Doonitedएक्शन में टिहरी डीएम मंगेश, मुनिकीरेती में प्रवासियों को क्वारंटाइन करने की तैयारीNews
Breaking News

एक्शन में टिहरी डीएम मंगेश, मुनिकीरेती में प्रवासियों को क्वारंटाइन करने की तैयारी

एक्शन में टिहरी डीएम मंगेश, मुनिकीरेती में प्रवासियों को क्वारंटाइन करने की तैयारी
Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

एक्शन में टिहरी डीएम मंगेश, मुनिकीरेती में प्रवासियों को क्वारंटाइन करने की तैयारी

टिहरी जिले में डीएम मंगेश घिल्डियाल के आते ही प्रशासनिक अधिकारी भी एक्शन में आ गए हैं। डीएम ने मुनिकीरेती पहुंचकर सभी होटल व्यवसायियों के साथ बैठक की। इस दौरान ऋषिकेश के मुनिकीरेती में ही प्रवासियों को क्वारंटाइन करने की तैयारी को लेकर चर्चा हुई। इसमें होटल व्यवसायियों की मदद ली जाएगी। अभी तक ऋषिकेश में प्रवासियों को रुकवाने के लिए प्रशासन ने कोई ठोस व्यवस्था नहीं की थी। इसके चलते सभी प्रवासी टिहरी पहुंच रहे थे और टिहरी में अचानक कोरोना के मामले बढ़ गए, लेकिन अब प्रशासन ऋषिकेश में ही प्रवासियों को क्वारंटाइन करेगा।

डीएम ने कहा की इस मुहिम में सभी होटल व्यवसायियों की मदद ली जाएगी। प्रवासियों को अब होटल में ही ठहराया जाएगा, जिससे कोरोना संक्रमण का खतरा कम हो। डीएम ने एसडीएम युक्ता मिश्रा को निर्देश दिए कि क्वारंटाइन सेंटर में बेहतर खाने की व्यवस्था की जाए। पूर्ति अधिकारी को इसके लिए नोडल बनाया गया है।जिलाधिकारी मंगेश घिल्डियाल ने जीएमवीएन गेस्ट हाउस गंगा रेसोर्ट शीशम झाड़ी मुनी की रेती में होटल व्यवसायियों के साथ एक बैठक ली। जिसपर सभी होटल व्यवसायियों का सकारात्मक समर्थन दिखा। जिलाधिकारी ने कहा कि यह मानवता को बचाने की पहल है, जिसमें हर नागरिक/व्यावसाही का सहयोग आवश्यक है, ताकि संक्रमण को कम्युनिटी स्तर पर फैलने से रोका जा सके।

जिलाधिकारी ने उदाहरण प्रस्तुत करते हुए कहा कि यदि 15000 व्यक्तियों को गांव में होम क्वॉरेंटाइन किया जाए तो उनकी 24 घंटे देखरेख करना लगभग नामुमकिन है। इसी प्रकार यदि इन 15000 व्यक्तियों को 400 से 500 होटलों के कक्षों में संस्थागत कोरेंटिन किया जाए तो उनकी दिन-रात देखभाल करने में बिल्कुल आसानी होगी। जिलाधिकारी ने अधिग्रहण किए जाने वाले होटलों में सफाई, सुरक्षा एवं अन्य सेवाएं/ व्यवस्थाएं किस प्रकार होगी इस बारे में व्यवसायियों को विस्तृत जानकारी दी। कहा की अधिग्रहण किए जाने  वाले  होटलों के कक्षों का सरकार द्वारा तय दरों के अनुसार भुगतान किया जाएगा।

उन्होंने कहा कि इस समय जनपद में लगभग 450 होटल की उपलब्धता है जिसमें लगभग 6000 कक्षों की उपलब्धता है । जिलाधिकारी ने कहा कि अगर हम कोरोना वायरस को अपने जनपद में कम्युनिटी लेवल पर फैलने से रोक पाए तो  यह बहुत बड़ी उपलब्धि होगी और इसमें आपका सहयोग हमेशा याद रखा जायेगा,  उन्होंने बताया कि यहां रोके गए लोगों में जिनके सैंपल की रिपोर्ट नेगेटिव आती हैं उन्हें घरों के लिए भेजा जाएगा।




Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.

Post source : IAS Mangesh Ghildiyal Fan Club

Related posts

error: Be Positive Be United
%d bloggers like this: