July 31, 2021

Breaking News
COVID 19 ALERT Middle 468×60

भारतीय कामगारों के लिए अच्छी खबर भारत और कुवैत ने सहमति पत्र पर दस्तखत किए

भारतीय कामगारों के लिए अच्छी खबर भारत और कुवैत ने सहमति पत्र पर दस्तखत किए

 

कुवैत सिटी: कुवैत में काम करने वाले भारतीय कामगारों के लिए अच्छी खबर है. भारत और कुवैत ने एक सहमति पत्र पर दस्तखत किए हैं, जिसके तहत इस खाड़ी देश में काम करने वाले भारतीयों को कानून के दायरे में लाया जाएगा. इसके अलावा उन्हें कानूनी संरक्षण भी मिलेगा. विदेश मंत्री एस जयशंकर और उनके कुवैती समकक्ष शेख अहमद नासिर अल-मोहम्मद अल-सबा  की मौजूदगी में गुरुवार को भारतीय राजदूत सिबी जॉर्ज और कुवैत के उप विदेश मंत्री ने इस सहमति पत्र पर हस्ताक्षर किए. 

सहमति पत्र में कहा गया है कि भारतीय घरेलू कामगारों को कानूनी ढांचे के दायरे में लाकर उनकी भर्ती को सुव्यवस्थित करते हुए कानूनी संरक्षण प्रदान किया जाएगा. दोनों मंत्रियों ने सहमति पत्र पर हस्ताक्षर किए जाने का स्वागत किया, जिसके अनुसार, एक तंत्र की स्थापना की जाएगी, जो घरेलू कामगारों को 24 घंटे मदद मुहैया कराएगा. बता दें कि जयशंकर विदेश मंत्री के तौर पर अपनी पहली कुवैत यात्रा पर गुरुवार को आए थे.

 

Welcomed the openness to address the issues of Indian community in Kuwait. Witnessed signing of a MoU that will give our workers greater legal protection.

 

Read Also  जयशंकर: गलवान वैली के बाद भारत और चीन के रिश्तों में कड़वाहट

कुवैत में 10 लाख से ज्यादा भारतीय रहते हैं. ऐसे में यह सहमति पत्र उनके लिए काफी फायदेमंद साबित होगा. कानूनी संरक्षण में आने के बाद उनके लिए अपने अधिकारों के लिए लड़ना आसान हो जाएगा और नियोक्ता के लिए उनका हक मारना मुश्किल होगा. सहमति पत्र पर हस्ताक्षर के दौरान कुवैत के विदेश मंत्री ने भारत के साथ गहरे संबंधों की सराहना की. 

इससे पहले, कुवैत के विदेश मंत्री शेख अहमद नासेर अल-मुहम्मद अल-सबाह और भारतीय विदेश मंत्री एस जयशंकर के बीच मुलाकात हुई. इस दौरान, सबाह ने कहा कि कई क्षेत्रों में द्विपक्षीय संबंधों में जबरदस्त प्रगति हुई है. भारत के साथ अपने देश के गहरे संबंधों की सराहना करते हुए उन्होंने कहा कि ये द्विपक्षीय संबंध हमेशा ही आगे बढ़ते रहे हैं. उन्होंने दोनों देशों के बीच राजनयिक संबंध स्थापित होने के 60 बरस पूरे होने की पृष्ठभूमि में यह बात कही.

विदेश मंत्री एस जयशंकर ने कुवैत में चिंतित प्रवासी भारतीयों को आश्वासन दिया कि भारत में COVID-19 की दूसरी लहर कम हो रही है और सरकार ने महामारी को रोकने के लिए मुश्किल दिख रहे कार्य को संभव कर दिखाया. प्रवासी भारतीय समुदाय को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा, ‘कोविड-19 की दूसरी लहर घटने लगी है. मई की शुरुआत की तुलना में अब नए मामलों की दैनिक संख्या कम हो रही है. संक्रमण दर में भी खासी कमी आई आयी है. यह सरकार के व्यापक प्रयासों से संभव हुआ है’.  

Read Also  Hundreds of flights have been cancelled in Southern China

Related posts

Leave a Reply

Content Protector Developer Fantastic Plugins
%d bloggers like this: