Be Positive Be Unitedहरिद्वार: एसएमजेएन पीजी कॉलेज में प्रवेश के लिए कर सकते हैं ऑनलाइन पंजीकरणDoonited News is Positive News
Breaking News

हरिद्वार: एसएमजेएन पीजी कॉलेज में प्रवेश के लिए कर सकते हैं ऑनलाइन पंजीकरण

हरिद्वार: एसएमजेएन पीजी कॉलेज में प्रवेश के लिए कर सकते हैं ऑनलाइन पंजीकरण
Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

हरिद्वार:  स्थानीय एस एम जे एन पीजी कॉलेज में अब प्रवेश के लिए अब इंतजार की घड़ियां समाप्त हो गई है। कॉलेज प्रबंध समिति के श्रीमंहत लखन गिरी अध्यक्ष प्रबंध समिति, श्रीमहंत रविंद्र पुरी सचिव प्रबंध समिति एवं कॉलेज के प्राचार्य डॉ सुनील कुमार बत्रा के द्वारा ऑनलाइन पंजीकरण हेतु वेब पोर्टल को सार्वजनिक किया गया ।

अब इस वेब पोर्टल पर जाकर प्रवेश के इच्छुक छात्र-छात्राएं अपना फार्म भर कर अपने को रजिस्टर्ड कर सकते हैं। बीए ,बी कॉम, एवं बीएससी प्रथम सेमेस्टर में प्रवेश के इच्छुक छात्र छात्राओं के लिए आज ( 2बजे दोपहर) से ऑन-लाइन वेब पोर्टल को प्रारंभ कर दिया गया है। इस तरह से वर्षों पुरानी कॉलेज में ऑफ-लाइन फॉर्म जमा करने की प्रक्रिया को अब पूर्णतया समाप्त कर दिया गया है।

कोरोनावायरस महामारी के चलते महाविद्यालय द्वारा उठाया गया यह एक ऐतिहासिक कदम है।अब प्रवेश के लिये  किसी भी छात्र छात्रा को कॉलेज में आने की आवश्यकता नहीं पड़ेगी। वह आपने मोबाइल फोन , साइबर कैफे में जाकर के अथवा लैपटॉप के माध्यम से अपने फॉर्म को भर सकता है तथा अपना पंजीकरण करा सकता है । पंजीकरण की अंतिम तिथि 16 अगस्त निर्धारित की गई है। इस व्यवस्था के लागू होने से मैरिट प्रकिया अब पूर्णतया पारदर्शी हो गई है तथा प्रवेशार्थी को अपने मैरिट इंडेक्स फार्म भरते ही पता चल जाएगें। प्राचार्य डाॅ. सुनील कुमार बत्रा ने बताया कि बी.ए., बी.काॅम. तथा बी.एस.सी. (पी.सी.एम., सी.बी.जेड. तथा कम्प्यूटर साईंस) प्रथम सेमेस्टर में प्रवेश लेने के इच्छुक कुछ प्रवेशार्थियों को अनुसूचित जाति,जन जाति, एवं अन्य पिछड़ा वर्ग से सम्बन्धित प्रवेश में अधिभार लेना चाहते हैं तों वे निर्धारित तिथि तक अपना जाति प्रमाण-पत्र बनवाकर एडमिशन वेब पोर्टल पर अपलोड करें।

इसी के आधार पर उन्हें आरक्षण का लाभ मिल पाएगा। मैरिट सूची का प्रकाशन 16 अगस्त के पश्चात वेबसाइट पर किया जायेगा।मैरिट सूची प्रकाशित होने तक की सम्पूर्ण प्रक्रिया में कालेज में आने की आवश्यकता नहीं होगी।आज इस अवसर पर प्रवेश समन्वयक डॉ संजय माहेश्वरी, मुख्य अनुशासन अधिकारी डॉ सरस्वती पाठक, डॉ जे सी आर्य एवं डॉ सुषमा नयाल आदि उपस्थित थे।



Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.

Related posts

%d bloggers like this: