए उत्तराखण्ड पुलिस के जवान समर्पित हैं : पुलिस महानिदेशक


उन्होंने सम्बन्धित जिलाधिकारियों एवं पुलिस अधीक्षकों को यात्रा स्थल एवं यात्रा पड़ावों पर भीड़ नियंत्रण के साथ ही बेहतर यातायात प्रबन्धन तथा आपदा के दृष्टिगत कन्ट्रोलरूम के साथ ही आपदा के लिहाज से चिन्हित संवेदनशील क्षेत्र में मशीन, उपकरण आदि व्यवस्थाएं पूर्व में स्थापित करने के निर्देश दिए। उन्होनें निर्देश दिए कि पैदल मार्ग पर घोड़ा खच्चर को रोटेशनवार चलाया जाए घोड़ा एवं खच्चरों का यात्रा से पूर्व स्वास्थ्य परीक्षण के साथ ही प्रत्येक का पंजीकरण एवं नियमित स्वास्थ्य परीक्षण करवायें। उन्होंनें यात्रा मार्ग एवं धाम पर पशु चिकित्सक तैनात रखने के निर्देश दिए।


उत्तराखंड पर्यटन विकास परिषद ने यात्री पंजीकरण प्रक्रिया का प्रस्तुतीकरण देते हुए बताया कि अभी तक चारों धामों में साढ़े 13 लाख तीर्थयात्रियों ने पंजीकरण करवा दिया है। तथा चारों धामों में पर्यटन मित्रों की तैनाती की जा रही है। दर्शन टोकन प्रक्रिया तथा यात्री रजिस्ट्रेशन तथा वैरिफिकेशन की जानकारी दी। पंजीकरण संस्था इथिक्स इंफोटेक ने बताया कि ऋषिकेश, हरिद्वार तथा धामों में वैरिफिकेशन काउंटर बनाये गये है जबकि यात्री रजिस्ट्रेशन वेबसाइट, फोन, वाटसप नंबर से किये जा रहे है। आयुक्त ने निर्देश दिये कि सभी वेरिफिकेशन काउंटर, नेट कनैक्टिविटी, वाई-फाई, मैन पावर, स्केनरों की संख्या, तथा अन्य संशाधन बढाये जाये।

बैठक के पश्चात गढवाल आयुक्त श्री सुशील कुमार एवं जिलाधिकारी देहरादून श्रीमती सोनिका व  संबंधित अधिकारी  ने ऋषिकेश में नव निर्मित रजिस्ट्रेशन काउंटर तथा ट्रांजिट केंप का निरीक्षण किया तथा ब्रिडकुल को तीन दिन की समय सीमा में ट्रांजिट केंप में सभी कार्य पूरे करने के निर्देश दिये।

उल्लेखनीय है कि ट्रांजिट कैंप में यात्रा रजिस्ट्रेशन काउंटर बन कर तैयार हो गये है जहां कार्यदायी संस्था ईथिक्स ने स्टाफ तथा रजिस्ट्रेशन हेतु आवश्यक उपकरण लगा दिये है। ट्रांजिट केंप में यात्री शैल्टर, हेल्प डेस्क, सूचना सहायता केंद्र, अस्पताल, डारमेट्री सुविधा, केंटीन, सहित बड़ी संख्या में बसों हेतु पार्किंग का भी निर्माण हुआ है‌।

Must Read  बन्नू रेसकोर्स देहरादून में ‘9 वर्ष उत्कर्ष के’ विकास और संस्कृति का महोत्सव


पुलिस महानिरीक्षक गढ़वाल केएस नगन्याल ने कहा कि चारधाम यात्रा के दौरान एसडीआरएफ, गोताखोर,ट्रेफिक पुलिस व्यवस्था, चारों धामों में वाहनो की संख्या निर्धारित करने, ट्रैफिक व्यवस्था हेतु नोडल अधिकारी नामित किये गये है। बदरीनाथ धाम में डयूटी पर आनेवाले जवानों की व्यवस्था हेतु भी आवास उपलब्ध करवाये जायेंगे।


ज्ञातब्य है कि अक्षय तृतीया 22 अप्रैल से चारधाम यात्रा शुरू हो रही है। श्री गंगोत्री- यमुनोत्री धाम के कपाट 22 अप्रैल अक्षय तृतीया के दिन खुलेंगे। जबकि केदारनाथ धाम के कपाट 25 अप्रैल एवं श्री बदरीनाथ धाम के कपाट 27 अप्रैल को खुलेंगे। बताया गया कि श्री हेमकुंट साहिब के 20 मई खुलेंगे।


इस अवसर पर पुलिस महानिरीक्षक गढ़वाल केएस नगन्याल, सहित जिलाधिकारी देहरादून श्रीमती सोनिका, जिलाधिकारी हरिद्वार विनय शंकर पांडेय, जिलाधिकारी रूद्रप्रयाग मयूर दीक्षित, मुख्य विकास अधिकारी चमोली डा. ललित नारायण मिश्र, मुख्य विकास अधिकारी उत्तरकाशी, अपर जिलाधिकारी प्रशासन देहरादून डाॅ एस के बरनवाल, अपर आयुक्त नरेंद्र सिंह क्वीरियाल, अपर जिलाधिकारी पौड़ी ईला गिरी, अपर जिलाधिकारी टिहरी कृष्ण कुमार मिश्र,नगर निगम आयुक्त राहुल गोयल, पुलिस अधीक्षक ग्रामीण देहरादून कमलेश उपाध्याय, उपजिलाधिकारी ऋषिकेश सौरभ असवाल, एसपी उत्तरकाशी अर्पण यदुवंशी, संभागीय परिवहन अधिकारी देहरादून सुनील कुमार, नवनीत सिंह रोटेशन अध्यक्ष संजय शास्त्री, पर्यटन विकास परिषद के सहायक निदेशक योगेन्द्र सिंह गंगवार, तहसीलदार उर्मिला शर्मा, एआरटीओ मोहित कोठारी,एआरटीओ मोहित पांडेय, इथिक्स इंफोटेक के गजेन्द्र सिंह, आदि मौजूद रहे।


कार्यालय जिला सूचना अधिकारी देहरादून

Related posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *