Doonitedदेहरादून में बनेगी अटल इनोवेशन अकादमीNews
Breaking News

देहरादून में बनेगी अटल इनोवेशन अकादमी

देहरादून में बनेगी अटल इनोवेशन अकादमी
Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

मानव संसाधन विकास मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक ने कहा कि मानव संसाधन विकास मंत्रालय दून में उत्कृष्ट अटल नवाचार (इनोवेशन) अकादमी की स्थापना करेगा। अकादमी का मकसद देश में उच्च तकनीकी शिक्षा, शोध, उद्यमिता और नवाचार को बढ़ावा देना होगा। संस्थान सुयोग्य छात्र तैयार करेगा, जो देश के चहुमुखी विकास में भागीदार होंगे।

रविवार को दून स्थित ग्राफिक ईरा हिल यूनिवर्सिटी में रमेश पोखरियाल निशंक ने अखिल भारतीय तकनीकी शिक्षा परिषद (एआइसीटीई) के तीन विशेष ऑनलाइन पोर्टलों का लोर्कापण कर देश को समर्पित किए। उन्होंने कहा कि अटल अकादमी के निर्माण के लिए प्रदेश सरकार से पांच एकड़ भूमि उपलब्ध करने को कहा गया है। अकादमी का स्वरूप क्या होगा इसको अखिल भारतीय तकनीकी शिक्षा परिषद के चैयरमैन अपनी टीम के साथ बैठकर तय करेंगे।

उन्होंने कहा कि आज के दिन स्वामी विवेकानंद की 157वीं जयंती देश में युवा दिवस के रूप में मनाई जा रही है। ऐसे शुभ अवसर पर एआइसीटीई ने देश के लाखों युवाओं के लिए ‘नेशनल एजूकेशनल एलाइंस टेक्नोलॉजी’ (नैट) स्कीम के तहत अत्याधुनिक तीन पोर्टल लांच किए जिससे तकनीकी शिक्षा प्राप्त कर रहे छात्र, फैकल्टी और उद्योग जगत को सीधा लाभ मिलेगा। साथ ही एआइसीटीई के इन नवीन कार्याक्रमों से तकनीकी शिक्षा गुणवत्ता में व्यापक सुधार देखने को मिलेगा।

केंद्रीय मंत्री निशंक ने कहा, भारत की युवा शक्ति पूरी दुनिया की पथ प्रदर्शक बनने को तैयार है। देश में वर्तमान में 35 करोड़ युवाओं का स्कूल से लेकर विवि तक दाखिले हैं। इतनी संख्या तो अमेरिका जैसे देश की कुल आबादी भी नहीं है। उन्होंने भारत की युवा शक्ति का जिक्र करते हुए कहा कि यदि अमेरिका की टॉप नौकरियों में भारत के प्रतिभाशाली लोगों को अलग किया जाए तो अमेरिका विकास के मामले में निम्न स्तर पर पहुंच जाएगा। इससे पता चलता है कि भारत की सर्वश्रेष्ठ युवा शक्ति दुनियाभर के देशों के लिए कितनी महत्वपूर्ण है।

उन्होंने कहा कि मानव संसाधन विकास मंत्रालय ज्ञान, विज्ञान और अनुसंधान को आगे बढ़ा रहा है। इस मौके पर उच्च शिक्षा राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) डॉ. धन सिंह रावत, एआइसीटीई के चैयरमैन प्रो. अनिल डी सहस्रबुद्धे, ग्राफिक ईरा ग्रुप के प्रबंध निदेशक प्रो. कमल घनशाला आदि मौजूद रहे।

आर्थिक महाशक्ति बनने में एमएचआरडी अहम

रमेश पोखरियाल निशंक ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने वर्ष 2024 तक देश की आर्थिकी पांच ट्रिलियन डॉलर करने का जो लक्ष्य निर्धारित किया है उनका रास्ता मानव संसाधन विकास मंत्रालय से ही होकर गुजरता है। यानि भारत को आर्थिक महाशक्ति बनने में एमएचआरडी की भूमिका अहम है, क्योंकि देश की शिक्षा को उद्यमिता से जोड़ा जा रहा है साथ ही शिक्षा व उद्योग जगत के गठजोड़ से देश में आर्थिक विकास के नये अवसर पैदा हो रहे हैं।

‘निष्ठा’ योजना से जुडे 42 लाख शिक्षक

मानव संसाधन विकास मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक ने कहा कि निष्ठा योजना के तहत प्रदेशभर के 42 लाख स्कूली शिक्षकों को प्रशिक्षण दिया जा रहा है जो रिकार्ड है। कहा कि देश में एक हजार विवि, 45 हजार डिग्री कॉलेज के अलावा आइआइएम, आइआइटी, एनआइटी, ट्रिपल आइटी भी शामिल हैं।

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.

Post source : agency

Related posts

error: Be Positive Be United
%d bloggers like this: