राज्य स्थापना दिवस पर विकास मेला और प्रदर्शनी आयोजित  | Doonited.India

December 16, 2018

Breaking News

राज्य स्थापना दिवस पर विकास मेला और प्रदर्शनी आयोजित 

राज्य स्थापना दिवस पर विकास मेला और प्रदर्शनी आयोजित 
Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

नैनीताल: उत्तराखण्ड राज्य स्थापना की 18वीं वर्ष गांठ जिले भर में पूरे हर्ष उल्लास के साथ मनायी गई। मुख्य कार्यक्रम नैनीताल में आयोजित किये गये। प्रातः सर्वप्रथम शहीद राज्य आल्दोलनकारी स्मारक पर जिलाजिलाधिकारी विनोद कुमार सुमन व अन्य गणमान्य नागरिकों ने श्रद्वासुमन अर्पित किये। इसके उपरान्त डीएसए मैदान में आयोजित विकास मेले एवं प्रर्दशनी का शुभारम्भ फीता काट कर आयुक्त कुमाऊँ मण्डल राजीव रौतेला ने किया। उद्घाटन के उपरान्त विकास प्रदर्शनी का स्टाॅलों का निरीक्षण भी किया।

अपने सम्बोधन ने आयुक्त श्री रौतेला ने कहा कि राज्य स्थापना के 18 वर्ष पूर्ण होने पर आप सभी को मेरी ओर से हार्दिक बधाई और शुभकामनाएं। इस पावन अवसर पर मैं राज्य निर्माण के सभी ज्ञात-अज्ञात अमर शहीदों एवं शहीद आन्दोलनकारियों को श्रद्धापूर्वक नमन करता हूॅ। मैं राज्य एवं मण्डल के सभी नागरिकों का भी अभिनन्दन करता हूॅ, जिन्होंने 18 वर्ष की विकास यात्रा में उत्तराखण्ड को विशिष्ट पहचान दिलाने में योगदान किया है।

श्री रौतेला ने कहा कि विगत 18 वर्षों में उत्तराखण्ड ने देश के अन्य राज्यों की तुलना में बेहतर प्रदर्शन किया है। बार-बार प्राकृतिक आपदाओं के बावजूद सभी उत्तराखण्ड वासियों की दृढ़ संकल्प शक्ति से राज्य ने अपनी एक विशिष्ट पहचान बनाई है और विकास की बुलन्दियों को छुआ है। आज उत्तराखण्ड देश के अग्रणीय राज्यो में अपना स्थान बना चुका है। इन वर्षो में हमने कई उपलब्धियाॅ हासिल की हैं। मौजूदा दौर में हमारे सामने बहुत सी चुनौतियाॅ भी है। सच्चे मायने में विकास के लिए आर्थिक प्रगति व सामाजिक प्रगति का लाभ दूर-दराज के गाॅवों में रहने वाले साधनहीन लोंगों तक पहुॅचाना होगा। उन्होंने कहा कि हम राजकीय सेवा के किसी भी पद पर आसीन हों, हमारा उद्देश्य होना चाहिए कि विकास  की रोशनी दूर-दराज ईलाको में बैठे हुए गरीबों की कुटिया तक पहुॅच सके। मुझे खुशी है कि नए प्रगतिशील भारत में उत्तराखण्ड बढ़-चढ़ कर अपनी महत्वपूर्ण भागीदारी का निर्वहन कर रहा है। मुझे पूरा विश्वास है कि वर्ष 2019 तक पूर्ण साक्षरता, वर्ष 2022 तक सबको आवास व किसानों की आय दौगुनी करने का लक्ष्य पूरा करने में उत्तराखण्ड अग्रणीय राज्यों में होगा।

आयुक्त ने अपने सम्बोधन में कहा कि आज बेटियों के प्रति जन मानस की सोच बदली है। लिंग अनुपात में बदलाव इसका जीता जागता उदाहरण है। उत्तराखण्ड देवभूमि ही नहीं वरन् वीर भूमि भी है। हमारे वीर जवान सेना में, अर्द्ध सैनिक बलों में सम्मिलित होकर देश की रक्षा में सब कुछ समर्पित करते है। उत्तराखण्ड के वीर जवानों  ने देश की रक्षा व सुरक्षा में अपना बलिदान देकर प्रदेश व राष्ट्र का मान बढ़ाया है। उन्होंने कहा कि लोकतन्त्र को सुदृढ़ एवं मजबूत बनाने में देश के प्रत्येक नागरिक एवं मतदाता का विशेष योगदान है। भविष्य में नागर निकाय चुनाव तथा लोक सभा निर्वाचन सम्पन्न होगा। मेरा सभी से आग्रह है कि लोकतन्त्र के इन पावन पर्वो में अधिक से अधिक संख्या में मतदान करें और लोकतन्त्रीय व्यवस्था को मजबूत करने में अपना सहयोग दें।

श्री रौतेला ने कहा कि स्वामी विवेकानन्द ने कहा था कि उठो, जागो और तब तक रूको नहीं जब तक लक्ष्य हासिल न हो जाए। राज्य स्थापना दिवस के पावन अवसर पर आईये हम सब संकल्प लें कि हर व्यक्ति उत्तराखण्ड प्रदेश और भारत वर्ष के समग्र विकास और खुशहाली के लिए अपना सर्वश्रेष्ठ योगदान देगा। यही शहीद राज्य आन्दोलनकारियों के प्रति हमारी सच्ची श्रद्धांजलि होगी। आईये हम विकसित और खुशहाल उत्तराखण्ड राज्य के निर्माण के लिए सदैव तत्पर रहें तथा उत्तराखण्ड प्रदेश के समग्र विकास के लिए आगे आयें। कार्यक्रम में सूचना एवं लोक सम्पर्क विभाग के कलाकारों के द्वारा कुमाऊँ एवं गढ़वाली लोक गीत व लोग नृत्य गीत के अलावा मतदाता जागरूकता कार्यक्रम विषयक कार्यक्रम भी प्रस्तुत किये वहीं हर दिल अजीज अपरजिलाधिकारी हरवीर सिंह ने ये दिल तुम बिन कहीं लगता नहीं हम क्या करें। गीत प्रस्तुत कर लोगों की वाही वाही लूटी।

कार्यक्रम में जिलाधिकारी विनोद कुमार सुमन, मुख्य विकास अधिकारी विनीत कुमार, परियोजना निदेशक बालकृष्ण, जिला विकास अधिकारी रमा गोस्वामी, उपनिदेशक सूचना योगेश मिश्रा, मुख्य शिक्षा अधिकारी केके गुप्ता, जिला युवा कल्याण अधिकारी दीप्ति जोशी, जिला प्रोवेशन अधिकारी अंजना गुप्ता, जिला कार्यक्रम अधिकारी अनुलेखा बिष्ट,  उपजिलाधिकारी प्रमोद कुमार, अपरजिलाधिकारी बीएल फिरमाल के अलावा पूर्व विधायक सरिता आर्य, किशन लाल साह कोनी, खष्टी बिष्ट, जिला पंचायत के देशराज, सीओ विजय थापा, हेमा राठौर, मान सिंह, डा. टीके टम्टा, मदन मेहरा, कुसुम टोलिया, तरूणा बंसल, कमल जोशी, पटवारी मनोज साह, कोतवाल विपिन पंत, एसएसआई वीसी मासीवाल, एसआई मनोज नयाल, ईओ रोहिताश शर्मा, राज्य आन्दोलनकारी/वरिष्ठ पत्रकार राजीव लोचन साह के साथ अन्य आन्दोलनकारी केएल आर्य, पूरन मेहरा, रहीश भाई, कुंदन बिष्ट, राजेश जोशी, पुनीत टंडन, विनोद परिहार, विक्की पाठक, पूरन सिंह, योगेश तिवारी, मनीष कांडपाल, महेन्द्र सिंह, नवीन भट्ट, जगमोहन बगड्वाल, राजेन्द्र सिंह बिष्ट, केडी रूवाली, अयोध्या प्रसाद, हेम पाठक, हरीश तिवारी, भाजपा के अध्यक्ष मनोज जोशी, अतुल साह, चन्दन नेगी, कमल सिलेलाल, विक्की पंवार, अक्षय पवांर सहित अनेक राज्य आंदोलनकारी व लोग मौजूद थे। कार्यक्रम का संचालन नवीन पांडे ने किया।

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.

Related posts

Leave a Comment

error: Be Positive Be United
%d bloggers like this: