July 02, 2022

Breaking News

गंगा सप्तमी पर हजारों श्रद्धालुओं ने किए मां गंगा के श्रृंगार दर्शन

गंगा सप्तमी पर हजारों श्रद्धालुओं ने किए मां गंगा के श्रृंगार दर्शन

उत्तरकाशी: विश्व प्रसिद्ध गंगोत्री धाम में गंगा सप्तमी अर्थात मां गंगा का जन्मोत्सव बड़े हर्षाेल्लास के साथ मनाया गया। इस मौके पर तीर्थ पुरोहितों की ओर से मां गंगा की प्राचीन निर्वाण मूर्ति का महाभिषेक करने के बाद भव्य श्रृंगार किया गया। जिसको देखने के लिए मंदिर परिसर में श्रद्धालुओं की भारी भीड़ उमड़ी रही। इसके बाद अब देश विदेश से आने वाले श्रद्धालु लक्ष्मी पूजन व कपाट बंद होने तक गंगोत्री धाम में ही मां गंगा के श्रृंगार दर्शन कर सकते हैं।


अक्षय तृतीय पर गंगोत्री धाम के कपाट खुलने के बाद हर वर्ष छठवें दिन गंगा सप्तमी मनाई जाती है। माना जाता है कि इसी दिन गंगा का जन्म हुआ है। रविवार को भी गंगा सप्तमी के पावन पर्व पर विश्व प्रसिद्ध गंगोत्री धाम व मां गंगा के शीतकालीन प्रवास मुखवा स्थित मार्कण्डेय मंदिर में सुबह से ही प्रातरू विशेष पूजा-अर्चना शुरू हो गई थी।

गंगोत्री में मां गंगा की मूर्ति को महाभिषेक करवाने के बाद उसका भव्य श्रृंगार करवाया गया। इसके बाद मंदिर में गंगा लहरी और गंगा सहस्त्रनाम पाठ हुआ। श्रृंगार के बाद भक्तों ने मां गंगा के श्रृंगार दर्शन किए। गंगोत्री मंदिर के सचिव सुरेश सेमवाल ने बताया कि गंगा सप्तमी, गंगा मां का जन्मोत्सव दिन है।

Read Also  More than 1700 pilgrims visit Kedar through heli services on a single day

रविवार सुबह 9.5 बजे गंगा जी की भोग मूर्ति को आभूषण पहनाए गए। कपाट बंद होने तक श्रद्धालु गंगोत्री में उत्सव मूर्ति के दर्शन कर सकेंगे। इधर गंगा के मायके मुखवा गांव से भी समेश्वर देवता की डोली के साथ मार्कण्डेय तक कलश यात्रा निकाली गई। यह विशेष पूजा-अर्चना के साथ धार्मिक अनुष्ठान का आयोजन किया गया।

Related posts

Leave a Reply

%d bloggers like this: