Be Positive Be Unitedआदर्श ग्राम योजना के अन्तर्गत गठित जिला स्तरीय समिति की सीडीओ ने ली समीक्षा बैठकDoonited News is Positive News
Breaking News

आदर्श ग्राम योजना के अन्तर्गत गठित जिला स्तरीय समिति की सीडीओ ने ली समीक्षा बैठक

आदर्श ग्राम योजना के अन्तर्गत गठित जिला स्तरीय समिति की सीडीओ ने ली समीक्षा बैठक
Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

हरिद्वार: मुख्य विकास अधिकारी, हरिद्वार विनीत तोमर की अध्यक्षता में कलेक्ट्रेट में प्रधानमंत्री आदर्श ग्राम योजना के अन्तर्गत गठित जिला स्तरीय समिति की समीक्षा बैठक आयोजित हुई। बैठक में मुख्य विकास अधिकारी ने शिक्षा विभाग के अधिकारियों से प्रधानमंत्री आदर्श गांव योजना के तहत आच्छादित गांवों के स्कूलों में मानक के अनुसार शौचालयों हैं या नहीं, के बारे में पूछा तो अधिकारियों ने बताया कि मानक के अनुसार जितने शौचालय बनने हैं, उनका प्रस्ताव प्रस्तुत कर दिया है। भगवानपुर ब्लाक के हबीबपुर निवादा गांव के सम्बन्ध में अधिकारियों ने बताया कि वहां पांच आंगनबाड़ी केन्द्र हैं, जो अपने भवन में हैं, वहां दो शौचालय बनने हैं।




समिति ने हबीबपुर निवादा के प्रस्ताव को सर्वसम्मति से पारित किया। भगवानपुर ब्लाक के मोलना गांव में दो हैण्डपम्प का प्रस्ताव रखा गया था, जिसके औचित्य को देखते हुये विचार-विमर्श के बाद सर्वसम्मति से एक हैण्डपम्प स्थापित करने का प्रस्ताव मंजूर हुआ। अधिकारियों ने मुख्य विकास अधिकारी को बताया कि भगवानपुर ब्लाक के मोलना गांव में पांच आंगनबाड़ी केन्द्र हैं, पांचों में शौचालय की सुविधा है। समिति ने इसे भी सर्वसम्मति से पारित कर दिया। बहादराबाद ब्लाॅक के अलावलपुर गांव में कितने आंगनबाड़ी केन्द्र हैं, के उत्तर में अधिकारियों ने मुख्य विकास अधिकारी को बताया कि पांच आंगनबाड़ी केन्द्र हैं, जिनमें से दो अपने भवन में हैं, दोनों में शौचालय की सुविधा उपलब्ध है। लक्सर ब्लाक के महतौली गांव के सम्बन्ध में अधिकारियों ने बताया कि वहां दो स्कूल हैं, जिनमें तीन शौचालय बनने हैं तथा आंगनबाड़ी केन्द्रों की संख्या चार है।


खानपुर ब्लाॅक के सिकन्दरपुर गांव के सम्बन्ध में अधिकारियों ने बताया कि वहां छह आंगनबाड़ी केन्द्र हैं, जिनमें से पांच अपने भवन में हैं तथा एक आंगनबाड़ी भवन का निर्माण होना है। समिति ने इसे सर्वसम्मति से पारित कर दिया। अधिकारियों ने समीक्षा बैठक में बताया कि प्रधानमंत्री आदर्श गांव योजना के तहत 53 गांव चिह्नित हैं। गांव विकास योजना का उद्देश्य चुने गांवों का आदर्श ग्राम के रूप में लगभग 5 वर्ष की समय सीमा में विकास करने के लिये व्यापक, वास्तविक और व्यावहारिक रूप रेखा तैयार करना है।


बैठक में पुष्पेन्द्र सिंह चैहान, जिला विकास अधिकारी, नरेन्द्र यादव, उद्यान एवं समाज कल्याण अधिकारी, भारती तिवारी, जिला कार्यक्रम अधिकारी सहित सम्बन्धित विभागों के अन्य अधिकारीगण उपस्थित थे।




Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.

Related posts

%d bloggers like this: