केदारनाथ में कुछ करना चाहिए : प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी | Doonited.India

August 21, 2019

Breaking News

केदारनाथ में कुछ करना चाहिए : प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी

केदारनाथ में कुछ करना चाहिए : प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी
Photo Credit To jansatta
Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

केदारनाथ स्थित ध्यान गुफा में साधना करने के बाद प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी रविवार सुबह गुफा से बाहर आए। उन्होंने केदारनाथ में फिर पूजा-अर्चना की। प्रधानमंत्री मोदी ने सुबह ध्यान गुफा से बाहर आकर गुनगुनी धूप का आनंद लिया। इसके बाद मीडिया से बातचीत की।

उन्होंने कहा कि मैं इलेक्शन कमीशन का आभार मानता हूं कि ये दो दिन मुझे मिले। मेरा सौभाग्य है कि आध्यात्मिक भूमि पर जाने का मुझे मौका मिलता रहा है। कहा- केदारनाथ में जब आपदा आई, मै यहां पहुंचा था। दिल में एक कसक थी कुछ करना चाहिए। गुजरात में रहते हुए अपनी तरह से प्रयत्न करता रहता था। प्रधानमंत्री बनने के बाद सौभाग्य से यहां भी भाजपा की सरकार बनी। केदारनाथ की परिस्थितियां बेदह प्रतिकूल हैं। मास्टर प्लान के आधार पर केदारनाथ में पुनर्निर्माण किया जा रहा है। कहा- कल (शनिवार) मैं ध्यान गुफा में चला गया था। वह ऐसी गुफा है, जहां से हर समय बाबा के दर्शन होते रहते हैं। मैंने वहां से भी बाबा के दर्शन किए।

देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी रविवार को भगवान बद्रीनाथ की पूजा-अर्चना करेंगे। इससे पहले वे करीब 17 घंटे बाद केदारनाथ की गुफा से बाहर निकले। मंदिर में भगवान शिव की दूसरी बार पूजा की। उन्होंने कहा कि कल गुफा में रहने के दौरान बाहरी दुनिया से पूरी तरह कटा रहा। सिर्फ अपने में रहा।

कुछ ऐसा भी बोले पीएम मोदी

बाहर आते ही पीएम ने मोदी, ”यहां आने का मुझे कई वर्षों से अवसर मिलता रहा है। इन दिनों केदारनाथ बार-बार आने का मौका मिलता है। यहां जो आपदा आई और उस समय मैं यहां पहुंचा था। दिल में एक कसक थी कि कुछ करना चाहिए। गुजरात में रहते हुए अपनी तरह से कुछ करता रहता था। इसके बाद प्रधानमंत्री बना। उत्तराखंड में भी अपने अनूकुल सरकार मिली। वैसे तो यहां 3-4 महीनों से ज्यादा काम करने का मौका नहीं मिलता। बर्फ 50 फीट से ऊपर चली जाती है। तापमान भी काफी गिर जाता है।

कुछ इस तरह से रहे संपर्क में

जानकारी के अनुसार पीएम मोदी ने कहा, ”इस धरती से मेरा एक विशेष नाता भी रहा है। कल से मैं यहां हूं, दो दिन एक गुफा में रहने चला गया था। एकांत अवसर बहुत लंबे अरसे के बाद मिला। सामने ही 24 घंटे बाबा के दर्शन हो सकते हैं, ऐसी गुफा है। वहां एक छोटा छेद किया गया है, वहां से बाबा के दर्शन कर सकता हूं। तो मैं वर्तमान के भारत की स्थिति से बाहर था। कोई कम्युनिकेशन नहीं रखा था।

इसके बाद प्रधानमंत्री मोदी बदरीनाथ धाम के लिए रवाना हो गए। यहां प्रधानमंत्री के दौरे को लेकर बदरीनाथ मंदिर परिसर, गांधी घाट, तप्तकुंड, बामणी गांव, माणा गांव, साकेत तिराहा और बदरीनाथ मंदिर परिक्रमा स्थल पर पुलिस अधिकारियों को ड्यूटी लगाई गई है। सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए गए हैं।

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.

Related posts

%d bloggers like this: