नैनीताल: डीएम ने बलियानाला क्षेत्र का किया मौका मुआयना | Doonited.India

July 21, 2019

Breaking News

नैनीताल: डीएम ने बलियानाला क्षेत्र का किया मौका मुआयना

नैनीताल: डीएम ने बलियानाला क्षेत्र का किया मौका मुआयना
Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

नैनीताल: जिलाधिकारी सविन बंसल ने बुद्धवार को अधिकारियों के साथ बलियानाला क्षेत्र का मौका मुआयना किया। उन्होंने अधिकारियों को निर्देशित करते हुए कहा कि इस बात का विशेष ध्यान दिया जाए कि बलियानाला क्रोनिकल जोन के कारण किसी भी प्रकार की जन-हानि न हो। सभी सुरक्षात्मक पैरामीटर्स सुनिश्चित कराने के निर्देश अपर जिलाधिकारी तथा उप जिलाधिकारी को दिए। उन्होंने कहा कि भू-स्खलन क्षेत्र का पुनः सर्वे संयुक्त टीम द्वारा शीघ्र कराया जाएगा, जिसमें जीआईएस के प्रतिनिधि, उप जिलाधिकारी, अधिशासी अभियंता झील विकास प्राधिकरण, अधिशासी अभियंता सिंचाई को मिलाकर 4 सदस्यीय टीम गठित की। उन्होंने बताया कि भू-स्खलन क्षेत्रों पर पैनी नजर रखने हेतु सैटेलाईट रिमोट सेंसिंग मैप भी बनवाया जा रहा है।

बंसल ने भू-स्खलन क्षेत्र की संवेदनशीलता को देखते हुए धंसाव वाली सड़क पर पूर्णतः आवागमन बन्द करने हेतु दीवार निर्माण करने के निर्देश दिए, साथ ही मार्ग एवं संवेदनशील क्षेत्र में चेतावनी बोर्ड लगाने, मार्किंग करने, पूर्व चिन्हित भवनों पर नम्बरिंग करने के निर्देश प्रशासनिक अधिकारियों व अधिशासी अभियंता लोनिवि को दिए। उन्होंने बलियानाला क्षेत्र में प्रतिदिन सुबह-शाम तहसीलदार तथा पुलिस इंस्पेक्टर को नियमित रूप से गश्त लगाने तथा गश्त की सूचना रिपोर्ट आपदा कन्ट्रोल रूप को उपब्ध कराने के निर्देश दिए, साथ ही उप जिलाधिकारी तथा पुलिस उपाधीक्षक भी समय-समय पर निरीक्षण करेंगे। उन्होंने कहा कि बलियानाला भू-स्खलन की जद में रह रहे चिन्हित परिवारों के सम्बन्ध में मा.उच्च न्यायालय के निर्देशानुसार आगे की कार्यवाही की जाएगी।

तकनीकी विशेषज्ञ कम्पनी जायका द्वारा जियो तकीनीकी जाॅच, टोपोग्राफिक सर्वे कार्य गतिमान है। क्षेत्र के दीर्घकालिक स्थिरीकरण की डीपीआर कार्य भी गतिमान है, डिटेल प्रोजेक्ट रिपोर्ट आने के बाद ही दीर्घकालिक कार्य किए जायेंगे। उन्होंने बलियानाला क्षेत्र से दुर्गापुर में विस्थापित परिवारों के लिए सुचारू पेयजल व विद्युत की व्यवस्था तीन दिन के भीतर करने के निर्देश सम्बन्धित अधिशासी अभियंताओं को दिए। उन्होंने क्षेत्र में हो रहे भू-स्खलन को देखते हुए जीआईसी को भी अन्यत्र विस्थापन करने लिए उपयुक्त स्थल का चयन करने के निर्देश मुख्य शिक्षा अधिकारी, जिला शिक्षा अधिकारी माध्यमिक को दिए। उन्होंने बलियानाला क्षेत्र में अब तक किए गए कार्यो की जानकारी अधिशासी अभियंता सिंचाई हरीश चन्द्र भारती से ली।

बलियानाला निरीक्षण के उपरान्त जिलाधिकारी ने लोनिवि के अधिकारियों के साथ राजभवन के पीछे निहाल नाले के भू-स्खलन क्षेत्र व भू-स्खलन रोकने हेतु किए गए सुरक्षात्मक एवं बचाव कार्यो का भी स्थलीय निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान अधिशासी अभियंता डीएस कुटियाल ने अवगत कराया कि भू-स्खलन क्षेत्र में 1.94 करोड़ की लागत से वर्ष 2016 में सुरक्षात्मक कार्य किए गए जिसमें पहाड़ की राॅक ड्रिलिंग, एंकरिंग के साथ ही सीमेंट ग्राउटिंग, वायरमेस, साॅयल नैलिंग आदि कार्य किए गए। उन्होंने बताया कि द्वितीय चरण के सुरक्षात्मक कार्यो की डीपीआर शासन को भेजी गई है। निरीक्षण के दौरान अध्यक्ष नगर पालिका सचिन नेगी, अपर जिलाधिकारी एसएस जंगपांगी, सचिव जिला विकास प्राधिकरण हरबीर सिंह, उप जिलाधिकारी विनोद कुमार, अधिशासी अभियंता सिंचाई एचएस भारती, जल संस्थान एसके उपाध्याय, विद्युत सैयद उस्मान, पुलिस उपाधीक्षक विजय थापा सहित सम्बन्धित अधिकारी मौजूद थे।

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.

Related posts

error: Be Positive Be United
%d bloggers like this: