Be Positive Be Unitedप्रदेश सरकार के लिए आभार यात्रा निकालकर माफी मांगे हरीश रावत : भगतDoonited News is Positive News
Breaking News

प्रदेश सरकार के लिए आभार यात्रा निकालकर माफी मांगे हरीश रावत : भगत

प्रदेश सरकार के लिए आभार यात्रा निकालकर माफी मांगे हरीश रावत : भगत
Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.




भाजपा प्रदेश अध्यक्ष बंशी धर भगत ने कांग्रेस महासचिव व पूर्वमुख्य मंत्री हरीश रावत द्वारा रोजगार को मुद्दा बनाने की कोशिश व हरिद्वार में परिक्रमा यात्रा करने की योजना पर चुटकी लेते हुए कहा कि बेहतर होगा कि हरीश रावत उत्तराखंड में रोजगार अभियान चलाने के लिए मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत व प्रदेश की भाजपा सरकार के प्रति आभार यात्रा निकालें और अपने कार्यकाल में बेरोजगारों की उपेक्षा के लिए जनता से माफी माँगे।

एक बयान में भाजपा प्रदेश अध्यक्ष व विधायक बंशीधर भगत ने कहा कि उत्तराखंड में मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत के नेतृत्व में भाजपा सरकार रोजगार अभियान चला रही है व इस वर्ष को रोजगार वर्ष घोषित  किया गया है। उन्होंने कहा कि पिछले साढ़े तीन वर्ष में मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र के नेतृत्व में सरकारी, सार्वजनिक व निजीक्षेत्र में लाखों रोजगार पैदा हुए और विभिन्न क्षेत्रों में सात लाख से अधिक रोजगार उपलब्ध कराए गए।


  उन्होंने कहा कि अप्रैल 2017 से सितम्बर 2020 तक विभिन्न विभागों के अंतर्गत कुल 7 लाख 12 हजार से अधिक लोगों को रोजगार प्रदान किया गया। इनमें से नियमित रोजगार लगभग 16 हजार, आउटसोर्स-अनुबंधात्मक रोजगार लगभग 1 लाख 15 हजार और स्वयं उद्यमिता-प्राईवेट निवेश से प्रदान/निर्माणाधीन परियोजनाओं से रोजगार लगभग 5 लाख 80 हजार है। कहा उत्तराखण्ड अधीनस्थ सेवा चयन आयोग द्वारा की गई भर्तियों की दृष्टि से कांग्रेस शासन में वर्ष 2014 से 2017 तक कुल 08 परीक्षाएं आयेाजित की गईं जिनमें 801 पदों पर चयन पूर्ण किया गया। जबकि वर्ष 2017 से 2020 तक कुल 59 परीक्षाएं आयोजित की गईं जिनमें 6000 पदों पर चयन पूर्ण किया गया। वर्तमान में उत्तराखण्ड अधीनस्थ सेवा चयन आयोग में 7200 पदों पर अधियाचनध्भर्ती प्रक्रिया गतिमान है।




प्रदेश में चिकित्सकों की संख्या कांग्रेस शासन काल की अपेक्षा ढाई गुना हो चुकी है। शिक्षकों की नियुक्ति प्रक्रिया चल रही है। लोक सेवा आयोग ने गत डेढ़ वर्ष में साढ़े तीन हजार पदों पर चयन पूरा किया है। इसके अलावा मनरेगा में प्रति वर्ष 6 लाख लोगों को रोजगार दिया जाता है। कोविड के दौरान इसमें अतिरिक्त रोजगार दिया गया है। पिछले वर्ष की तुलना में 84 हजार अतिरिक्त परिवारों (2 लाख अतिरिक्त श्रमिकों) को रोजगार दिया गया है। पिछले वर्ष की तुलना में 170 करोड़ रूपए अतिरिक्त व्यय किए गए हैं। आगामी तीन माह में कैम्पा के अंतर्गत 40 हजार लोगों को रोजगार उपलब्ध कराने की कार्ययोजना है।


युवाओं और प्रदेश में लौटे प्रवासियों के लिए मुख्यमंत्री स्वरोजगार योजना प्रारम्भ की गई। एमएसएमई के तहत इसमें ऋण और अनुदान की व्यवस्था की गई है। इसमें लगभग 150 प्रकार के काम शामिल किए गए हैं। भगत ने कहा कि प्रदेश सरकार के शानदार कार्यों से कांग्रेस नेता परेशान हैं। इसी कारण कांग्रेस नेता एक बार फिर झूठ बोलने व जनता को भ्रमित करने का अपना पुराना हथकंडा अपनाने लगे हैं। इसी क्रम में हरीश रावत हरिद्वार में परिक्रमा का कार्यक्रम चलाने की घोषणा की है लेकिन जनता उनके किसी भ्रम जाल में आने वाली नहीं है। यह वही हरीश रावत हैं  जिन्होंने हरिद्वार में हरकी पौड़ी पर गंगा जी को स्केप चेनल घोषित कर दिया और चार साल बाद संतों से माफी माँग ली। अब उनके इस गलत काम को भाजपा सरकार ठीक कर रही है। यदि हरीश रावत में नैतिकता है तो अब उन्हें बेरोजगारों की उपेक्षा के लिए  से माफी माँगनी चाहिए और मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत  और उनके नेतृत्व में प्रदेश  की भाजपा सरकार को धन्यवाद देते हुए आभार यात्रा निकालनी चाहिए। इससे उनका कुछ प्रायश्चित हो सकेगा।



Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.

Related posts

%d bloggers like this: