Be Positive Be Unitedस्कूली बच्चों ने “रैबीज एजुकेशन” पर वर्चुअल सेमिनार में भाग लियाDoonited News is Positive News
Breaking News

स्कूली बच्चों ने “रैबीज एजुकेशन” पर वर्चुअल सेमिनार में भाग लिया

स्कूली बच्चों ने “रैबीज एजुकेशन” पर वर्चुअल सेमिनार में भाग लिया
Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.




विश्व रेबीज दिवस के तहत पशु कल्याण संगठन, ह्यूमेन सोसाइटी इंटरनेशनल / इंडिया ने ग्लोबल अलायन्स फॉर रेबीज कण्ट्रोल (GAARC) के साथ “रेबीज प्रिवेंशन की जागरूकता” के ऊपर 9 ऑनलाइन वेबिनार का आयोजन किया। वेबिनार में देहरादून, वडोदरा और लखनऊ के स्कूलों के कुल 263 छात्रों और शिक्षकों ने भाग लिया। इस वेबिनार को एच इस आई/इंडिया के एक्सपर्ट्स, डॉ अमित चौधरी, फैज़ान जलील, डॉ. पियूष पटेल और डॉ श्रीकांत वर्मा के द्वारा सम्बोधित किया गया।

एक सप्ताह के इस सेमिनार को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से सफलतापूर्वक आयोजित किया गया जो 28 सितंबर तक चला जिसके द्वारा छात्रों को अनेक विषयो के बारे में जानकारी दी गयी जैसे; रेबीज का इतिहास, इस बीमारी के लिए जागरूकता लाना, यह कैसे फैलता है, और इसे रोकने के लिए हम क्या कर सकते हैं। साथ ही उन्हें रेबीज को समाप्त करने के लिए एक साथ काम करने के महत्व, पशुओं को इस बीमारी से बचाने के लिए टीकाकरण किया जाना और संभावित रूप से रेबीज ग्रस्त जानवरों के संपर्क में आने वाले लोगों को बचाने के लिए पोस्ट-एक्सपोज़र टीकाकरण को प्रोत्साहित करना आधी के बारे में सिखाया गया। छात्रों को प्रस्तुतकर्ताओं से सवाल पूछने का भी मौका दिया गया ताकि वे रेबीज के विषय पर और जानकारी ले सके।



भावयांश नेगी, विवेकानंद स्कूल देहरादून के छात्र, वेबिनार के बारे में बताते हुए कहते हैं, “हमें रेबीज के बारे में सिखाने के लिए मैं आपका बहुत आभारी हूं। मैंने इस वेबिनार से यह सीखा है कि हम जानवरों के काटने के दौरान और बाद में कैसे अपनी स्वास्थ्य की देखभाल कर सकते हैं। रेबीज से लड़ने के लिए, मैं यह सुनिश्चित कर रहा हूं कि मेरे आस पास वाले वाले सारे कुत्तो को एंटी रेबीज टीका लगाया जाए ”।

वर्तमान में एच इस आई/इंडिया की देहरादून और नैनीताल (उत्तराखंड), वडोदरा (गुजरात) और लखनऊ (उत्तर प्रदेश) में उपस्थिति है जहा यह स्ट्रीट डॉग्स के जनसंख्या प्रबंधन पर काम करता है और सामुदायिक लोगो के साथ मिलकर कुत्तो से जुडी मुद्दों का हल निकलता है। 2013 के बाद से, यह अबतक भारत के कई शहरों में 138,064 से अधिक कुत्तो की नसबंदी और 1, 81,558 कुत्तों का टीकाकरण कर चुका है।




Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.

Related posts

%d bloggers like this: