Be Positive Be Unitedजनपद में 1 अक्टूबर से पूर्व सभी खनन पट्टा क्षेत्रों का सीमांकन किया जाएः डीएम- रुद्रपुरDoonited News is Positive News
Breaking News

जनपद में 1 अक्टूबर से पूर्व सभी खनन पट्टा क्षेत्रों का सीमांकन किया जाएः डीएम- रुद्रपुर

जनपद में 1 अक्टूबर से पूर्व सभी खनन पट्टा क्षेत्रों का सीमांकन किया जाएः डीएम- रुद्रपुर
Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.



रुद्रपुर: कलेक्ट्रेट सभागार में जिलाधिकारी रंजना राजगुरु की अध्यक्षता में खनन समिति की बैठक आहूत की गई। खनन अधिकारी के द्वारा जिलाधिकारी को अवगत कराया गया कि 1 अक्टूबर 2020 से खनन सत्र 2020-21 प्रारम्भ होने है। इस दौरान जिलाधिकारी ने सम्बन्धित अधिकारियों को निर्देश दिए कि 1 अक्टूबर 2020 से पूर्व जनपद में समस्त पट्टा क्षेत्रों का सीमांकन करा लिया जाए, इसके अतिरिक्त समस्त पट्टा क्षेत्रों में उपखनिज की उपलब्धता भी सुनिश्चित कर ली जाए।

अवैध खनन को रोकने के लिए शासन स्तर से समिति का गठन किया गया है, जिसमे वन विभाग, राजस्व विभाग, खनन विभाग एवं पुलिस विभाग सम्मिलित है।


जिलाधिकारी ने निर्देश देते हुए कहा कि सभी विभाग संयुक्त रूप से आपस में समन्वय स्थापित कर के कार्य करें। तहसील स्तर पर भी उपजिलाधिकारी के अध्यक्षता में टीमों का गठन किया गया है उक्त टीमें निरन्तर रूप से छापेमारी की कार्यवाही सुनिश्चित करें। उन्होंने कहा कि अवैध खनन में जेसीबी मशीन, डम्पर आदि पकड़ी जाए उस पर त्वरित कार्यवाही कराना सुनिश्चित करें, जनपद में कहीं भी अवैध खनन पकड़े जाने पर राजस्व विभाग,खनन विभाग एवं वन विभाग आवश्यक कार्यवाही करते हुए आवश्यकतानुसार रिपोर्ट दर्ज कराएं जिस पर पुलिस आगे की कार्यवाही कर सके।



जिलाधिकारी महोदया ने ए आर टी ओ को निर्देश दिए कि सभी वाहनों पर रिफ्लेक्टर अनिवार्य रूप से लगें हो, एवं ओवरलोड वाहनों पर कार्यवाही करने करने हेतु चेकिंग अभियान चलाया जाएं। उन्होंने कहा कि जनपद ऊधम सिंह नगर में कहीं भी अवैध उपखनिज (मिट्टीध्रेताध्बजरीध् बोल्डर) का भंडारण पाये जाने पर उसका सही मूल्यांकन कर नीलामी की व्यवस्था कराना सुनिश्चित करें, सम्बन्धित अधिकारियों को निर्देश दिए कि खनन के निकासी गेटों पर धर्मकांटा अनिवार्य रूप से लगवाएं जाएं एवं समय समय पर उसका औचक निरीक्षण करते रहे कि समस्त धर्मकांटा सुचारू रूप से कार्य कर रहा है अथवा नहीं। जिलाधिकारी महोदया ने यह भी निर्देश दिए कि जनपद में पूर्व में लगाये गए सीसीटीवी कैमरे का निरीक्षण करें और जहाँ कैमरे खराब हो उन्हें सही कराए तथा जहाँ आवश्यकता हो वहाँ  नए सीसीटीवी कैमरे भी लगाएं। उन्होंने कहा कि मिट्टी खननध्समतलीकरणध्मत्स्य पालनध्बेसमेंट खुदान एवं अन्य अनुमति सम्बन्धितों को निर्गत की जा रही है उसका भी निरीक्षण समय समय पर करते रहे कि प्रदत्त अनुमति के सापेक्ष कार्य किया जा रहा है अथवा नहीं।

इस मौके पर वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक डी एस कुँवर, डी एफ ओ तराई पश्चिमी वन प्रभाग हिमांशु बागरी, डी एफ ओ तराई पूर्वी वन प्रभाग एन एम त्रिपाठी, डी एफ ओ तराई केंद्रीय वन प्रभाग डॉ अभिलाषा सिंह, अपर जिलाधिकारी उत्तम सिंह चैहान, अपर पुलिस अधीक्षक प्रमोद कुमार, प्रभारी अधिकारी खनन एन एस नबियाल, उपजिलाधिकारी काशीपुर, गौरव कुमार, उपजिलाधिकारी बाजपुर ए पी बाजपेयी, उपजिलाधिकारी किच्छा विवेक प्रकाश, उपजिलाधिकारी सितारगंज मुक्ता मिश्रा, उपनिदेशकध्भूवैज्ञानिक डॉ अमित गौरव, ए आर टी ओ संदीप सैनी, ए आर टी ओ पूजा नयाल, ए आर टी ओ अनिता चन्द, डी एल एम नधौर के के उपाध्याय, डी एल एम रामनगर प्रमोद कुमार नारंग, अधिशासी अभियंता सिंचाई विभाग दीक्षान्त गुप्ता, प्रकाश पालनी आदि मौजूद थे।




Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.

Related posts

%d bloggers like this: