प्राकृतिक आपदा, 96 परिजनों एवं 48 शव और 25 मानव अंगों डीएनए के सैंपल मिलान हेतु एफएसएल, देहरादून भेजे गए : पुलिस उप महानिरीक्षक | Doonited News
Breaking News

प्राकृतिक आपदा, 96 परिजनों एवं 48 शव और 25 मानव अंगों डीएनए के सैंपल मिलान हेतु एफएसएल, देहरादून भेजे गए : पुलिस उप महानिरीक्षक

प्राकृतिक आपदा, 96 परिजनों एवं 48 शव और 25 मानव अंगों डीएनए  के सैंपल मिलान हेतु एफएसएल, देहरादून भेजे गए : पुलिस उप महानिरीक्षक
Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

श्री नीलेश आनन्द भरणे, पुलिस उप महानिरीक्षक, अपराध एवं कानून व्यवस्था/प्रवक्ता उत्तराखण्ड पुलिस ने बताया कि चमोली में आयी प्राकृतिक आपदा में स्थानीय पुलिस, एसडीआरएफ, फायर सर्विस, एफएसएल रेस्क्यू, खोज, बचाव राहत एवं डीएनए सैम्पलिंग के कार्यों में लगी हुई है।

प्राकृतिक आपदा में लापता कुल 204 लोगों में से 68 शव एवं 28 मानव अंग अलग-अलग स्थानों से बरामद किये जा चुके हैं, जिनमें से 38 शव और 01 मानव अंग की शिनाख्त हो गई है। लापता समस्त लोगों के सम्बन्ध में कोतवाली जोशीमठ में अब तक कुल 204 लोगों की गुमशुदगी दर्ज की जा चुकी है। बरामद सभी शवों एवं मानव अंगों का डीएनए सैम्पलिंग और संरक्षण के सभी मानदंडों का पालन कर सीएचसी जोशीमठ, जिला चिकित्सालय गोपेश्वर एवं सीएचसी कर्णप्रयाग में शिनाख्त हेतु रखा गया था। अभी तक 96 परिजनों एवं 48 शव और 25 मानव अंगों के डीएनए सैंपल मिलान हेतु एफएसएल, देहरादून भेजे गए हैं।

Read Also  हल्द्वानी: वैश्य महासभा ने गणपति बप्पा मोरिया, के साथ शोभायात्रा निकाली

श्री नीलेश आनन्द भरणे, पुलिस उप महानिरीक्षक, अपराध एवं कानून व्यवस्था/प्रवक्ता उत्तराखण्ड पुलिस की देखरेख में उत्तराखण्ड पुलिस मुख्यालय में एक कन्ट्रोल रूम स्थापित किया गया है, जिसका नम्बर 0135-2712685 एवं मोबाइल नम्बर 9411112985 है। आपदा में लापता हुए लोगों की सूची एवं बरामद हुए शवों की पहचान हेतु अन्य राज्यों की पुलिस से भी लगातार पत्राचार किया गया है। शवों से मिले आभूषण, टैटू एवं अन्य पहचान चिन्हों की फोटोग्राफी और वीडियोग्राफी कर उन्हें सुरक्षित रखा जा रहा है। जनपद चमोली में स्थापित कन्ट्रोल रूम का नम्बर 01372-251487 एवं मोबाइल नम्बर 9084127503 है।




Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.

Related posts

doonited mast
%d bloggers like this: