मंशा देवी पैदल मार्ग पर दिव्यांग परमिशन की आड़ में सवारी ढोह रहे ऑटो रिक्शा | Doonited.India

May 27, 2019

Breaking News

मंशा देवी पैदल मार्ग पर दिव्यांग परमिशन की आड़ में सवारी ढोह रहे ऑटो रिक्शा

मंशा देवी पैदल मार्ग पर दिव्यांग परमिशन की आड़ में सवारी ढोह रहे ऑटो रिक्शा
Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

हरिद्वार: वन विभाग की मिलीभगत के चलते दिव्यांग की परमिशन की आड़ में मंशा देवी पैदल मार्ग पर ऑटो रिक्शा चालक धड़ल्ले से चंडी देवी, बस अड्डा, रेलवे स्टेशन आदि की सवारी ढोह रहें है। राजाजी नेशनल पार्क क्षेत्रांतर्गत मंशा देवी पैदल मार्ग पर किसकी अनुमति से सवारी बैठाकर आॅटो रिक्शा दौड़ाने के विषय में ऑटो रिक्शा चालकों से जानकारी ली गई तो उनके द्वारा बताया गया कि उनके पास सवारी लाने व ले जाने की परमिशन हैं। लेकिन जब उनसे परमिशन दिखाने के लिए कहा गया तो वहां मौजूद रिक्शा चालक कथनानुसार लिखित तौर पर कोई अनुमति नही दिखा सके। जब ज्यादा जानकारी जुटाई गई तो सामने निकलकर आया कि ऑटो रिक्शा चालक द्वारा ऑटो रिक्शा में दिव्यागों की परमिशन की आड़ में विभागीय मिलीभगत के चलते सवारी ढोने का कार्य किया जा रहा हैं। इस विषय में जानकारी होने के बाद वन विभागीय अधिकारी मूक दर्शक बने बैठे हैं। एक महीने में कितने दिव्यांग यात्रिओं को सवारी के तौर पर ऑटो रिक्शा में लाया व ले जाया गया हैं इसका कोई रिकार्ड भी वनविभाग के पास मौजूद नहीं है।

इतना ही मंदिर मार्ग से मुख्य द्वार तक सवारी ढोने के कार्य में लगे दोपहिया वाहन चालक भी तीन-तीन सवारियां बैठा बेरोकटोक सरपट दौड़ रहे हैं। सवारी ढोने में लगे दोपहिया वाहन चालक अपने साथ -साथ यात्रिओं की जान जोखिम में डालने से गुरेज नहीं कर रहे हैं। जबकि मंशा देवी पैदल मार्ग घुमावदार व पहाड़ीनुमा होने के साथ ही वाहनों की आवाजाही के मद्देनजर खतरों भरा है । जबकि दोपहिया व चारपहिया वाहनों की रोकथाम के लिए मंशा देवी पैदल मार्ग के प्रवेश द्वार बकायदा चेतावनी के बोर्ड भी लगे हुए हैं।

लेकिन इन सबके बावजूद विभागीय लापरवाही के कारण दोपहिया वाहन चालक चंद रुपयों की खातिर यात्रिओं की जान जोखिम में डालने में तुले हुए हैं। सुप्रीम कोर्ट के आदेशानुसार राजाजी नेशनल पार्क क्षेत्रांतर्गत किसी तरह की कोई भी व्यवसायिक गतिविधि संचालित नहीं की जा सकती हैं । लेकिन इसका अनुपालन कराने में नकाम रहे वन विभागीय अधिकारियों की मिलीभगत से सीजन आते ही राजाजी राष्ट्रीय पार्क क्षेत्रांतर्गत मंशा देवी मार्ग पर खान-पान व प्रसाद की सैकड़ों दुकानें सजा दी गई हैं।

फिल्मों में विलेन की एन्ट्री और अवैध कामों में सफेदपोशों की सरपरस्ती न हो ऐसा संभव ही नहीं हैं। राजाजी राष्ट्रीय पार्क में अवैध रूप से संचालित दुकानों के पीछे भी यही वजह निकलकर सामने आ रही है। विभागीय कर्मचारी ने नाम न छापने की शर्त पर बताया कि विभागीय अधिकारी चाहकर भी राजाजी राष्ट्रीय पार्क में लगी दुकानों पर कारवाई नहीं कर पाते हैं। सीजन आते ही मेला,स्नान आदि के अवसर इन दुकानों को हटाने की कारवाई के स्थान मात्र एक-दो दिन अतिक्रमण हटाओं अभियान चलाकर खानापूर्ति कर ली जाती है।

विभागीय अधिकारियों के कारवाई के लिए कदम बढ़ाते ही अधिकारियों के फोन पर गरीबों का शोषण बता कारवाई रोकने के लिए नेताओं के फोन घनघनाने लगते हैं। वहीं, शरण पाल सिंह कुंवर क्षेत्रीय वनाधिकारी, राजाजी नेशनल पार्क, हरिद्वार का कहना है कि कुछ ऑटो रिक्शा को दिव्यांग व बुजुर्ग यात्रिओं को लाए व ले जाए जाने की परमिशन हैं। पोस्टिंग पर कुछ ही दिन पूर्व आए हैं। मामले की जांच कराऐंगे। पुलिस फोर्स मिलने पर आगामी दिनों में राजाजी राष्ट्रीय पार्क क्षेत्रांतर्गत लगी सभी दुकानों को हटाया जाएगा। दुकान हटाने के आदेश जारी कर दिए हैं।

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.

Related posts

Leave a Reply

error: Be Positive Be United
%d bloggers like this: