January 20, 2022

Breaking News

डीएसपी रीडर पर फर्जी समझौते के आरोप: पानीपत के भैंस व्यापारी से हुई 2.20 लाख की धोखाधड़ी, रीडर ने करवाया समझौता, केस दर्ज

डीएसपी रीडर पर फर्जी समझौते के आरोप: पानीपत के भैंस व्यापारी से हुई 2.20 लाख की धोखाधड़ी, रीडर ने करवाया समझौता, केस दर्ज


  • Hindi News
  • Local
  • Haryana
  • Panipat
  • Panipat DSP Got The Victim Made A Fake Settlement With The Accused Of Fraud, The Case Was Registered On The Orders Of Home Minister Anil Vij

पानीपत34 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक
गृहमंत्री अनिल विज के आदेशों पर किला थाना पानीपत पुलिस ने केस दर्ज कर शुरू की जांच। - Dainik Bhaskar

गृहमंत्री अनिल विज के आदेशों पर किला थाना पानीपत पुलिस ने केस दर्ज कर शुरू की जांच।

हरियाणा के पानीपत जिले के गांव राजाखेड़ी के भैंस व्यापारी से करनाल के दो भैंस व्यापारियों ने 2.20 लाख रुपए की धोखाधड़ी कर ली गई। पीड़ित का आरोप है कि डीएसपी के रीडर ने आरोपियों के साथ मिलीभगत करके उन्हें डरा धमाकर कोरे कागज पर अंगूठा लगवा लिया और पुलिस के आला अधिकारियों को गुमराह कर दिया कि दोनों पक्षों में समझौता हो चुका है। गृहमंत्री अनिल विज के आदेश पर आरोपी भैंस व्यापारियों के खिलाफ किला थाना पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया है। किला थाना पुलिस मामले की आगामी कार्रवाई में जुट गई है।

गृहमंत्री अनिल विज को दी शिकायत
गृहमंत्री अनिल विज को दी शिकायत में राजाखेड़ी गांव के 72 वर्षीय जिले सिंह ने बताया कि उन्होंने करनाल के मुंडो गढ़ी गांव के दिलशाद और बिल्लू को राजाखेड़ी गांव के सूरजा नंबरदार की 70 हजार, रघबीर की 1.10 लाख और निंबरी के नन्हा की 60 हजार रुपए में भैंस दिलवाई थी। आरोपियों ने नन्हा को 20 हजार रुपए दे दिए थे। आरोपियों ने भैंस मालिकों के 2.20 लाख रुपए नहीं लौटाए और न ही भैंस वापस की। उन्होंने बार-बार काल की और आरोपियों के घर भी गया, लेकिन रुपए नहीं लौटाए। उन्होंने 5 अक्टूबर 2021 को किला थाने में शिकायत दी। इसके बावजूद पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई नहीं की।

डीएसपी के रीडर पर लगाए आरोप
इस मामले की जांच को लेकर वह लघु सचिवालय में डीएसपी कार्यालय में रीडर जगपाल से मिला। आरोप है कि जगपाल आरोपियों के साथ सांठ-गांठ कर डरा धमका कर उनसे कोरे कागज पर अंगूठा लगवा लिया। जगपाल ने राजीनाम लिखकर उच्च अधिकारियों को गुमराह कर दिया। आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई नहीं की गई। पीड़ित ने पुलिस प्रशासन से मांग की है कि आरोपी दिलशाद व बिल्लू को गिरफ्तार कर उनके 2.20 लाख रुपए दिलाए जाएं। जगपाल के खिलाफ विभागीय कार्रवाई की जाए। किला थाना पुलिस ने आरोपी दिलशाद व बिल्लू के खिलाफ धोखाधड़ी का मामला दर्ज कर लिया है।

खबरें और भी हैं…

Doonited Affiliated: Syndicate News Hunt

Source link

Read Also  पानीपत में ओमिक्रॉन का पांचवां केस: अमेरिका से लौटी करहंस गांव की युवती मिली पॉजिटिव, कोरोना के 116 नए केस आए सामने

Related posts

Leave a Reply

Content Protector Developer Fantastic Plugins
%d bloggers like this: