November 29, 2022

Breaking News

हर्षिल व जानकीचट्टी में 30 बेड के अस्पताल निर्माण का प्रस्ताव

हर्षिल व जानकीचट्टी में 30 बेड के अस्पताल निर्माण का प्रस्ताव

अगले वर्ष चारधाम यात्रा के दौरान जनपद में यात्रा मार्ग के मुख्य पड़ावों पर स्वास्थ्य सुविधाएं चाक चौबंद रखने के लिए स्वास्थ्य विभाग ने अभी से तैयारियां शुरू कर दी है। जानकीचट्टी व हर्षिल में 30 बेड के अत्याधुनिक अस्पताल निर्माण के लिए प्रस्ताव शासन को भेजा गया है। इसके अलावा अन्य पड़ावों पर भी 10-10 बेड के अस्पतालों के निर्माण का प्रस्ताव भेजा गया है।

चारधाम यात्रा के दौरान यात्रियों को स्वास्थ्य संबंधी समस्याओं से निजात दिलाने के लिए जिला प्रशासन व स्वास्थ्य विभाग ने अभी से तैयारियां शुरू कर दी है। स्वास्थ्य विभाग यात्रा मार्गों के प्रमुख पड़ावों पर बेहतर स्वास्थ्य सुविधाएं उपलब्ध कराए जाने के लिए अस्पतालों का उच्चीकरण व निर्माण कराने पर विचार कर रहा है। इसके लिए शासन को प्रस्ताव बना कर भेजे गए हैं। गंगोत्री धाम यात्रा मार्ग पर हर्षिल में 30 बेड या उप जिला चिकित्सालय स्तर के अस्पताल का निर्माण किए जाने के लिए प्रस्ताव स्वास्थ्य निदेशालय को भेजा गया है।

Read Also  पर्यटन मंत्री ने पिंडारी ग्लेशियर और बागची बुग्याल के लिए दल को किया रवाना

वर्तमान में हर्षिल में टाइप ए अस्पताल संचालित हो रहा है। वहीं गंगोत्री धाम में 10 बेड के अस्पताल निर्माण का प्रस्ताव भेजा गया है। इसके अलावा यमुनोत्री धाम यात्रा के अंतिम पड़ाव जानकीचट्टी में 30 बेड के अस्पताल का प्रस्ताव शासन को भेजा गया है। यहां वर्तमान में टाइप ए का अस्पताल संचालित हो रहा है। साथ ही खरादी में भी 10 बेड का अस्पताल का प्रस्ताव शासन को भेजा गया है। स्वास्थ्य विभाग का कहना है कि चारधाम यात्रा के दौरान स्वास्थ्य सुविधाएं चाक चौबंद करने के लिए हर संभव प्रयास किए जा रहे हैं।

प्रमुख यात्रा पड़ावों पर सुविधाओं से युक्त अस्पतालों के निर्माण का प्रस्ताव बना कर शासन को भेजा गया है। हर्षिल व जानकीचट्टी में 30 बेड के अस्पताल निर्माण का प्रस्ताव भेजा गया है।

– डॉ. विनोद कुकरेती, सीएमओ, उत्तरकाशी।

Related posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *