अल्मोड़ा: आरओ, एआरओ, प्रभारी व सहायक प्रभारी अधिकारियों को दिया पंचायत चुनाव प्रशिक्षण | Doonited.India

October 23, 2019

Breaking News

अल्मोड़ा: आरओ, एआरओ, प्रभारी व सहायक प्रभारी अधिकारियों को दिया पंचायत चुनाव प्रशिक्षण

अल्मोड़ा: आरओ, एआरओ, प्रभारी व सहायक प्रभारी अधिकारियों को दिया पंचायत चुनाव प्रशिक्षण
Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.
अल्मोड़ा:  त्रिस्तरीय पंचायत सामान्य निर्वाचन को निष्पक्ष व शान्तिपूर्ण सम्पन्न कराने हेतु आज उदय शंकर नाट््य अकादमी फलसीमा में आरओ, एआरओ, प्रभारी व सहायक प्रभारी अधिकारियों को प्रथम प्रशिक्षण दिया गया। प्रशिक्षण को सम्बोधित करते हुये जिला निर्वाचन अधिकारी नितिन सिंह भदौरिया ने कहा कि निर्वाचन लोेकतन्त्र का महत्वपूर्ण अंग है, इसे निष्पक्ष पारदर्शिता से सम्पन्न कराना हम सबका दायित्व है। उन्होने निर्वाचन मे तैनात सभी अधिकारियों से कहा कि वे निर्वाचन को गम्भीरता से लंे व सजग होकर निर्वाचन सम्पन्न कराना सुनिश्चित करें। उन्होने कहा कि सभी आरओ, एआरओ अपनी हस्त पुस्तिका का भली-भांति अध्ययन कर लें। किसी प्रकार की समस्या आने पर कन्ट्रोल रूम अथवा उच्चाधिकारियों से सम्पर्क कर शंका का समाधान अवश्य करा लेें।

जिला निर्वाचन अधिकारी ने कहा कि नामांकन प्रक्रिया अति महत्वपूर्ण होती है इसलिए आरओ, एआरओ हस्त पुस्तिका के अनुसार आयोग द्वारा दिये गये निर्देशों का अनुपालन करते हुये एकाग्र व सजग होकर कार्य करें तथा सभी प्रकार के प्रपत्रो का परीक्षण करें। प्रशिक्षण में मुख्य विकास अधिकारीध्उप जिला निर्वाचन अधिकारी मनुज गोयल ने कहा कि अधिकारियो को आज के प्रशिक्षण मे जो भी जानकारी दी गई है उसे अच्छी तरह से समझ ले ताकि निर्वाचन कार्य आसानी से सम्पन्न हो सके।  उन्होने कहा कि रिटर्निंग अधिकारियों को जो भी सामग्री की आवश्यकता है वह उसे पंचस्थानीय चुनावालय से आज ही प्राप्त कर लें। मुख्य विकास अधिकारी ने सभी आर ओ को निर्देश दिए कि वह प्रत्येक दिन की निर्वाचन से सम्बंधित सूचना जिला मुख्यालय में स्थित नियंत्रण कक्ष को अवश्य उपलब्ध कराएं।

प्रशिक्षण में नोडल अधिकारी प्रशिक्षणध्परियोजना निदेशक नरेश कुमार और जिला शिक्षाधिकारी एच0बी0 चन्द ने सभी अधिकारियों को नामांकन प्रक्रिया, नामांकन पत्रों की जांच, नाम वापसी, प्रतीक चिन्ह आवंटन आदि प्रक्रिया के बारे में पावर पॉइंट प्रजेंटेशन के माध्यम से जानकारी दी गई। उन्होंने अवगत  कराया कि चुनाव लड़ने वाले अभ्यर्थी ने नामांकन के दिन 21 वर्ष की आयु पूर्ण कर ली हो। ग्राम प्रधान के उम्मीदवार का नाम ग्राम पंचायत की निर्वाचन नामावली मे होना चाहिए। क्षेत्र पंचायत सदस्य का नाम विकास खण्ड के किसी भी ग्राम पंचायत की निर्वाचक नामावली मे होना चाहिए साथ ही जिला पंचायत सदस्य का नाम जनपद के किसी भी विकास खण्ड के निर्वाचन नामावली मे होना चाहिए।

चुनाव प्रचार में प्लास्टिक व पॉलिथीन का उपयोग नहीं किया जाएगा इस हेतु प्रत्येक प्रत्याशी को एक शपथ पत्र नामांकन के दौरान देना होगा। प्रत्याशी को यह भी शपथ पत्र देना होगा कि उसके घर पर शौचालय का निर्माण है। प्रत्याशी को निर्वाचन के 30 दिन के भीतर खर्च का ब्यौरा देना होगा। प्रत्याशी के अधिकतम दो जीवित सन्तान होनी चाहिए। प्रत्याशी को यह भी शपथ पत्र देना होगा कि उसे कोई भी सरकारी देयक जमा नहीं किया जाना है। सरकारी भवनों व परिसंपत्तियों में किसी भी प्रकार की प्रचार सामग्री चस्पा नहीं की जा सकती है। प्रशिक्षण कार्यक्रम में आरओ, एआरओ, व प्रभारी अधिकारियों को सैद्धान्तिक व व्यवहारिक प्रशिक्षण मास्टर ट्रैनरों द्वारा दिया गया। प्रशिक्षण में संयुक्त मजिस्ट्रेट रानीखेत नरेन्द्र भण्डारी, उपजिलाधिकारी सीमा विश्वकर्मा, अभय प्रताप, राहुल शाह, आ0के0 पाण्डे, मोनिका, सहायक निर्वाचन अधिकारी पंचस्थानी त्रिलोक सिंह नगरकोटी, के अलावा नोडल अधिकारी आरओ एआरओ मौजूद थे।

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.

Related posts

error: Be Positive Be United
%d bloggers like this: