Doonitedदेहरादून जिलाधिकारी: जिले में कोरोना संक्रमितों की संख्या 1517 पहुंचीNews
Breaking News

देहरादून जिलाधिकारी: जिले में कोरोना संक्रमितों की संख्या 1517 पहुंची

देहरादून जिलाधिकारी: जिले में कोरोना संक्रमितों की संख्या 1517 पहुंची
Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

जिलाधिकारी डाॅं0 आशीष कुमार श्रीवास्तव ने बताया है कि जनपद में कोरोना वायरस संक्रमण के दृष्टिगत 113 सैम्पल जाचं हेतु भेजे गये तथा 83 सैम्पल की रिपोर्ट प्राप्त हुई जिनमें 55 सैम्पल पाॅजिटिव आने के फलस्वरूप जनपद में कोरोना पाॅजिटिव संक्रमितों की संख्या 1517 हो गयी है, जिनमें 456 व्यक्ति वर्तमान में उपचाररत् हैं। इसके अतिरिक्त जनपद में आज कुल 839 व्यक्तियों के सैम्पल लिये गये।

आज को-मोर्बिडिटी माॅनिटरिंग और सर्विलांस कन्ट्रोलरूम से कोविड-19 संक्रमण के पश्चात स्वस्थ हुए 199 व्यक्तियों से दूरभाष पर सम्पर्क कर उनके स्वास्थ्य के सम्बन्ध में जानकारी प्राप्त की गयी। आशा कार्यकर्तियों द्वारा जनपद देहरादून अन्तर्गत बनाये गये विभिन्न कन्टेंनमेंट जोन में व्यक्तियों की सामुदायिक निगरानी का कार्य किया जा रहा है जिसके अन्तर्गत 1838 व्यक्तियों का फाॅलोअप किया जा चुका है। अन्य राज्यों से जनपद में पंहुचे कुल 608 व्यक्तियों को स्वास्थ्य परीक्षण के उपरांत क्वारेंटीन किया गया।

आंगनबाड़ी कार्यकर्तियों द्वारा आज जनपद में शहरी क्षेत्र, विकासखण्ड सहसपुर एवं रायपुर  क्षेत्रान्तर्गत 115556 व्यक्तियों की सामुदायिक निगरानी का कार्य किया गया। आज विभिन्न चिकित्सालयों स्वास्थ्य कार्मिकों को 230 एन-95 मास्क, 2910 ट्रिपल लेयर, 219 सेनिटाइजर, 1010 सर्जिकल गलब्स, 105 एक्सामिनेशन गलब्स वितरित किये गये। कोविड-19 संक्रमण की रोकथाम एवं नियंत्रण हेतु समस्त मेडिकल स्टोर पर बिना चिकित्सक के परामर्श की पर्ची के सर्दी, खांसी व जुकाम की दवाईयों का विक्रय प्रतिबन्धित किये जाने के उपरान्त समस्त मेडिकल स्टोर स्वामियों द्वारा जनपद में कुल 71 व्यक्तियों को चिकित्सकीय पर्ची के आधार पर सर्दी, खांसी व जुकाम की दवाईयां विक्रय की गयी।




डीएम ने वीडियो कान्फ्रेसिंग के माध्यम से की राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन की समीक्षा

जिलाधिकारी डाॅ आशीष कुमार श्रीवास्तव ने अपने शिविर कार्यालय से वीडियो कान्फ्रेसिंग के माध्यम से राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन की समीक्षा एनआईसी सभागार में उपस्थित स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों के साथ की। वीडियो कान्फे्रसिंग के दौरान जिलाधिकारी ने मुख्य चिकित्साधिकारी को राष्ट्रीय स्वास्थ्य कार्यक्रमों के तहत् हैल्थ एण्ड वैलनेस कार्यक्रम के सम्बन्ध में विस्तृत कार्ययोजना बनाकर निर्धारित सभी लक्ष्यों को पूर्ण करने के निर्देश दिये। उन्होंने सीएमओ को गर्भवती महिलाओं की प्रसव के दौरान मैटरनल डेथ वाले मामलों में सभी स्वास्थ्य केन्द्रों में तैनात प्रमुख चिकित्सा अधीक्षक मेटरनल डेथ की 48 घंटे के भीतर टेस्ट आॅडिट कराये जाने के निर्देश जारी करने को कहा।

उन्होंने जननी सुरक्षा कार्यक्रम के तहत् सहसपुर, डोईवाला व रायपुर ब्लाकों में टीकाकरण, लिंगानुपात एवं पुरूष एवं महिला नसबंदी कार्यक्रमों में लक्ष्य से काफी न्यून प्रगति पर नाराजगी जताई। उन्होंने कहा कि राष्ट्रीय स्वास्थ्य सेवाओं (एन.एच.एम) में किसी प्रकार की कोताही न हो, इसके लिए कहीं पर भी डेटा कलेक्शन के लिए डाटा एन्ट्री आपरेटरों को उपनल या पीआरडी के माध्यम से नियुक्त करते हुए सभी कार्यक्रमों के सम्भावित सभी लक्ष्यों को समय रहते पूर्ण करायें। इस कार्यक्रम में उप जिलाधिकारियों के माध्यम से भी आवश्यक सहयोग प्राप्त कर लिया जाय। उन्होंने आशा, आंगनवाड़ी कार्यकर्तियों को सम्मान निधि सहित मानदेय समय से उपलब्ध कराये जाने को कहा। उन्होंने एनएचएम के तहत्  डोईवाला, सहसपुर व रायपुर विकासखण्डों में महिला सुरक्षा, टीकाकरण, नसबन्दी आदि में निर्धारित लक्ष्यों के सापेक्ष अपेक्षित प्रगति लाना सुनिश्चित करें।

वीडियोकान्फ्रेंसिंग के दौरान जिलाधिकारी ने कोविड-19, डेंगू-मलेरिया निवारण हेतु व्यापक प्रचार-प्रसार व कीटनाशक दवाओं का छिड़काव, शहरी क्षेत्रों में लक्षित सभी भवनों के निवासियों को आशा कार्यकर्तियों के माध्यम से जनजागरूकता लाई जाने तथा बेटी बचाओ-बेटी पढाओ कार्यक्रम की प्रगति की जानकारी प्राप्त की । उन्होंने सीएमओ को निर्देशित किया कि राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन के अन्तर्गत आंवटित बजटघ् व्यय के सन्दर्भ में निर्देशित किया कि वित्तीय वर्ष का लेखा-जोखा आय व्यय विवरण रिपोर्ट एक सप्ताह के भीतर प्रस्तुत करने के निर्देश दिये तथा आगामी सप्ताह में पुनः इस कार्यक्रम की समीक्षा की जाय।

वीडियो कान्फ्रेसिंग में राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन के सम्बन्ध में मुख्य चिकित्साधिकारी डाॅ बी.सी रमोला एवं उप मुख्य चिकित्साधिकारी डाॅ एन के त्यागी द्वारा संयुक्त जानकारी देते हुए बताया कि जननी सुरक्षा कार्यक्रम, टीकाकरण, नसबन्दी, लिंगानुपात, गर्भवती महिलाओं के प्रसव, सम्बन्धी कार्यक्रमों सहित एन.एच.एम डाटा कलेक्शन की प्रगति की जानकारी दी। उन्होंने राष्ट्रीय किशोर स्वास्थ्य कार्यक्रम, ओपीडी, आईपीडी, जन स्वास्थ्य, टीटनेस, महिला -पुरूष नसबन्दी जेसे कार्यक्रमों में निर्धारित लक्ष्यों में आशातीत प्रगति लाये जाने का भरोसा भी दिलाया। वीडियो कान्फे्रसिंग में नोडल अधिकारी कोविड-19 डाॅ दिनेश चैहान, जिला मलेरिया अधिकारी डाॅ सुभाष जोशी, जिला कार्यक्रम अधिकारी बाल विकास अभिषेक मिश्रा सहित स्वास्थ्य विभाग से जुड़े अधिकारी उपस्थित थे।




Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.

Related posts

error: Be Positive Be United
%d bloggers like this: