12 वर्षों से फरार 10-10 हजार के ईनामी दम्पत्ति गिरफ्तार | Doonited News
Breaking News

12 वर्षों से फरार 10-10 हजार के ईनामी दम्पत्ति गिरफ्तार

12 वर्षों से फरार 10-10 हजार के ईनामी दम्पत्ति गिरफ्तार
Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.




-उत्तर प्रदेश के नोएडा से दबोचे, 70 लाख की किट्टी ठगी में थे फरार

एसटीएफ के बाद अब दून पुलिस ने भी बड़ा धमाका किया है। दून पुलिस ने धोखाधड़ी के मामले में 12 वर्षों से फरार चल रहे 10-10 हजार के ईनामी दम्पत्ति को नोयडा से गिरफ्तार किया। थाना डालनवाला पर पंजीकृत धोखाधड़ी के अभियोग में वर्ष 2008 से फरार चल रहे ईनामी दम्पत्ति संजीव बस्सी व उसकी पत्नी नवीता बस्सी के सम्बन्ध में पुलिस टीम को जानकारी प्राप्त हुई।


ईनामी दम्पत्ति का पुत्र पूर्व में देहरादून के एक स्कूल में अध्यनरत था। जिस पर पुलिस टीम ने संस्थान से मफरुरों के पुत्र से सम्बन्धित विवरण व अन्य दस्तावेजों प्राप्त किये गये जिनका विश्लेषण करने पर दस्तावेजों से फरार के पुत्र के मोबाईल नम्बर की जानकारी प्राप्त हुयी।

मोबाईल नम्बर की काल डिटेल निकालने पर पुलिस टीम को फरार दम्पत्ति के मोबाईल नम्बर की जानकारी प्राप्त हुई। मोबाईल नम्बरों की लोकेशन मुम्बई, गुजरात, राजस्थान, नोयडा आदि जगहों पर होना ज्ञात हुआ। जिस पर थाना डालनवाला से उपनिरीक्षक अरूण असवाल के नेतृत्व में एक एडवांस टीम को सुरागरसी पतारसी के लिए नोयडा, दिल्ली रवाना किया गया।

Read Also  स्पीकर अग्रवाल ने आंतरिक सड़कों के निर्माण के लिए की 10 लाख रु देने की घोषणा

एडवांस टीम को फरार दम्पत्ति की लोकेशन का वैरिफिकेशन किया तथा आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए मुखबिर तन्त्र को सक्रिय किया गया। गत 22 दिसम्बर को जरिये मुखबिर व सर्विलांस पुलिस टीम को फरार दम्पत्ति के गोर सिटी नोयडा में होने के सम्बन्ध में जानकारी प्राप्त हुई। जिस पर उच्चाधिकारीगणो को अवगत कराते हुये उनके आदेशानुसार पर प्रभारी निरीक्षक डालनवाला के नेतृत्व में एक टीम को आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए नोयडा रवाना किया गया।

दोनों टीमों ने मुखबिर की सूचना व सर्विलांस के आधार पर फरार संजीव बस्सी व उसकी पत्नी नवीता बस्सी को नोयडा स्थित गोर सिटी के फ्लेट नम्बर 560, टावर विस्टेरिया, गोर सुन्दरियम, टैक जोन दृप्ट ग्रेटर नोटडा वैस्ट, गौतमबुद्ध नगर से गिरफ्तार किया गया। जिन्हे बाद गिरफ्तारी देहरादून लाया गया। जिन्हे बुधवार को न्यायालय के समक्ष पेश किया गया जहां से उन्हें जेल भेज दिया गया। लाखों की धोखाधड़ी करने वाले दम्पत्ति को गिरफ्तारी करने वाली पुलिस टीम को वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक ने 2500 रुपये तथा पुलिस उप महानिरीक्षक गढवाल परिक्षेत्र ने 5000 रुपये के पुरुस्कार से पुरुस्कृत किये जाने की घोषणा की गयी है।

Read Also  मुख्यमंत्री ने उत्तराखण्ड की महिला कमाण्डो फोर्स एवं स्मार्ट चीता पुलिस का शुभारम्भ किया



Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.

Related posts

doonited mast
%d bloggers like this: