डीएम ने नैनी झील व नालों का निरीक्षण किया | Doonited.India

July 18, 2019

Breaking News

डीएम ने नैनी झील व नालों का निरीक्षण किया

डीएम ने नैनी झील व नालों का निरीक्षण किया
Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

नैनीताल: जिलाधिकारी सविन बंसल ने शुक्रवार की प्रातःकाल में नैनी झील तथा नालों का निरीक्षण किया। तल्लीताल डांट क्षेत्र में झील निरीक्षण के दौरान श्री बंसल ने निर्देशित करते हुए कहा कि पालिका को झील की सफाई व्यवस्था सुनिश्चित करने के लिए उपलब्ध कराई गई दोनों बोट के माध्यम से बरसात के दौरान झील की प्रतिदिन सुबह व शाम दो बार नियमित सफाई करना सुनिश्चित करें।

उन्होंने निर्देशित करते हुए कहा कि सफाई व्यवस्था में किसी भी प्रकार की हीलाहवली बरदाश्त नहीं की जाएगी और गन्दगी पाए जाने पर सम्बन्धितों के खिलाफ सख्त कार्यवाही अमल में लाई जाएगी। उन्होंने मन्दिर परिसर के समीप झील एवं किनारों की सफाई व्यवस्था तत्काल दुरस्त करने के निर्देश नगर पालिका के अधिकारियों को दिए।

बंसल ने मल्लीताल मस्जिद के पास नाला नम्बर 23 में फैली गन्दगी तथा मलवे पर सिंचाई विभाग के अधिकारियों को चेतावनी जारी करते हुए कहा कि 3 दिन के भीतर सभी नालों की सफाई व्यवस्था दुरस्त कर ली जाए, ऐसा न करने पर सिंचाई विभाग के अधीक्षण अभियंता तथा अधिशासी अभियंता के खिलाफ अनुशासनात्मक तथा विभागीय कार्यवाही अमल में लाई जाएगी। उन्होंने सिंचाई विभाग के अधिकारियों को निर्देशित करते हुए कहा कि यदि ठेकेदार द्वारा सफाई व्यवस्था में हीलाहवाली की जा रही है तो तत्काल ठेका निरस्त करते हुए ठेकेदार को ब्लैक लिस्ट करना सुनिश्चित करें।

बंसल ने कहा कि शीघ्र ही नालों की वास्तविक निगरानी के लिए वाईफाई एनेबल्ड आॅल वेदर हाई रिजुलेशन सीसीटीवी कैमरे स्थापित किए जा रहे जिससे सिंचाई विभाग तथा नगर पालिका द्वारा की जा रही सफाई व्यवस्था की वास्तविकता सामने आएगी, लापरवाही पाए जाने पर इन विभागों के अधिकारियों एवं कर्मचारियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी। श्री बंसल ने मन्दिर के पास ठण्डी सड़क क्षेत्र में झील की क्षतिग्रस्त दीवार की मरम्मत के लिए तत्काल आगणन बनाकर प्रस्तुत करने के निर्देश अधिशासी अभियंता सिंचाई को दिए।

बंसल ने तल्लीताल डाट स्थित झील नियंत्रण कक्ष निरीक्षण के दौरान अधिशासी अभिंयता सिंचाई को निर्देशित करते हुए कहा कि गेट खोलने के लिए स्थापित मेनुअल सिस्टम में बरसात के दौरान निरन्तर ग्रीसिंग की जाए ताकि आवश्यकता पड़ने पर गेट को खोला जा सके, आवश्यकता पड़ने पर गेट नहीं खुलने की स्थिति में सिंचाई विभाग के अधिकारियों के खिलाफ अनुशासनात्मक कार्यवाही अमल में लाई जाएगी।

उन्होंने कहा कि पानी की निकासी एवं झील के स्तर की मोनीटरिंग के लिए लेक लेवल मैनुअल गेज पुल्ली सिस्टम के स्थान पर आॅटो मोनीटरिंग तथा कन्ट्रोल के लिए आॅटोमैटेड स्काडा सिस्टम डेवलप किया जाएगा, जिसमें लेक लेवल तथा गेट को आॅटोमेड आॅपरेट किया जाएगा। जिलाधिकारी ने नालों, झील एवं आस-पास के क्षेत्रों की सफाई व्यवस्था की निगरानी के लिए सचिव झील विकास प्राधिकरण हरबीर सिंह तथा उप जिलाधिकारी विनोद कुमार को नोडल अधिकारी नामित करते हुए निर्देश दिए की सचिव हरबीर सिंह एलडीए के कार्मिकों तथा एसडीएम राजस्व विभाग के कार्मिकों के माध्यम से गहनता से निगरानी एवं निरीक्षण करना सुनिश्चित करें।

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.

Related posts

error: Be Positive Be United
%d bloggers like this: