तीन दिवसीय मेगा विज्ञान प्रदर्शनी डेस्टिनेशन का शुभारंभ   | Doonited.India

December 12, 2019

Breaking News

तीन दिवसीय मेगा विज्ञान प्रदर्शनी डेस्टिनेशन का शुभारंभ  

तीन दिवसीय मेगा विज्ञान प्रदर्शनी डेस्टिनेशन का शुभारंभ  
Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.
देहरादून:  डेस्टिनेशन उत्तराखंड, एक मेगा विज्ञान प्रदर्शनी का उद्घाटन आज होटल सॉलिटेयर में निदेशक यूकोस्ट (उत्तराखंड स्टेट काउंसिल फॉर साइंस एंड टेक्नोलॉजी) डॉ राजेंद्र डोभाल द्वारा किया गया। प्रदर्शनी का आयोजन फ्रेंड्स एक्जीबिशन एंड प्रमोशन प्राइवेट लिमिटेड द्वारा किया गया।

प्रदर्शनी में कई सरकारी मंत्रालयों, पब्लिक सेक्टर यूनिट्स (पीएसयू) और कई संगठन जैसे की भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो), राष्ट्रीय शैक्षिक अनुसंधान और प्रशिक्षण परिषद, भारतीय भूवैज्ञानिक सर्वेक्षण, पृथ्वी विज्ञान मंत्रालय, पावर ग्रिड, खाद्य प्रसंस्करण प्रौद्योगिकी, जैव प्रौद्योगिकी विभाग, आयुष मंत्रालय, भारतीय चिकित्सा अनुसंधान परिषद, एनआईईएलआईटी, इनलैंड वाटरवेस अथॉरिटी,और कई अन्य भारतीय  संगठनों की भागीदारी देखी गई। देश भर से 40 से अधिक प्रदर्शकों ने इस प्रदर्शनी मै हिस्सा लिया।

सचिव स्पेकस बृज मोहन द्वारा संचालित श्सिकुड़ते जल संसाधनोंश् पर एक पैनल चर्चा हुई। सत्र के दौरान वक्ता के रूप में एचपी उनियाल और डॉ विशाल सिंह उपस्थित रहे। कृषि और कृषि आधारित उद्योगों, स्वास्थ्य देखभाल, आईटी और संचार, विज्ञान और प्रौद्योगिकी और विकास, पावर, ऊर्जा, इंफ्रास्ट्रक्चर, पर्यटन और विरासत, ऑटोमोबाइल, हथकरघा और हस्तशिल्प और उपभोक्ता इलेक्ट्रॉनिक्स और सजावट से विभिन्न विभागों ने अपने उत्पादों, सेवाओं का प्रदर्शन किया।

प्रदर्शनी में सेंट कबीर अकादमी, नॉर्थ पॉइंट चिल्ड्रन, फ्लाईफोर्ट पब्लिक स्कूल, नॉर्थवुड स्कूल, महर्षि विद्या मंदिर, द भागीरथी, एसजीआरआर, तुलाज इंटरनेशनल स्कूल, ओलंपस हाई स्कूल, केवी 1 और 2, केवी अपर कैम्प, केवी बीरपुर, सिद्धार्थ पब्लिक स्कूल और एसजीआरआर इंटर कॉलेज के छात्रों ने भाग लिया। एक्सहिबिशन के दौरान जीजीआईसी और सेंट कबीर के छात्रों ने अपने मॉडल प्रस्तुत किए। मॉडल परिवहन सुरक्षा, रेलवे सुरक्षा और पर्यावरण संरक्षण के विषय पर प्रस्तुत किए गए।

एनऐएफईडी से उत्पाद, उद्योग निदेशालय उत्तराखंड, शिखर खाद्य उत्पाद, सिद्दीकी सिस्टर्स के साथ साथ अन्य उत्पादों का प्रदर्शन किया गया। उत्तराखंड के बारे में विज्ञान और प्रौद्योगिकी आधारित उद्योगों के लिए एक अनुकूल गंतव्य के रूप में बोलते हुए, डॉ डोभाल ने कहा, “उत्तराखंड प्रस्तावक को किसी भी औद्योगिक गतिविधि के लिए सकारात्मक वातावरण प्रदान करता है क्योंकि राज्य की एक स्थिर औद्योगिक नीति है। हमारे पास पर्यटन के क्षेत्र में अच्छी बुनियादी संरचना और जबरदस्त क्षमता है। ”उन्होंने कहा कि इस तरह की प्रदर्शनियां युवा छात्रों के लिए एक सीखने का मंच प्रदान करती हैं जिन्हें नवीनतम प्रगति के बारे में जानने का अवसर मिलता है।

पहले दिन, सरकारी अधिकारियों, राज्य परिषद के प्रतिनिधियों, वैज्ञानिकों, शिक्षाविदों, छात्रों, प्रोफेसरों और विभिन्न स्कूलों के शिक्षकों द्वारा प्रदर्शनी का दौरा किया गया।

इस अवसर पर आनंद पाल, एमएम भास्कर, मीतू पॉल, ज्योतिका, आस्था शाह, अखिला श्रीनिवासन, साक्षी ठाकुर, वंशिका, साक्षी सैनी और प्रिया दुबे आदि उपस्थित रहे।
Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.

Related posts

error: Be Positive Be United
%d bloggers like this: