अमेरिका में आज बाइडेन युग की शुरूआत | Doonited News
Breaking News

अमेरिका में आज बाइडेन युग की शुरूआत

अमेरिका में आज बाइडेन युग की शुरूआत
Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

अमेरिका के लिए आज का दिन महत्वपूर्ण रहने वाला है। जो बाइडेन आज 46वें अमेरिकी राष्ट्रपति के तौर पर शपथ लेने जा रहे है। अमेरिका में आज से बाइडेन युग की शुरूआत होने जा रही है। बाइडेन के साथ भारतीय मूल की कमला हैरिस उपराष्ट्रपति पद की शपथ लेंगी। अमेरिकी संसद में 6 फरवरी को हुई हिंसा के बाद वॉशिंगटन डीसी में कड़ी सुरक्षा कर दी है। करीब 25 हजार नेशनल गार्ड अमेरिकी बाइडेन की सुरक्षा में तैनात किए गए हैं।

अमेरिका के नवनिर्वाचित राष्ट्रपति जो बाइडन बुधवार को अमेरिका के 46वें राष्ट्रपति के रूप में जबकि कमला हैरिस उपराष्ट्रपति पद की शपथ लेंगी। राष्ट्रपति ट्रंप के समर्थकों द्वारा कैपिटल हिल (संसद भवन परिसर) पर हाल में हुए हमले के बाद ऐतिहासिक शपथ ग्रहण समारोह के मौके पर हिंसा की घटनाओं को देखते हुए भारी सुरक्षा के बीच बुधवार को बाइडन और हैरिस शपथ ग्रहण करेंगे।

चीफ जस्टिस जॉन रॉबर्ट्स 12 बजते ही (स्थानीय समयानुसार) कैपिटल के वेस्ट फ्रंट में बाइडन को पद की शपथ दिलाएंगे। शपथ ग्रहण का यह पारंपरिक स्थान है जहां नेशनल गार्ड्स के 25 हजार से अधिक जवान सुरक्षा में तैनात रहेंगे। निवर्तमान राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप समर्थकों के हिंसक प्रदर्शन को देखते हुए इस स्थान को किले में तब्दील कर दिया गया है।

बाइबिल के साथ लेंगे शपथ

बाइडन (78) अपने परिवार की 127 वर्ष पुरानी बाइबिल के साथ शपथ लेंगे। इस दौरान उनकी पत्नी जिल बाइडन अपने हाथों में बाइबिल लिए खड़ी रहेंगी। अमेरिका के इतिहास में सबसे अधिक उम्र के राष्ट्रपति बनने जा रहे बाइडन शपथ ग्रहण के तुरंत बाद राष्ट्रपति के तौर पर देश को पहली बार संबोधित करेंगे। ऐतिहासिक भाषण भारतीय मूल के अमेरिकी नागरिक विनय रेड्डी तैयार कर रहे हैं, जो एकता और सौहार्द पर आधारित होगा।

हैरिस रचेंगी इतिहास

हैरिस (56) पहली महिला, पहली अश्वेत और पहली दक्षिण एशियाई अमेरिकी उपराष्ट्रपति बनकर इतिहास रचेंगी। उन्हें सुप्रीम कोर्ट की पहली लैटिन सदस्य न्यायमूर्ति सोनिया सोटोमेयर पद की शपथ दिलाएंगी। सोटोमेयर ने बाइडन को 2013 में उपराष्ट्रपति पद की शपथ दिलाई थी।

वह दो बाइबिल को लेकर शपथ लेंगी जिसमें एक निकट पारिवारिक मित्र रेगिना शेल्टन की होगी और दूसरी देश के पहले अफ्रीका मूल के अमेरिकी सुप्रीट कोर्ट के न्यायाधीश थुरगूड मार्शल की होगी।

इस वर्ष सत्ता हस्तांतरण अपने विवादों को लेकर याद किया जाएगा। चुनावों के बाद सामान्य तौर पर यह प्रक्रिया शुरू हो जाती थी लेकिन निवर्तमान राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप द्वारा तीन नवंबर के चुनाव परिणाम को अस्वीकार करने के बाद यह कई हफ्ते बाद शुरू हुआ है।

ट्रंप शपथ ग्रहण समारोह में शामिल नहीं होंगे

ट्रंप ने कहा है कि वह शपथ ग्रहण में शामिल नहीं होंगे। शपथ ग्रहण कार्यक्रम सुबह करीब 11 बजे शुरू हो जाएगा जिस दौरान गायिका-नृत्यांगना लेडी गागा राष्ट्रगान गाएंगी और अमांडा गोरमैन इस अवसर के लिए लिखी गई एक खास कविता पढ़ेंगी। अभिनेत्री-गायिका जेनिफर लॉपेज भी इस दौरान प्रस्तुति देंगी।

शपथ ग्रहण के दौरान अमेरिका में सुरक्षा व्यवस्था के कड़े इंतजाम किए गए हैं। एजेंसियों ने चेताया है कि डोनाल्ड ट्रम्प समर्थको के हथियारबंद समूह 50 राज्यों की राजधानी में जुटने की योजना तैयार कर रहे हैं। राजधानी वॉशिंगटन मं 24 जनवरी तक इमरजेंसी लगा दी गई है। बाइडने के शपथ ग्रहम समारोह को लेकर पूरा अमेरिका अलर्ट मोड़ पर है।

बता दें कि 46वें राष्ट्रपति पद की शपथ लेने जा रहे बाइडेन का शपथ ग्रहण समारोह इस बार कुछ अलग होगा। इसके चलते अमेरिका के लिए ये खास मौका है। इस समारोह पर भारतीयों की भी नजरें टिकी हुई हैं। अमेरिका के नवनिर्वाचित राष्ट्रपति जो बाइडेन सत्ता संभालते ही भारतीयों को पहले दिन एक बड़ी खुशखबरी दे सकते हैं। बाइडेन पहले दिन एक विधेयक पारित कर कानूनी दर्जे के बिना रह रहे करीब 1 करोड़ 10 लाख लोगों को 8 साल के लिए नागरिकता देने का प्रावधान करने वाले हैं। इस फैसले से करीब 5 लाख लोग भारतीय मूल के लोगों को फायदा हो सकता है।

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.

Related posts

doonited mast
%d bloggers like this: