Doonited News & Media Servicesचीन में फैल रहा ये जानलेवा वायरस भारत अमेरिका ने अपने नागरिकों को दी चेतावनीDoonited.India
Breaking News

चीन में फैल रहा ये जानलेवा वायरस भारत अमेरिका ने अपने नागरिकों को दी चेतावनी

चीन में फैल रहा ये जानलेवा वायरस भारत अमेरिका ने अपने नागरिकों को दी चेतावनी
Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

चीन में कोरोना वायरस के फैलने की खबरों के मद्देनजर सरकार ने एक यात्रा परामर्श जारी करते हुए नागरिकों को बचने के लिए कुछ उपायों का पालन करने को कहा है। इस वायरस से सांस संबंधी समस्याओं से सामना करना पड़ रहा है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा जारी परामर्श में कहा गया है कि कोरोना वायरस के संचरण के बारे में अभी स्थिति स्पष्ट नहीं है, लेकिन चीन की यात्रा करने वालों को सलाह दी जाती है कि वे खेतों, पशुओं के बाजारों या जहां बूचड़खाने हों वहां की यात्रा करने से बचें। इसके साथ ही लोगों को कच्चे या अधपके मांस के उपभोग करने से भी बचने की सलाह दी गई है। परामर्श में कहा गया है कि उन लोगों के साथ निकट संपर्क से बचना चाहिए जो अस्वस्थ हैं या जिनमें बीमारी के लक्षण हैं, जैसे खांसी, नाक का बहना आदि। अगर सांस की समस्या है तो यात्रियों को मास्क पहनने की सलाह दी गई है।

चीन की यात्रा करने वाले लोगों को दिए गए परामर्श में कहा गया है कि ऐसे लोगों को हर समय कुछ सार्वजनिक स्वास्थ्य उपायों का पालन करना चाहिए और व्यक्तिगत स्वच्छता का ध्यान रखना, साबुन से अक्सर हाथ धोने और खांसने या छींकने पर मुंह ढंकने जैसे शिष्टाचार का पालन करना चाहिए। इसमें कहा गया है कि 11 जनवरी तक कोरोना वायरस से संक्रमण के 41 मामलों की पुष्टि हुयी है और उनमें से एक व्यक्ति की मौत हो गई है।

WHO की चेतावनी

विश्व स्वास्थ्य संगठन  ने भी इस वायरस को लेकर दुनियाभर के देशों को चेतावनी जारी की है। मंगलवार को विश्व स्वास्थ्य संगठन ने चेतावनी देते हुए कहा है कि वायरस से सतर्क रखने की जरूरत है। चीन को कोरोना वायरस के कारणों का जल्द-से जल्द पता लगाना होगा।

कोरोना वायरस के सक्षण

कोरोना वायरस के संक्रमण के सामान्य लक्षणों में बुखार, खांसी, सांस लेने में तकलीफ शामिल हैं। अधिक गंभीर मामलों में संक्रमण से निमोनिया, गुर्दे की विफलता और यहां तक कि मृत्यु भी हो सकती है।

वायरस से बचने के उपाय

कोरोना वायरस के असर से बचने के लिए कुछ उपाय बताए गए हैं। जिसमें नियमित रूप से हाथ धोना, खांसने और छींकने के समय मुंह और नाक को ढंकना, मांस और अंडे को अच्छी तरह से पकाना शामिल है।

सार्स ने मचाई थी तबाही

बता दें कि इस नए वायरस को सार्स से जोड़कर देख रहे है। चीन में इससे पहले साल 2003 में सार्स (Severe Acute Respiratory Syndrome) नाम की बीमारी फैली थी। एक आंकड़े के अनुसार सार्स की वजह से पूरी दुनिया में 813 मौतें हुई थीं। जिनमें से अकेले चीन में 646 मौतें हुई थीं।

चीन से आने वाले यात्रियों की हवाई अड्डों पर थर्मल स्कैनर से होगी जांच

वायरस संक्रमण के मद्देनजर केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने एहतियाती उपाय के तौर पर, पड़ोसी देश से आने वाले यात्रियों की दिल्ली, मुंबई और कोलकाता हवाई अड्डों पर थर्मल स्कैनर से जांच करने का निर्देश दिया है। स्वास्थ्य और परिवार कल्याण सचिव प्रीति सूदन ने कहा कि डब्ल्यूएचओ के साथ विचारविमर्श कर स्थिति की निगरानी की जा रही है। स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन ने शुक्रवार को देश में लोक स्वास्थ्य तैयारियों का जायजा लिया।

वायरस की चपेट में 41 लोग

चीनी के स्वास्थ्य अधिकारियों ने नए कोरोना वायरस के संपर्क में आने के 41 मामलों की सूचना दी है। वहीं, सात लोगों की हालत गंभीर बताई जा रही है। इसके अलावा रोगियों के साथ संपर्क रहने के कारण 419 डॉक्टरों सहित लगभग 740 लोगों को चिकित्सा निगरानी में रखा गया है।

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.
Advertisements

Related posts

error: Be Positive Be United
%d bloggers like this: