देश में टॉप-3 में जगह बनाने वाली देहरादून की छात्रा शगुन | Doonited.India

May 22, 2019

Breaking News

देश में टॉप-3 में जगह बनाने वाली देहरादून की छात्रा शगुन

देश में टॉप-3 में जगह बनाने वाली देहरादून की छात्रा शगुन
Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

सीबीएसई ने 10वीं के परिणाम जारी कर दिए। इसमें उत्तराखंड के 11 छात्र-छात्राओं ने टॉप 3 में बाजी मारी। साथ ही फस्र्ट टॉपर में भी देहरादून रीजन के सात छात्र-छात्राएं शामिल हैं, जिन्होंने 500 में से 499 अंक हासिल किए हैं। 10वीं की परीक्षा में देहरादून की शगुन मित्तल देश में तीसरे स्थान पर रहीं, इसके साथ ही वें उत्तराखंड की टॉपर भी हैं।

 

 इसमें फस्र्ट टॉपर 3, सेकंड टॉपर 4 व थर्ड टॉपर भी 4 छात्र-छात्राएं रहे। देहरादून के दिल्ली पब्लिक स्कूल कालागांव की छात्रा शगुन मित्तल, रुद्रपुर के अमेनिटी पब्लिक स्कूल की छात्रा जगनूर कौर और ऊधमसिंह नगर के सेंट पीटर्स स्कूल के छात्र लोकेश जोशी ने 497 अंक उत्तराखंड टॉप किया है। देहरादून की शगुन मित्तल ने 10वीं में पूरे देश में तीसरा और उत्तराखंड में टॉप किया। शगुन मित्तल कंप्यूटर इंजीनियर बनना चाहती हैं। शगुन ने 10वीं में 500 में से 497 अंक हासिल किए हैं। शगुन का परिवार देहरादून में रेसकोर्स में रहता है। उनके पिता डॉ. आशीष मित्तल मैक्स अस्पताल में डॉक्टर हैं, जबकि मां डॉ. हीना मित्तल हिमालयन अस्पताल, जौलीग्रांट में डॉक्टर हैं।

शगुन ने आठवीं तक की पढ़ाई नोएडा से की। इसके बाद परिवार देहरादून में शिफ्ट हो गया। दून में डीपीएस कालागांव से 10वीं 99.4 प्रतिशत अंकों के साथ पास की है। शगुन का छोटा भाई शुभम मित्तल डीपीएस में ही 9वीं का छात्र है। शगुन की मां डॉ. हीना का कहना है कि उन्होंने पढ़ाई के लिए कभी दबाव नहीं बनाया। बेटी ने खुद ही पढ़ाई की है। शगुन दून में अपने नाना योगेश चंद गर्ग और नानी राजकुमारी गर्ग के साथ रहती है। शगुन ने बताया कि उन्होंने पढ़ाई को खूब एन्जॉय किया है। वह रोजाना महज चार से पांच घंटे पढ़ाई करती थीं। जो पढ़ती थी, उसे रिवाइज जरूर करती थी। शगुन का कहना है कि उनके लिए यह खुशी की बात है कि वह देश में टॉप-3 में जगह बनाने में कामयाब रही हैं। लेकिन अब उनका लक्ष्य 12वीं में पूरे देश में पहले स्थान पर रहना है।

शगुन ने बताया कि उनके मम्मी-पापा दोनों डॉक्टर हैं। उनकी लाइफ बहुत बिजी रहती है। इसलिए वह डॉक्टर बनना नहीं चाहती। इसके बजाए वह कंप्यूटर इंजीनियर बनेंगी। शगुन को स्वीमिंग और नृत्य का शौक है। कक्षा तीन से ही वह कत्थक सीख रही हैं। कत्थक में उन्होंने डिप्लोमा भी किया हुआ है।

शगुन ने इंगलिश में 100 अंक, हिंदी में 100 अंक, मैथ्स में 100 अंक, साइंस में 97 अंक, सोशल साइंस में 100 अंक प्राप्त किए। वहीं, देव सेंटनरी स्कूल हल्द्वानी के छात्र यश तिवारी, बिडला इंस्टीट्यूट ऑफ लर्निंग की छात्रा लावन्या नौटियाल, दि एशियन एकेडमी पिथौरागढ़ के छात्र सर्थक जोशी व अमेनिटी पब्लिक स्कूल के छात्र प्रियांशु सिंह ने 496 अंक पाकर दूसरे स्थान पर रहे। दून इंटरनेशनल स्कूल देहरादून की छात्रा रिषिका, दून वैली पब्लिक स्कल गढ़ी कैंट देहरादून के छात्र शशांक, निर्मला कॉवेंट पब्लिक स्कूल नैनीतला के चिराग गोयल और यूनिवर्सल स्कूल नैनीताल के छात्र गौरव कुमार 495 अंक पाकर तीसरे स्थान पर रहे। देहरादून रीजन का परिणाम 89.04 प्रतिशत रहा। 91.1 फीसदी छात्र 10वीं की परीक्षा में पास हुए हैं। 18 लाख छात्रों ने परीक्षा दी थी।

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.

Related posts

error: Be Positive Be United
%d bloggers like this: