अकीदतमंदों ने ईदगाहों में मांगी अमन चैन की दुआ, एक-दूसरे के गले मिलकर दी मुबारकबाद | Doonited.India

August 21, 2019

Breaking News

अकीदतमंदों ने ईदगाहों में मांगी अमन चैन की दुआ, एक-दूसरे के गले मिलकर दी मुबारकबाद

अकीदतमंदों ने ईदगाहों में मांगी अमन चैन की दुआ, एक-दूसरे के गले मिलकर दी मुबारकबाद
Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

देहरादून:  ईद-उल-फितर की नमाज के दौरान बुधवार को देहरादून सहित राज्यभर में कड़े सुरक्षा प्रबंध रहे। ईदगाह और मस्जिदों पर कडी सुरक्षा के प्रबंध किये गये थे। ईद उल फितर के मौके पर उत्तराखंड में ईदगाहों और मस्जितों में नमाज अदा की गई। इस मौके पर गुनाहों के लिए माफी मांगी गई, साथ ही अमन चैन की दुआ की गई। इसके बाद एक दूसरे के गले मिलकर ईद की बधाई का सिलसिला शुरू हो गया। देहरादून में बिंदाल और सुभाषनगर स्थित ईदगाहों में नमाज के दौरान कई मार्गों का यातायात डायवर्ट रहा। एसएसपी ने लोगों से नमाज के दौरान वैकल्पिक मार्गों का प्रयोग करने की अपील की है, ताकि परेशानी से बचा जा सके।

राज्यपाल बेबी रानी मौर्य और मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने प्रदेशवासियों को ईद-उल-फितर की मुबारकबाद दी है। ईद के अवसर पर जारी संदेश में मुख्यमंत्री ने कहा कि रमजान के पवित्र महीने के अंत में आने वाला यह पर्व सामाजिक सौहार्द का प्रतीक है। यह त्यौहार लोगों में आपसी भाईचारे तथा पारस्परिक सौहार्द की भावना को मजबूत करता है। उन्होंने कहा कि हमारे सभी धर्म हमें शांति, सद्भावना और भाईचारे की शिक्षा देते हैं। चकराता रोड स्थित ईदगाह में सुबह से ही नमाजियों की भीड़ पहुंचने लगी। इस दौरान चकराता रोड पर पुलिस ने यातायात को भी डायवर्ड किया था।

शहर काजी मोहम्मद अहमद कासमी ने नमाज अदा कराई। साथ ही उन्होंने अपने बयान में कहा कि ईद प्रेम और भाईचारे का पर्व है। यह एक पाक त्योहार है। इस दिन इबादत में अपने मुल्क की अमन चैन की खुशहाली की कामना करनी चाहिए।उन्होंने कहा कि जरूरतमंदों की मदद करनी चाहिए। रोजेदारों के त्याग पर अलाह उन पर मगफिरत व बख्शीश बरसाता है। इसके बाद देहरादून शहर भर की इदगाह, मस्जिदों में 30 मिनट से एक घंटे के अंतराल पर नमाज अदा की गई। नमाज अदा करने के बाद रोजेदार परिवार और रिश्तेदारों संग मीठी ईद मना रहे हैं।

ईद-उल-फितर पर सेंवई परोसने की खास परंपरा है। सेंवई का मीठा स्वाद रिश्तों में भी मिठास घोलता है। वहीं, लोगों ने कई खास व्यंजन परोसने की तैयारी भी की है। इसके लिए लोग दूध, अंगूरदाना, मावा, घी, ड्राई फ्रूट्स व अन्य उत्पादों के साथ खीर बनाकर एक दूसरे को परोसी गई। वहीं, मुस्लिम बाहुल्य इलाकों के बाजारों में भी चहल पहल बनी हुई है। साथ ही नमाज पढ़ने के लिए टैंट-पंखों व पेयजल की खास व्यवस्था की गई। इधर, नगर निगम की ओर से भी मुस्लिम बहुल क्षेत्र, ईदगाह व मस्जिदों के आस-पास के क्षेत्रों में सफाई के खास प्रबंध किए गए हैं। पुलिस ने भी ईद को लेकर कमर कस ली थी। नमाज के दौरान मस्जिद, ईदगाहों के बाहर बड़ी संख्या में पुलिसकर्मियों की तैनाती की गई।

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.

Related posts

%d bloggers like this: